आज तुम्हे हम माँ काली की कथा सुनाते हैं | Maa Kali Gatha | Ds Pal | Kali Ma Bhajan Katha - instathreads

आज तुम्हे हम माँ काली की कथा सुनाते हैं | Maa Kali Gatha | Ds Pal | Kali Ma Bhajan Katha

झाल का ब्लुटूथ

[संगीत]

आज तुम्हें हम ताली की कथा सुनाते हैं

पावन कथा सुनाते हैं जिसके नाम से

बड़े-बड़े बानो घबराते हैं हम कथा सुनाते

हैं आज तुम्हें हमारी काली की कथा सुनाते हैं

पावन कथा सुनाते हैं जिसके नाम से बड़े-बड़े दानो घबराते हैं

हम कथा सुनाते हैं

श्रुति बीडी बनाए झाल है तेरे हजार

हाउ टो ब्रीड युक्तियां

[संगीत]

कर दो कि

टिप्स तुम भि निशुंभ कि जब बढ़ गया था धरा पे अत्याचार

छीन लिया सिंहासन उनसे इंद्रदेव

गदहा कोई एकत्रित सभी देवाय ब्रह्मा के

पास करो पैसा के हु इन दत्त व कैश ना बोले

ब्रह्म जगदंबा में ही है ऐसी अश्लील मां

भवानी की सब मिलकर कर लो तुम भक्ति सब

देवों ने ब्रह्माजी की ली है बातें मान

आदि शक्ति जगदंबा में काम करने लगे वह श्याम

टुब्रो फिर देख देवों को मुस्कुराते हैं पावन कथा सुनाते हैं जिसके

के नाम से बने बड़े स्तनों घबराते हैं हम

कथा सुनाते हैं हम जरा

कि सूजी के रिबन मैं तेरे हज

झाल टुबिडी बनाएगी

झाल संयुक्त MP

संयुक्त कि अ

[संगीत] झाल एक बेवफा की पीड़ा हरने फिर मां डोराई

कौशिक की नाम सुंदर कन्या फिर है मां ने बनाई जाएंगी हिमालय फिर तो कौशिक बैठी

ध्यान लगाए चंद-मुंड नामक दानव फिर वहां पहले आए हैं

ऐसी सुंदर कन्या उन्होंने देखी नहीं कभी

आंसू जी सुंग निशुंभ को सारी बात बताई

संभोग कहने लगे तुम गांव से कन्या को हम

हर लाइए फिर ये अर्द्धांगिन यू से निशुंभ कि हम तो बनाएंगे

देखकर यह संदेश एग ब्लुटूथ रहते हैं पावन

कथा सुनाते हैं जिसके नाम से बड़े-बड़े दानव गढ़ हैं

कम तथा सुनाते हैं और

हाउ टो बे गिवन यह तेरे हजारों ना तू बिगड़ी बना रहेगा

MP MP

संयुक्त कि अ

MP और कुछ बोलिए माताओं ने हमें शेवरले जाएगा

उसे भरूंगी जो भारतीय मुझे हर आएगा का यह

दूध जाकर कुंभ को सुना दिया संदेश शंकर को

क्रोध से भर गए दोनों आया पावणा वे बोले चंड मुंड से उस कन्या को पकड़कर

लाओ हम को ललकारा जिसने उसको काट दिखाओ

चंद मुद्दे अपनी से बढ़ाए हिमालय पर्वत

देखा के एक शिला पर बैठ कन्या करती महत्वपूर्ण है आधी तरीकों पहचान न पाते

हैं पावन कथा सुनाते हैं जिसके नाम से बड़े

अपने प्राणों घबराते हैं तुम कथा सुनाते हैं

क्योंकि बना तेरे

ए स्पेसिफिक

[संगीत]

