कैसे इस किताब को पढ़ने वाला उतर जाता है मौत के घाट ? | Mystery Of The Devil's Bible | - instathreads

कैसे इस किताब को पढ़ने वाला उतर जाता है मौत के घाट ? | Mystery Of The Devil’s Bible |

साल
1697 शुक्रवार का दिन था जब देखते देखते
एकदम से स्टॉकहोम में बने एक शाही महल में
आग लग जाती है यह आग इतनी भयानक थी कि
इसमें राजा रानी राजकुमारी और प्रिंस
चार्ल्स के साथ 11 की मौत हो गई और बताया

जाता है कि आधे घंटे में ही पूरा महल जलकर
खाक में मिल गया इस महल में एक लाइब्रेरी
थी जहां काफी किताबें रखी गई थी लेकिन इस
एक्सीडेंट में एक चीज जो बिल्कुल अजीब थी

वो यह कि जब इस महल में आग लगी तो यहां
मौजूद लाइब्रेरियन इसकी लाइब्रेरी में आग
के पहुंचने से पहले ही काफी किताबों को
हेल्पर्स की मदद से सेफली महल से बाहर
फेंक देता है और इन्हीं किताब में से भी

वह शैतानी किताब जिसे खुद शैतान ने लिखा
था और यह किताब किसी पत्ते या कागज पर
नहीं लिखी गई है बल्कि इसके लिए स्किन
यानी चमड़े का यूज किया गया है और व चमड़ा
किसका था क्या था इस किताब का नाम कैसे
सिर्फ एक रात में लिख दी गई यह पूरी
मिस्टीरियस बुक क्या सच में इस बुक की
हेल्प से फ्यूचर देखा जा सकता था क्या महल
में आग किसी शैतान ने लगाई थी और आग लगने
की वजह से यह किताब को क्या हुआ ऐसे सभी

सवालों के जवाब आपको इस वीडियो में जरूर
मिलेंगे लेकिन इस किताब की हर ताकत और
कमजोरी के बारे में जानने के लिए वीडियो
को एंड तक देखना बहुत जरूरी है क्योंकि
अगर आप इसका एक भी पहलू छोड़ देंगे तो आप

इस किताब के मे इन आईडिया से शायद दूर हो
जाए वयर इज दिस मिस्टीरियस बुक नाउ इंडिया
से 6435 किमी नॉर्थ वेस्ट में बसा यूरोप
इसका एक बहुत ही सुंदर देश स्वीडन यह देश
अपने वैराइटीज ऑफ फूड्स काफी पॉपुलर आइस
होटल्स और अपने यहां पर होने वाली कई

स्पेशल साइंस फिनोम की वजह से दुनिया भर
में फेमस है लेकिन पिछले कुछ समय से लोग
एक मिस्टीरियस बुक में बड़ा इंटरेस्ट ले
रहे हैं और शायद आपने भी इसके किताब का
नाम किसी वेबसाइट या
youtube’s बाइबल भी कहते हैं व स्वीडन की

ही एक लाइब्रेरी में है जी हां वही किताब
जिसे सिर्फ एक रात में लिख दिया गया था और
वह भी एक कोठरी के अंदर बैठकर और इस किताब
का नाम है कोडेक्स गिस हाउ वाज दिस बुक
रिटन लेकिन इस किताब को किसने और कैसे
हालातों में लिखा

वो सबसे बड़ी मिस्ट्री है दरअसल आज तक
जितना भी सुनने और पढ़ने में आया है तो सब
जनरली यही बताते हैं कि लगभग 13 सेंचुरी
की बात है जब बोहेमियन रूल में एक
मोनेस्ट्री हुआ करती थी जिसका नाम था

बेनेडिक्ट मोनेस्ट्री और इसी मोनेस्ट्री
में एक फेमस मंक हरमन था लेकिन हरमन दूसरे
मंक से हटकर था क्योंकि वह हमेशा शैतानी
हरकतें करता जिसकी वजह से उसने कई सारे
पाप और गलत काम भी किए उसके अंदर मंक वाली
कोई बात बात नहीं थी जिसके चलते उसने

मोनेस्ट्री के सारे रेगुलेशंस को तोड़
डाला लेकिन आखिर यह कब तक चलता क्योंकि
राजा तक जब यह बात जा पहुंची थी कि हरमन
नाम का एक मंक गलत हरकतें कर रहा है बस
फिर क्या था राजा ने उसे दोषी साबित कर
उसे जो सजा सुनाई वो उस समय की सबसे

