एक महिला सीएम के राज्य में ये सब हो गया और मुख्यमंत्री ने क्या किया ? - instathreads

एक महिला सीएम के राज्य में ये सब हो गया और मुख्यमंत्री ने क्या किया ?

खबर सिहरन पैदा करने वाली है रोंगटे खड़े
कर देती है ऐसा आतंक था शेख शाहजहां का वो
गांव में जाता था घर के सामने खड़े हो
जाता था और चिल्लाता था बाहर आओ मैं
तुम्हारे साथ दुष्कर्म करूंगा वह घर-घर

जाता था सुंदर लड़कियों को अगवा करता था
रात भर अपने पास रखता था और सुबह वापस
करके जाता था वो गरीब लोगों की जमीनों पर
कब्जा करता
और आप जानते हैं सब कहां हो रहा है यह सब
हो रहा है एक महिला मुख्यमंत्री के राज्य

पश्चिम बंगाल के 24 परगना के संदेश खाली
में मेमन राइट्स एक्टिविस्ट योगिता भयाना
के ट्विटर हैंडल से मुझे इस खबर के बारे
में पता चला और अब खबर इस कदर बड़ी हो गई
है कि महिला और बाल विकास कल्याण मंत्री

स्मृति ईरानी सामने उभर कर आई हैं चलिए
मामला विपक्ष के राज्य का है इसी बहाने व
साम ने आई मगर मुझे खुशी है कि आखिरकार
स्मृति रानी अपना कर्तव्य निभा रही हैं
बहुत शॉकिंग खबर है दोस्तों टेलीग्राफ की
इस खबर के मुताबिक ममता बैनर्जी ये दावा
कर रही है कि संदेश खाली में तमाम जो

गुनाहगार हैं उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया
है मैं सवाल पूछना चाहता हूं वह शाहजहां
जो ये तमाम अत्याचार कर रहा था वह कहां है
वो भगौड़ा कौन है आखिर उस शाहजहां को किस
औरंगजेब की शह मिल रही है
यह शाहजहां बगैर किसी डर के यह सब कैसे कर

रहा
था मैं आपको बतलाना चाहता हूं दोस्तों वमस
राइट्स एक्टिविस्ट योगिता भयाना ने क्या
ट्वीट किया था वह आपके स्क्रीन पर है
उन्होंने
कहा बाहर आओ हम तुम्हारे साथ सामूहिक
दुष्कर्म करेंगे भीड़ उसके गेट के पार
उसका हाथ खींचते हुए चिल्लाई वो भी महिला

के पति और वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की मौज
मूदगी में पश्चिम बंगाल 24 परगना की यह
संदेश खाली है जहां गुंडा शाहजहां शेख का
राज चलता है उसके गुंडे महिलाओं को उठाते
हैं रात भर उनके साथ बलात्कार करके मन

भरने पर सुबह छोड़ देते हैं मैं आपको एक
छोटी सी झलक दिखाना चाहता हूं रिपब्लिक
बांगला के जिसमें पीड़ित महिलाओं का
इंटरव्यू किया गया है जिसका जिक्र योगिता
भयाना ने अपने ट्वीट में किया है सुनते
हैं सिहर पैदा करने वाली य

आवाज े ब बाब और बा
सामने च ी
हि बड़ा सवाल आखिर कौन है शाहजहा शेख एनडी
टीवी के मुताबिक शेख शाहजहां टीएमसी के
नेता है पिछले महीने जब जब इंफोर्समेंट
डायरेक्टरेट की टीम उनके आवाज पर छापेमारी
के लिए पहुंची थी तो उनके समर्थकों ने

अधिकारियों पर हमला कर दिया था इस घटना का
कथित मास्टरमाइंड तृणमूल कांग्रेस नेता
शाहजहां शेख को माना जाता है ईडी के
अधिकारी राशन वितरण घोटाले की जांच के
मामले में शेख के घर पहुंचे थे इस घटना के

लगभग एक महीने बाद दर्जनों महिलाओं ने
मीडिया के सामने आकर शाहजहां शेख के खिलाफ
कई गंभीर आरोप लगाए हैं जिसके बाद से एक
बार फिर यह मामला तूल पकड़ता जा रहा है आज
मैं ममता बनर्जी से सवाल पूछना चाहता हूं

आप एक महिला हैं आपकी पार्टी में महिला
सांसदों की कमी नहीं है बावजूद उसके यह सब
हो रहा है आप जानते हैं यहां पर सवाल क्या
उठता है जब एक ही पॉलिटिकल पार्टी के हाथ
में वक्त से ज्यादा सत्ता रह जाती है ना
तब इसी तरह की ज्यादति हों की खबरें आती

हैं याद कीजिएगा दोस्तों ममता बैनर्जी से
पहले जब वामपंथियों की सरकार थी तब भी
वामपंथियों की ज्यादति हों की ऐसी खबरें
आती थी सीपीएम और सीपीआई ने जो गुंडे पाले
हुए थे इसी तरह का अत्याचार करते थे अब

ममता बैनर्जी के राज में भी यही खबरें आ
रही हैं मैं समझना चाहता हूं क्यों ममता
बैनर्जी ने चुप्पी तोड़ दी है वो कह रही
है गिरफ्तारियां हो गई हैं मगर बड़ा सवाल
यह कि उस शाहजा में ये हिम्मत कैसे आ गई

कि वो बेकसूर गांव वालों हमारी माताओं
बहनों के साथ यह सब कर रहा था इस मुद्दे
पर महिला और बाल विकास कल्याण मंत्री
स्मृति रानी ने क्या कहा है आइए सुनते हैं
जो संदेश खाली की
दलित