टिप्स देख के उनको है माता ने चंडी रूप

बनाया हुआ था तिलक बन गया पेज दो विधेयकों

पर गुर्राया टूट पड़ी सड़कों पर फिर तो

मां शेरों वाली एक सकती निकली फिर भक्तों से नाम पड़ा

कहानी चंडी काली काटे कर धनसिंह छाती फारे हर

लगे का अपने दानो इधर-उधर भागे ईंधन

खर्च फिर माता ने कर दिया था संग हार बच्चे को विदेशों में मच गई फिर तो

हाहाकार जानते शुंभ निशुंभ को सारी बात बताते हैं

पावन कथा सुनाते हैं जिसके नाम से

बड़े-बड़े दानो घबराते हैं हम कथा सुनाते

हैं चारों कि सूजी बनाए हैं कायम है तेरे हजारों ना

तू बिगड़ी बनाएगा लुट

MP में नियुक्त किए हैं

MP को चलाने सुंदर है फिर को ताकत मिली लेकर से

ना भारी लेकिन दानों से ना भी गई मां के

हाथों मारी ईएस फिरने सुकुमारता ने तो है

पर लॉक पठाया फिर तो शुंभ क्लिक करते ना

युद्धभूमि में हुआ था कि शक्कर शरीर को वह

तो जान न पाया था खुद अपने ही हाथों अपना

ताल बुलाया था रक्तबीज फिर युद्ध करने को मां के सामने

हुआ था उसका उत्तर भी माता ने है ड्रॉप्ड

गिराया आर्थर उसके लहू से रक्तबीज फिर कई

बन जाते हैं पावन कथा सुनाते देते हैं जिसके नाम से बड़े

इन राइनो घबराते हैं तुम कथा सुनाते हैं

ना तु विजिबल तेरे हजार

ए स्टूपिड कि

तुम [संगीत] तुम तुम

चित्तौड़ यह तुम हो

[संगीत] संयुक्त रत्न बीच कुल हूं जहां भी ड्रॉप

गिरता जाए हर एक बूंद से उसकी एक प्रोडक्ट

बीज बन जाए देखा जो सब देवों ने वह बड़े ही घबराए

लेकिन ये अपनी अपनी सर्जरी मां के पास हाय

बोले चंडी काली से यह ना कब हुआ ए का या

इसके लाभों से रक्तबीज नहीं बनता जाएगा का या ना गिरने देना तुम्हें इसके लहू की

बूंद जमशेद बढ़ाते अपनी जिव्या को पहला दो

युधिष्ठिर भूमि में कर लो रखे पान सबका जो

सामने आते हैं पावन कथा सुनाते हैं जिसके

नाम से बड़े शैतानो घबराते हैं हम कथा सुनाते हैं

कि सूजी के लिए बनाई कायम है तेरे हजारों

श्रुति गिरी झाल

युक्त कि चित्तौड़

यह प्रस्तुति तो

फिर से बनाया कार का ईधन रूप बना विकराल

फूल गया तीसरा ने विरोध से आंखें हो गई लाल अपने दिव्य माने

युद्धभूमि में दिव्य लीलाएं चंडी काटे तरकार्ली रक्त पानी है करती जाए तुम्हें

काली के विरुद्ध कोई ठिकाना नहीं रहा हां

ना गिरने दिया रक्त जमीं पे तारा आसमान पिया

जितने भी मैदानों का तो देहांत हुआ था

लेकिन काली मां का क्रोध फिर भी बिना दांत हुआ था कि के रूप विकराल देव सब डर है

जाते हैं पावन कथा सुनाते हैं जिसके नाम

यह बड़े-बड़े दानों घबराते हैं हम कथा सुनाते हैं

कुना टो बे गिवन तेरे यहां

रूबी किड्स कि तुम

[संगीत]

संयुक्त कि प्रॉब्लम है

मां को देख कर काली मसाला सभी ने घबराए

लगे सोचने क्रोधी मां का तांत्रिक ऑन कर पाए

गोमेज ब्रह्मा तू भोले ही यह कर पाएंगे इस

होए एकत्रित हम सब भोले जी को मनाएंगे इन

सब देवों ने आकर भोले से कि है विनती

भोले नाथ ने अपने मन में सोची है उन धो

लें टकरा हम काली मां के करने लगे इस बीच टकराव तब धो लें कि देश है पड़ गया काली

मां का पांव तहत किसी ने प्रोड्यूस फिर तोता शांत हो जाते हैं पावन कथा सुना पिएं

है जिसके नाम से बड़े बड़े स्तनों खबर कहते हैं कम पता सुनाते हैं

ना तो बिगड़ी बना तेरे अ

रूबी किड्स ब्लुटूथ

[संगीत] तुरंत कि

युक्त [संगीत]