खतरनाक सजाओ में से एक हुआ करती थी वो सजा
जो गुरु गोविंद सिंह के बेटों को दी गई थी
जी हां दीवार में चुनवा की सजा हरमन को
दीवार में चुना जाने लगा जैसे-जैसे दीवार
चुनी जा रही थी वैसे-वैसे हरमन का शैतानी

दिमाग भी काम कर रहा था और एकदम से वह
राजा को बुलाता है और कहता है कि मैं आपको
एक ऐसी मिस्टीरियस बुक लिखकर दे सकता हूं
जिसमें दुनिया भर का ज्ञान है जो आपको

सबसे ज्यादा ताकतवर बना सकती है और शायद
वह आपको आपका फ्यूचर भी दिखा दे फिर वह
राजा भी हरमन की इस बात को मान जाता है और
उसने हरमन से पूछा तुम्हें कितना वक्त
चाहिए तो हरमन ने जो जवाब दिया उससे चाचा

परेशान हो गए दरअसल हरमन ने किताब को
लिखने के लिए सिर्फ एक रात मांगी थी जी
हां सिर्फ एक रात और यहीं से शुरू होती है
शैतानी रात में लिखी गई उस किताब की

दुनिया हरमन को वह सब दिया जाता है जो उसे
किताब लिखने के लिए जरूरी था हरमन लिखना
शुरू करता है एक पेज दो पेज तीन पेज लेकिन
जैसे-जैसे वह लिखता है उसे थकावट होने
लगती है और वह यह बात बहुत जल्दी समझ जाता

है कि उसे अब इसके किताब को लिखने के लिए
शैतान को बुलाना ही पड़ेगा क्योंकि उसके
बिना वह इस किताब को लिख ही नहीं सकता
लेकिन उस रात शैतान से किताब लिखवाने के
बदले जो चीज हर मन के पास थी व थी उसकी

आत्मा और इतना ही नहीं जब शैतान ने मंक के
रूप में वह किताब लिखी थी उस किताब के एक
पेज पर शैतान यानी डेविल को बनाकर उसे
डेडिकेट भी किया गया तो इस तरह इस किताब

को एक डेविल ने लिखा अगले दिन जब हरमन वो
किताब राज को देता है तो राजा हैरान हो
जाता है और हरमन को बाद के अनुसार छोड़
देता है क्या है इस किताब में ऐसा जो लोग

इसे शैतान की बाइबल के नाम से जानते हैं
थोड़ा किताब को देखते हैं इस किताब के
बारे में दोस्तों बहुत कुछ ऐसा है जिससे
आर्कियोलॉजिस्ट आज तक परेशान है उनके लिए
किताब गिसा के पिरामिड के रहस्यों से ही

मिस्टीरियस है क्योंकि यह आम किताबों से
बिल्कुल अलग है इस किताब में कुल 310
पन्ने हैं और यह पेजेस पत्ते या पेपर के

नहीं है बल्कि कई अलग-अलग जानवर के चमड़े
यानी कि उनकी खालों से बने हैं हालांकि
इसके ऊपर आज भी बहस होती है कि यह एक
जानवर की चमड़ी से बने हैं या फिर अलग-अलग

कहते हैं कि इस किताब को लिखने के लिए 160
गधों की चरबी का इस्तेमाल किया गया और
उनकी चमड़ी पर यह किताब लिखी गई इतना ही
नहीं यह किताब 36 इंच लंबी है 23 इंच
चौड़ी भी है और इसका वजन लगभग 75 किलो है

जिसे अकेला इंसान यकीनन नहीं उठा सकता इसे
मेटल के ऑर्ट से कवर और चमड़े से ही
बाइंडी किया गया है जब आप किताब खोलेंगे
तो आप हैरान हो जाएंगे क्योंकि सच में यह

किताब एक रात में लिखना इंपॉसिबल है और
जबकि उस जमाने में तो आज की तरह के फैंसी
पेन पेंसिल्स भी नहीं हुआ करती थी और तो
और आज के जमाने में भी अगर ऐसे किताब को
लिखा जाए तो 10 साल तो शायद हमारे

