तुम्हारे आंसुओं को देखकर ही तुम्हें जीत दिलाने देवता आ रहे - instathreads

तुम्हारे आंसुओं को देखकर ही तुम्हें जीत दिलाने देवता आ रहे

मेरे प्रिय बच्चे तूफानों की एक पूरी

श्रृंखला निकल पड़ी है मनुष्यों को यह

एहसास दिलाने के लिए कि वह अपने जीवन में

कितनी बड़ी-बड़ी भूलें कर रहे हैं अपने

स्वार्थ के लिए वह अपनों को भी नुकसान

पहने से पीछे नहीं हटते और जो दिल का साफ

होता है उसे अत्यधिक सताया जाता है उसे

कमजोर होने का एहसास कराया जाता है उसे

उसकी बेवजह की कमियां गिनाई जाती हैं

तुम्हारे भी साथ कुछ ऐसा ही षड्यंत्र बुरी

शक्तियों द्वारा बचाया जा रहा है और आज

यही कारण है कि तुम्हें यह दिव्य संदेश

प्राप्त हो रहा है वास्तव में यह दिव्य

संदेश केवल और केवल उन पुण्य आत्माओं के

लिए ही भेजा जा रहा है जो अपने जीवन से

किसी वजह से परेशान हो चुके हैं और जो दिल

के बहुत साफ है जिनके दिल में कोई मैल कोई

खोट नहीं है लेकिन फिर भी उनके जीवन को

त्रस्त किया जा रहा है प्रिय बच्चे मुझे

ज्ञात है कि तुम्हारे साथ क्या-क्या

घटनाएं घटित हो रही हैं

किस तरह से लोगों द्वारा तुमसे लाभ उठाया

जा रहा है इसलिए मेरे प्रिय बच्चे अपने

जीवन को बेहतर बनाओ और इसमें मैं तुम्हारी

सहायता करने वाली हूं मैं तुम्हारे जीवन

में एक ऐसे व्यक्ति को भेजने वाली हूं जो

ना केवल तुम्हारा गुरु बनकर तुम्हारा

मार्ग दर्शन करेगा बल्कि तुम्हें बहुत

सहारा भी प्रदान करेगा इसलिए तुम्हें हर

हाल में संदेश को पूरा अंत तक सुनना है

चाहे कोई भी परिस्थिति क्यों ना आ जाए इसे

बीच में छोड़कर जाने की भूल नहीं करनी है

अन्यथा लाभ के बजाय तुम्हें नुकसान उठाना

पड़ सकता है अन्यथा अपने ही जीवन से

तुम्हें दुख भोगना पड़ सकता है मैं नहीं

चाहता कि तुम्हारे जीवन में किसी भी

प्रकार का दुख दस्तक दे इसलिए मेरी एक-एक

बात को बहुत ध्यानपूर्वक सुनना तुम मेरी

बातों को जितनी गहराई से सुनोगे उतना ही

ज्यादा तुम्हें लाभ होगा और जितनी सथी

छिछली स्तर पर सुनोगे तुम्हें उसका कोई

लाभ ना हो सके

इसलिए मेरे प्रिय मेरी बातों पर ध्यान

लगाओ और पा सदा याद रखो कि जब मैं तुमसे

तुम्हारे जीत की पुष्टि करने को कहती हूं

तो इसे तक्षण कर दिया करो क्योंकि ऐसा

करने से तुम ब्रह्मांड में अपनी ऊर्जा

भेजते हो और ब्रह्मांड मनुष्य की भाषाएं

नहीं समझता बल्कि उनकी भावना और उनकी

ऊर्जा को महसूस करता है फिर उस ऊर्जा का

संतुलन बनाने के लिए वह अपनी तरह की ऊर्जा

भेजता रहता है यदि तुम गरीब मनुष्यों के

बीच होकर अमीरों जैसा महसूस करोगे उस

प्रकार की ऊर्जा ब्रह्मांड में भेजोगे तो

निश्चित तौर पर उसे संतुलित करने के लिए

ब्रह्मांड द्वारा एक ऊर्जा भेजी जाएगी जो

तुम्हें अमीर बना देगी इसी तरह दुखी लोगों

के बीच में यदि तुम सुखी होने का अनुभव

करोगे और उस प्रकार की ऊर्जा ब्रह्मांड

में छोड़ोगे तो निश्चित तौर पर विपरीत

परिस्थितियों में भी तुम्हारे लिए सुख की

ऊर्जा नियति द्वारा भेज दी जाएगी मेरे

प्रिय तुम जो पाना चाहते हो केवल उसका

विचार करो लेकिन उसके लिए चिंतित बिल्कुल

भी मत होना क्योंकि जब तुम चिंतित होते हो

परेशान होते हो तो ब्रह्मांड में यह भावना

छोड़ते हो कि तुम्हारे पास उन चीजों का

अभाव है उन परिस्थितियों का अभाव है उस

मनुष्य का अभाव है जिसकी वजह से तुम

चिंतित हो इसलिए चिंता करने के बजाय उसे

