अष्टमी नवरात्री भजन | चाली चाली रे भवानी सुनकर देवों की पुकार | Annu Sharma | Navratri Bhajan - instathreads

अष्टमी नवरात्री भजन | चाली चाली रे भवानी सुनकर देवों की पुकार | Annu Sharma | Navratri Bhajan

[संगीत]

[प्रशंसा]

[संगीत]

[प्रशंसा]

बोलिए काली मैया की

सच्चे दरबार की

[संगीत]

चली रे भवानी

चली भवानी

चली रे भवानी सुन

कर पी

उकार

चांदी रन में आई हो कैसी हो सवेरे

सालों ने स्वर्ग को गिरना देवों को भरोसा

मत रो

ने स्वर्ग को गिरा था देवों को भरोसा मत

राधा दिल से नाम तेरा गया मिलकर

नाम की लगाया मिल के कारी थी दुआ बैंक

काली रन में आई होप सिंह पे स्वर

[संगीत]

भैरवी और बजरंगबली

में जोश भारत और बजरंगबली

के मैया की जय जय

मैया जय जय पवन के छठी रन में आई हो कैसे

सवेरे चंडीगढ़ में आई हूं मैं स्वर

दिया

संघर्ष

बन के चांदीराना में आई होप सिंह पे स्वर

चंडीगढ़ में आई हूं पे स्वर

[प्रशंसा]

आई

मां अनु ने भी शीश झुकाया जा के मैया के

दरबार मां

के काली रंग में आई हूं मैं स्वर चली चली

रे

सुन के देवों की पुकार चली रे बाबा की सुन

के देवों की पुकार के चांदी रन में आई हो

पी बन के चांदी रन में आई हूं कैसी तू

पैसा बार बन के रन में आई हूं कैसी

Leave a Comment