अकॉर्डिंग लग जाए क्योंकि इसका हर पेज
अपने आप में एक मिस्ट्री है बताया जाता है
कि इसमें दुनिया का हर वो ज्ञान है जो
किसी भी आम इंसान के लिए जरूरी है और
ब्लैक मैट्रिक स्पेल से लेकर एक्सोर्स जम

तक और एस्ट्रोनॉमी से लेकर स्पेशल कैलेंडर
तक इस बुक में लैटिन भाषा में लिखा हुआ है
इस बुक में जो सबसे अनयूजुअल और परेशान
करने वाली चीज है दोस्तों वो है उस शैतान
की पिक्चर जो इस किताब में 290 पेज नंबर

पर है और इसमें डेविल को कलर भी किया गया
है यह कुछ-कुछ वैसे ही लगता है जैसे ओटीटी
सीरीज असुर का मास बनाया गया था लेकिन अगर
आप ध्यान से इस पेज को देखोगे तो आप लेफ्ट
पेज पर देखेंगे कि वहां भी आपको एक

प्रेजेंटेशन दिखाई देगी जो स्वर्ग के बारे
में बताती है और यही इस बुक को सराइज भी
करती है क्योंकि इन दो पेजेस का एक साथ
होना और बीच में बुक का डिवीजन यह दिखाता
है कि आपको जिंदगी में हमेशा सही और गलत

में से एक को चुनना ही होता है और फिर वही
आपकी डेस्टिनी और फ्यूचर को डिसाइड करता
है इस बुक के हर पेज पर जो भी लिखा हुआ है
और बना हुआ है वो इतना साफ और क्लियर है

कि कोई भी इसे पढ़ और देख सकता है लेकिन
पूरी बुक को देखने के बाद दो तरह की
कंक्लूजन निकल कर सामने आते हैं पहला यह
कि जिस तरह से इसे लिखा गया है यह दिखाता
है कि किसी एक ही इंसान ने लिखा है

क्योंकि शुरुआत से अंत तक ही एक तरह के
फॉन्ट स्पेसेस और स्टाइल को फॉलो किया गया
है और दूसरा यह कि इसे बहुत ही कम टाइम
में लिखा गया है उसके भी वही रीजन है कोई

अगर लंबे वक्त तक लिखे तो उसकी राइटिंग
स्टाइल में चेंज आना लाजमी है कई
हिस्टोरियंस का मानना है कि हो ही नहीं
सकता कि इस किताब को एक रात में लिखा गया

हो और उनका कहना है कि हरमन ने अपना दिमाग
किसी और तरह से लगाया होगा और यह उसकी 20
से 25 साल की मेहनत है जो उसने सबसे छुपा
कर रखी थी और जरूरत पड़ने पर इस्तेमाल की

लेकिन कई लोग कहते हैं कि नहीं यह उसने
शैतान की मदद से एक रात नहीं लिखी आइए अब
बात करते हैं दोस्तों इस किताब से जुड़े
कुछ कर्ज के बारे में दरअसल इस किताब के
बनने के 200 साल बाद यहीं कुछ 15 सेंचुरी

के शुरू होने से पहले बोहेमियन एंपायर में
एक फाइनेंशियल क्राइसिस आ गया और इसके बाद
इस कोडेक्स की गैस को ब्रेवोफ्लाई
उसकी डेथ हो गई लेकिन कोडेक्स अभी भी
जिंदा थी इसके बाद 1618 में दो धर्मों के

बीच 30 साल तक एक वॉर छिड़ जाता है जो
1648 तक चलता है लेकिन इस वॉर में भी
कोडेक्स गिगैस सरवाइव कर जाती है और
फाइनली वह वहीं पहुंचती है जहां वह आज है

यानी स्वीडन की खास लाइब्रेरी में लेकिन
अगर आप यह सोच रहे हैं कि कोडेक से जुड़ा
श्राप और कज खत्म हो गया है नहीं आप
बिल्कुल गलत हैं इसके बाद 1697 का वो
पीरियड आता है जब बहुत बड़ा इंसीडेंट होता

है 1697 शुक्रवार के दिन एकदम से स्टॉकहोम
में बने एक शाही महल में आग लग जाती है यह
आग इतनी भयानक थी कि इस महल में रहने वाला
राजा रानी राजकुमारी और प्रिंस चार्ल्स 11