टिप्स सारे ही दैत्यों का वध तो हो गया

अपना संग हार कंकाली माता दी सभी देवता

बोले जड़ें का या दुश्मनों कमाकर अनुसार

काली बनकर आई मिट गई सारी विपदा जो दावों

पर हथियाई कर दुष्टों का नाश प्रतिरक्षा भक्तों की

करती है मां काली का नाम तो सारी दुनिया

समझती है तुम मत डर जाना देख माता रुख है

यह बिखरा संसाधनों से शीश झुकाता है मंडे

यशपाल जी सुरेश उपर कृपा जो महिमा लिख पाते हैं पावन कथा सुना देते हैं जिसके

नाम से बड़े बड़े स्तनों घबराते हैं हम

कथा सुनाते हैं मैं तेरे हजारों ना प्रति

बनाएं ना पहले हुआ था तू बिगड़ बनाए डिफ़ाल्ट हम

लुटब उन्नति पवन क थापना मीडिया है मां जगतजननी

सब फिर उपभोक्ताओं को आते हैं हम कथा

सुनाते हैं दुर्गा की नौ

कथा सुनाते हैं पावन कथा सुना है जून के

रूप में उभरे हैं हम कथा सुनाते हैं

लुट लुट [संगीत]

मैं तुम को

तुरंत कि

[संगीत]

पहला मुद्गल धूप भोजपुरिका

हैं पर्वतराज हिमालय के घर जन्म इन्होंने लिया हुआ था तिलक उक्ति होने से जमशेदपुर

प्रणाम इनका वंदन करने से बनते हैं गैस का

या दुर्लभ के रूप में माता-पिता प्रिय है यह

सवार शैलपुत्री माता टिकती भक्तों पे हु

दाहिने हाथ में त्रिशूल और बाएं हाथ में कमल का फूल अपने भक्तों

टिकती है समाप्त गर्भ को पहले नोडल

मदन लगा रहे हैं मसलन लगा रे है जून के

सभी रूप वर्क करते हैं कथा सुना दो

संयुक्त तु

[संगीत] हो [संगीत]

तुम तुम [संगीत] तुम तुम

हुआ था कर दो

को टिप्स शक्तियों स्वरूप तु मा दुर्गा सक्षम

विचारणीय है अपनी मस्ती रुख सभ को

पाकिस्तान आर्मी है त्यौहार में जप्त किया

चित्तौड़ मंडल धुंध पीके शीघ्र मुक्ति मंडल धैय हजारों मर

सख्य नत्थू शंकर का या प्रॉब्लम है हाजी नीला करके दिया इन्हें

उमर धुनें ऐसी घोर तपस्या आज तक नहीं किसी

ने कुंआ ब्रह्माजी ने ब्रह्मचारिणी नार्मदीय है तबी

दूसरे नवरात्रि में विशेष रूप को धीमे है

फिर उसको धोया अच्छी तो है मजनुओं की

प्रॉब्लम आती है हम कथा सुनाते हैं

लुट झाल MP

संयुक्त कि [संगीत]

टिप्स चंद्रग्रहण कथित तौर पर पूजन मटीरियल धूप चंद्र मुकेश कुशवाहा

तक भ्रमण बजाओ

नियुक्त स्त्री और पुरुष भी

भक्त कि

वसुंधर समाधि है चंद्रघंटा स्वरूप

मंदसौर आईईए है हेलो व्युअर्स मुर्गा घड़ी है हरदम तैयार हुआ था प्रशिक्षुओं का

सताए ओ करती है संयुक्त तीसरे नवरात्र में सब जयकारे

लगाते हैं अब जैक जनरल करें है

जुनैद सभी रूप भक्तों को प्यार है हम कथा

सुना दो

झाल [संगीत]

झाला [संगीत]

सहित कि

[संगीत]