जनजातीय मच्छीमार समाज और किसान परिवार की
महिलाओं ने मीडिया के वहां पर लोकली
पत्रकारों से गुहार लगाते हुए
कहा
आज इन महिलाओं के अगर वक्तव्य को आप
बांगला में

सुने तो उनका यह कहना है कि विशेष रूप से
हिंदू परिवारों में आकर महिलाओं को टीएमसी
के गुंडे चिन्हित करके
जाते जो वहां का
प्रमुख ममता बंदोपाध्याय का प्रतिनिधि
है उसका नाम है शेख

शाहजहां अब
तक शेख शाहजहां के बारे में मीडिया में यह
प्रश्न होता था कि यह शेख शाहजहां कौन
है मीडिया के बंधुओं से कहना चाहती हूं कि
शेख शाहजहां का नाम आपने तब सुना होगा जब

संदेश खाली में ईडी के अफसर गए तो 1000
गुंडों ने उन अफसरों पर पत्थरबाजी की और
ईडी को विवश होकर एक स्टेटमेंट देना पड़ा
कि उनके तीन अफसरों पर जानलेवा हमला किया
गया यह वह शेख शाहजहां है अब तक लोग पूछ
रहे थे शेख शाहजहां कौन है आज प्रश्न उठता

है ममता बंधोपाध्याय शेख शाहजहां कहां
है यह ग्रामीण अंचल की औरत
हैं जो
अपने लोकल मीडिया से बात करने बांगला में
निकली
थी वर्तमान में सेक्शन 144 उनके क्षेत्र
में लगा दिया गया है ताकि इन औरतों का

जमावड़ा रोका जा सके आज मैं मीडिया के हर
व्यक्ति से अपील करती हूं उनकी भाषा किसी
को समझ ना आए लेकिन मैंने यहां पर जो
अनुवाद किया है
आपको उनका
आक्रोश उनके हालात समझ आए होंगे

निश्चित हिंदू नरसंहार
पर सौदा कर ममता बंदोपाध्याय
अपना सत्ता का साम्राज्य चला रही तो हम सब
जानते
हैं घर-घर
जाकर ममता के
गुंडे अब छोटी उम्र के हिंदू परिवार की
बहुओं को उठवा करर उनका बलात्कार हो रहा
है और विरोध प्रदर्शन के बाद हरकत में आई

टीएमसी बढ़ते जनाक्रोश के जवाब में तृणमूल
कांग्रेस ने घोषणा की कि वरिष्ठ नेता
पार्थ भौमिक के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि
मंडल मंगलवार दोपहर को स्थिति का आकलन
करने के लिए संदेश खाली का दौरा करेगा

पिछले महीने शेख शाहजहां के घर छापा मारने
गए ईडी के दल पर हमले के बाद से संदेश
खाली इलाका चर्चा में है स्थानीय तृणमूल
नेताओं के निलंबन के बावजूद स्थानीय

नेताओं के अत्याचारों को लेकर निवासियों
में असंतोष बना हुआ है एक बात स्पष्ट कर
दूं दोस्तों मैं महिलाओं की अस्मिता पर
राजनीति नहीं हो होनी चाहिए मगर जहां पर
महिलाओं के साथ ज्यादती हो रही है

अत्याचार हो रहा है उनका अपमान हो रहा है
चाहे वह कोई भी राज्य हो हर इंसान को
राजनीति से ऊपर उठकर उसकी आलोचना करनी
चाहिए जो पश्चिम बंगाल के 24 परगना के
संदेश खाली में हुआ है वह शर्मनाक

है मैं उम्मीद करता हूं कि प्रियंका गांधी
वाडरा चुप्पी तोड़ेगी मैं उम्मीद करता हूं
राहुल गांधी चुप्पी तोड़ेंगे मैं उम्मीद
करता हूं अखिलेश यादव तेजस्वी यादव ये
तमाम लोग इस मुद्दे पर अपनी चुप्पी

तोड़ेंगे और इसकी कड़े शब्दों में आलोचना
करेंगे मैं उम्मीद करता हूं कि
केजरीवाल कुछ
कहेंगे क्योंकि यह सोच के परे है जो काम
शाहजा कथित तौर पर कर रहा था ऐसा तो

फिल्मों में होता है ना फिल्मों में होता
है ना जब कोई गुंडा गरीबों की बस्ती में
घूमता है किसी भी घर में घुस जाता है और
औरतों को उठाकर उनके साथ दुष्कर्म करता
है यह सब हो रहा है जिससे पता चलता है कि

पश्चिम बंगाल में गवर्नेंस की आखिर क्या
हकीकत है पश्चिम बंगाल के 24 परगना का
संदेश खाली किसी जमीन में दफ नहीं है किसी
गली कूचे में गुम नहीं है यह बाकायदा इसी
जमीन के ऊपर है और यहां पर यह अत्याचार हो
रहा

था मैं उम्मीद करता हूं कि शाहज पर कड़ी
से कड़ी कार्रवाई होगी ताकि आने वाले
दिनों में ऐसा शाहजहां कभी भी उठ ना सके
और ऐसा अत्याचार ना कर सके अभिसार शर्मा
को दीजिए इजाजत

नमस्कार स्वतंत्र और आजाद पत्रकारिता का
समर्थन कीजिए सच में मेरा साथी बनिए बहुत
आसान है दोस्तों इस जॉइन बटन को दबाइए और
आपके सामने आएंगे ये तीन विकल्प इनमें से
एक चुनिए और सच के इस सफर में मेरा साथी
बनी

Leave a Comment