की मौत हो जाती है और बताया जाता है कि
आधे घंटे में पूरा महल चलकर खाक में मिल
गया इस महल में एक लाइब्रेरी थी जहां काफी
किताबें रखी गई थी इस लाइब्रेरी में आग के

पहुंचने से पहले ही काफी किताबों को
हेल्पर्स की मदद से सेफली महल के बाहर
फेंक दिया और जैसे-तैसे इस किताब को बचा
लिया गया लेकिन बताया जाता है कि जब इस

किताब को बाहर फेंका गया तो इसकी बाइंडिंग
पर प्रेशर पड़ा और इसके 10 पेजेस निकलकर
कहीं घूम हो गई महल में आग लगने के तीन

दिन बाद जब एक सभा बुलाई गई तो यह रीजन
जानने की कोशिश की गई कि आखिर आग कैसे लगी
तो पता चलता है कि चीफ फायर फाइटर और उसकी
हेल्पर में से कोई भी वहां मौजूद नहीं था
जिसकी वजह से उन्हें सजा दी गई अब आप सोच

रहे होंगे भला उन 10 पेजों में क्या ही
होगा तो आपको बता दें कि बताया जाता है कि
इन्हीं 10 पेजेस में शायद अमर होने की
दूसरी दुनिया के लोगों से कांटेक्ट करने

की भविष्य को देखने की और स्वर्ग में जाने
जैसी जादुई शक्तियों के बारे में लिखा गया
था चलिए थोड़ा और जानते हैं उन 10 पेजेस
के बारे में आखिर क्या लिखा था और क्या वह
अपने आप गायब हुए या गायब किए गए ताकि कोई

इनके बारे में ना जान सके कुछ मैन
स्क्रिप्ट पढ़ने वाले और एनालाइज करने
वालों का ऐसा मानना है कि इसके 10 पेजेस
गायब नहीं हुए बल्कि किए गए क्योंकि बुक
में और कोई भी पेजेस ढीले नहीं हुए हैं आप
में से यकीनन कई लोग जानना चाहते होंगे कि

आखिर जेल से छूटने के बाद हरमन का क्या
हुआ तो बताया जाता है कि क्योंकि उसने
अपनी सोल के बदले वो बुक डेविल से लिखवाई
थी तो उसकी आत्मा हमेशा के लिए डेविल के

कंट्रोल में चली गई और वो काफी परेशान
रहने लगा और हरमन मेंटली काफी डिस्टर्ब हो
चुका था जिसकी वजह से बताया जाता है कि वह
सड़कों पर कई बार पागलों की तरह दौड़ता
हुआ भी दिखाई दे जाता था लेकिन आखिरकार जब

उसने भगवान से अपनी आजादी के लिए प्रे
किया तो उसे इस बुरी आत्मा से आजादी मिल
गई और वह इस दुनिया से चला गया लेकिन यहां
पर एक सवाल यह भी खड़ा होता है दोस्तों कि
आखिर उसने कौन से पाप किए थे और उसने

क्यों उस रात सिर्फ डेविल को ही चुना अपनी
जान बचाने के लिए हरमन सिर्फ फिजिकली ही
नहीं बल्कि मन से भी पापी था लस्ट से लेकर
लालच ऐसी कोई चीज नहीं थी जो हरमन से दूर

थी और उसकी इन्हीं सभी हरकतों की वजह से
उसे सजा सुनाई गई थी लेकिन भला उस रात
उसने शैतान को क्यों चुना और उसे शैतान ने
किताब में क्या लिखा थोड़ा इसके बारे में
भी बात कर लेते हैं तो कोडेक्स के गैस में

ऐसे कई छोटे-छोटे एक्सप्लेनेशन दिए गए हैं
जो इसके लिखने से कि अंतरात्मा की तरफ
इशारा करते हैं और ऐसा इसलिए क्योंकि अगर
आप इस बुक को देखोगे तो पाओगे कि यह बाकी
दूसरी तरह की सभी मैन स्क्रिप्ट से काफी

अलग है जो साइज में काफी बड़ी है जिसे
बैठकर तो बिल्कुल भी नहीं पढ़ा जा सकता
इसे पढ़ने के लिए आपको इस किताब को किसी
मेज पर रखकर इसके सामने खड़ा होना ही