कुष्मांडा माता पूछते भक्त चौहान उन्हें दिल धुम भक्तों

की बुझाते मानव जाति भजन इन्हीं कि फिल्म लुटेरा श्रवण

इसीलिए तो बड़ा महंगा मां कुष्मांडा प्रणाम इनकी पूजा से हो जाते रोग तो

श्रुति भक्त सदा ही रहते जॉइन उस व्यक्ति

चिउड़ा सूर्य मंडल के भीतर करती मां कूष्मांडा

प्रॉब्लम सॉल्व दिशाओं में पहला हैं ना कहीं पर काम न मागउं देश धुंध मत कि हो

जाते हैं कि हो जाते हैं जून उन सभी रूप भक्तों को मरते हैं तुम

पता ना रे ना

[संगीत] ब्लुटूथ

[संगीत] तुरंत

कि अ [संगीत] ए

स्पेसिफिक मीडियम माता के नाम लेते हैं माता का पांचवा

रोज संभोग हुए द्वारा इंप्रूव

वक्त कि क्वेश्चन नहीं कि बंद करो

पेशी लिए तो इनका पड़ा संदिग्ध महिला ना

भगवान कार्तिकेय गोद में बैठे रहते हैं

मांसभक्षी लायन है यह सारे कहते हैं कमल पुष्प के माता विराज लूटकर बदमाश

अनुसार अश्वगंधा माता का रूप बड़ा ही लगता मन भावन इन के भ्रमों से मुक्त किया जा

रहे हैं विराजे रे है मा जून के सभी रूप भक्तों को

मरते हैं हम कथा सुनाते हैं है

[संगीत] संयुक्त

कि उक्त

कि अ लुट

वैज्ञानिकों के अनुसार चांद सूरज हुए दिल

धैर्य ने कृषि हुए स्नेप किया पशुओं का

आतंक के घर में कुछ बनके तुम फालतू बात

कि जगदंबे की तुम्हारे ऊपर हमेशा दुर्घटना बड़े

[संगीत] रूप में नियुक्त किया है मां

का रूप धारण करता है दुश्मनों पसंद सुहार भक्त तेरी जो शरण या नहीं हो जाता

अवधारणा सुनकर नमक दुर्जन टिक नहीं पा रही

है तुरंत कि है पति हैं इन थे सब मित्रों

को वक्त किए हैं हम कथा सुना दो

तु तु तु तु तु तु तु

तु [संगीत]

प्रॉब्लम फ्री मोड चालू यहां तक कि रहा है माता के अंग

तमाम अटकलें कुंठित हम पिछड़े हुए

उन दुष्ट जनता बनकर यही है मदद क्लिक आया

लेकिन अपने भक्तों कि युवा [संगीत]

झाला पूजा कि तनु

उत्तर प्रदेश [संगीत]

प्रॉब्लम टमाटर जाती है बंद तो की माता महज दो

एंग्री बर्ड्स जॉइन कोट दुश्मन से ना कब्र आ रहे हैं

अपना मैडम रॉय जो है मजनुओं के सभी रूप भक्तों को मानते हैं हम

कथा सुनाते हैं तो

[संगीत]

[संगीत] आज तक युक्त

कि [संगीत]

महेश भूपति के मुकुंद शेयर्ड उबले हुए प्रति

सच्चे मन से जो भोजन करते हैं नहीं व्यक्ति

रुद्धोष्म को उन मुद्दों पर बात न किए हैं

सब पूछते हैं ना कि हम जाते हैं

पे क्लिक करें

सब्सक्राइब करें माना रखती है भी

सबूत कि को करने चाहिए महागौरी की पूजा

मुखमंडल घृत कि लें कान है Tubelight

अश्विन को सबस्क्राइब आपको ध्यान रहे हैं इन तस्वीरों को धीमे

है अजय जननी के सभी रूप भक्तों को मानते

हैं तुम प्रथा सुनाते हैं तो

की प्रॉब्लम है

संयुक्त कि [संगीत]

पिंक कछुए अछि तखन का या अपने सब भक्तों की माला करती

नहीं हुआ था समुद्र पर रहती है मां का यदि

इनकी पूजा करने से कोई दुखी सहमति

शो मोर पूजे जाते माता

कि हम मिट्टी प्यार रहेगा वैज्ञानिक अधिराज लूप ज्ञान की लुट

कर दिया मगर तो हम आज बगदाणा पीछे असफल

कुछ भी नहीं है दिया आपने गांव में पहुंचे

सुरेश भूल हुई सुक्ष्ममापी चेहरे हैं

मांसी चाहते हैं जून के सभी रूप भक्तों को

मत है कम कथा सुना है है

[संगीत]

Leave a Comment