पड़ेगा और इसमें लिखे गए फंट इतने छोटे
हैं कि आपको सिर को झुककर इस किताब को
पढ़ना होगा मतलब समझ रहे हैं आप यानी एक
ऐसी किताब जो आपको खड़ा होने पर मजबूर कर
दे वो भी सिर झुकाकर

और डेविल ने लिखी है तो इसका मतलब साफ है
कि आपने डेविल के सामने सिर पहले ही झुका
लिया इसके बाद कई मैनु स्क्रिप्ट एनालास

करने वालों का मानना है कि शायद उस रात
हर्मन को यह बात पता थी कि उसने अपनी लाइफ
में कोई अच्छा काम नहीं किया है जिसकी वजह
से भगवान उसकी सजाओ को माफ नहीं करेगा और
उसने इसलिए राक्षस का सहारा लिया जिसके

बाद उस राक्षस ने उस किताब में स्वर्ग और
नर्क को दिखाया पुराने जमाने में ऐसा भी
कहा जाता था कि अगर आप को अपने पापों का
प्रया शित करना है तो आप पवित्र ग्रंथों

की नकल कर सकते हैं इसलिए उसने इस तरह की
किताब लिखवाई लेकिन हरमन के अंदर बैठे
राक्षस ने इस किताब को कुछ और ही रूप दे
दिया जिसकी वजह से इसका नाम आज डेविल्स

बाइबल पढ़ गया लेकिन आप जानते हैं हरमन के
मरने के बाद सीधा वह स्वर्ग गया था ऐसा भी
बताया जाता है क्योंकि उसने जितने भी
अक्षर उस किताब पर लिखे वो उसके पापों पर
भारी पड़े और इसके बाद उसने अपनी गलतियों
की माफ भी मांगी जिसके लिए उसे स्वर्ग में

जगह मिली और यह सब हम नहीं कह रहे हैं
बल्कि उसने यह सब उस किताब में मेंशन किया
है हमने आपको बताया था कि बुक में एक
स्वर्ग की तस्वीर भी है ठीक उसी पन्ने से

पहले बड़े-बड़े अक्षरों में उसने अपने सभी
पापों की माफी मांगी है जो कि काफी
डिस्टर्बिग है और यह पेजेस बाकी सभी से
अलग है जो कि बाकी बुक में लिखे गए

अक्षरों से दो गुना पड़ा है और उसकी इस
माफी से यह बात तो साफ हो जाती है कि हरमन
ने एक के बाद एक कितने पाप किए हैं तो
देखा जाए तो यही सब कारण थे जिसकी वजह से

यह बताया जाता है कि यह क्यों शैतानी
किताब कही जाती है कोडेक्स गिगैस से जुड़ा
हुआ एक मॉडर्न इंसिडेंट
18581 की ही नेशनल लाइब्रेरी में एक रात
ऐसा हादसा हुआ जिसकी वजह से वहां एक काम
करने वाला आदमी पागल हो जाता है दरअसल एक

रात उस लाइब्रेरी में जहां यह कोडेक्स की
गैस नाम की बुक रखी हुई थी उस लाइब्रेरी
का केयरटेकर घर ना होने की वजह से
लाइब्रेरी में ही सो जाया करता था लेकिन

एक रात उसके शेल्फ से लगातार किताबें
गिरने की आवाज आई और जब वह वहां उन्हें
देखने जाता है तो देखता है कि किताबें
धीरे-धीरे अपने आप हवा में उठने लगती हैं
और जब वह देखता है तो वहां पास में ही

शेल्फ से कोडेक्स किकेस बुक भी गिरी हुई
है और यह सब किताबें कोडेक्स की कैस के
आसपास घूमने लगती हैं और काफी समय से बंद
दीवार घड़ी भी तेजी से चलने लगती है जिसके

बाद यह सब देखकर वह इंसान वहीं गिरकर
बेहोश हो जाता है और होश में आने के बाद
उसे हॉस्पिटल में भर्ती करवाया जाता है
लेकिन उसकी मेंटल हालत लगातार बिगड़ती चली
जाती है और उसे पागल खाने में भर्ती
करवाना पड़ता है ऐसे ही और कई किस्से इस

किताब से जुड़े हैं जो बताते हैं दोस्तों
कि यह किताब क्यों डेविल के लिए खास है
बहरहाल आपका क्या कहना है इस किताब के
बारे में आपकी क्या राय है

Leave a Comment