बहुत ही सहज भाव से लेना और निडर होकर

जीना बिना संदेह के जीवन जीने वा वाला

मनुष्य ही सबसे खूबसूरत होता है और वही

धर्म के मार्ग पर चल पाता है तुम एक

परोपकारी सहज हृदय साफ दिल के मनुष्य हो

इसलिए अपने ऊपर भय का आवरण बिल्कुल भी मत

चढ़ने दो मेरे प्रिय इसी क्षण संख्या

लिखकर अपनी जीत की पुष्टि कर दो मैं

सौभाग्यशाली धनवान परोपकारी और बहुत ही

खूबसूरत मनुष्य हूं ऐसा लिखना बिल्कुल भी

मत भूलना ऐसा करना तुम्हारे लिए आवश्यक है

मेरे प्रिय इस संदेश में आगे तुम्हारे लिए

बहुत से संकेत और दिव्य ऊर्जा छिपी हुई है

तुम जैसे-जैसे इसे सुनते जाओगे यह ऊर्जा

तुम्हारे भीतर उतरती चली जाएगी इसलिए इस

संदेश में अंत तक बने रहना किसी भी

परिस्थिति में इस संदेश से दूर हटने की

कल्पना भी मत करना क्योंकि ऐसा करना

तुम्हारे लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं होगा

मेरी बातों पर ध्यान दो और इसे पूरी तरह

से अमल में लाओ मेरे प्रिय अपने आप को

किसी भी परिस्थिति में कमजोर या छोटा

बिल्कुल भी मत समझना मेरे प्रिय बच्चे

तुम्हारे दिल की अंतिम सत को छूने वाले इन

अद्भुत शब्दों को अपने हृदय रूपी महल में

प्रवेश करने दो जिस प्रकार से एक सुगंधित

पुष्प पूरे वातावरण को शुद्ध कर देता है

उसी प्रकार से एक आध्यात्मिक ऊर्जा से

परिपूर्ण संदेश मनुष्य के मन को शुद्ध और

निर्मल कर देता है मेरे प्रिय बच्चे मेरी

बात को बहुत ध्यानपूर्वक सुनते हो अपने मन

में उतारो मैं तुम्हें तुमसे ही परिचित

कराने आया हूं ईमानदारी और सच्चाई

तुम्हारे रग-रग में बसी हुई है मुझे पता

है किंतु परिस्थितियां कुछ ऐसी हैं कि तुम

इसका उपयोग नहीं कर पाते क्योंकि मैंने जो

बीज तुम्हारे अंदर बोए थे वह अब विशाल

वृक्ष का रूप धारण कर रहे हैं मुझे तुम पर

गर्व है और उसके मधुर फलों का परिणाम यह

है कि तुम एक पवित्र विचारों से युक्त

सफलता की ओर बढ़ रहे व्यक्तित्व के स्वामी

हो तुम्हारा दया स्वभाव दूसरों के लिए कुछ

करने का तुम्हारे भीतर जो जो विचार उठता

है वह ही तुम्हें दूसरों से भिन्न बना

देता है उत्साह से भरे हुए दिन अब

तुम्हारा स्वागत करने में लग गए हैं

क्योंकि तुमने उस वक्त भी संघर्ष किया जब

लोग हिम्मत हार के बैठ जाते हैं और किसी

हार से टूटकर पूरी तरह से बिखर जाते हैं

मेरे प्रिय बच्चे मैं जानती हूं जब कोई

तुम्हें अस्वीकार करता है या फिर तुम्हारे

सोच को अस्वीकार कर देता है तब तुम्हें

कितनी पीड़ा होती है मैं भी उस पीड़ा को

महसूस करती हूं क्या तुम्हें ज्ञात है कि

तुम एक ऐसे अवधि में जी रहे हो जो एक

भ्रमित युग की तरफ जा रहा है जहां पर हर

युवा भ्रमित है अपने मार से ऐसे में स्वयं

को उस भ्रम जाल में रखते हुए दृष्ट का भाव

रख पाना एक बड़ी आध्यात्मिक सफलता है इस

सफलता की ओर तुम बढ़ रहे हो क्या तुम्हें

पता है कि इस भीड़ का हिस्सा होते हुए भी

तुम इनसे अलग हो तुम्हें इसका एहसास होता

रहता

तुम्हारा मन बार-बार तुमसे ही प्रश्न करता

है तुम यह भी जानते हो कि वर्तमान में

मिलने वाली छोटी-छोटी असफलताएं तुम्हें एक

बहुत बड़ी सफलता की ओर लेकर के जा रही है

मेरे प्रिय तुम अमूल्य हो अनमोल हो अपने

भीतर झांक कर देखो जो प्रश्न तुम्हारे मन

में उठ रहे हैं उनका उत्तर देने का

प्रयत्न करो तुम्हारे पास प्रकृति की एक

ऐसी शक्ति है एक ऐसा खजाना है जो तुम्हें

खुशियों से भर सकता है और ना केवल तुम्हें

बल्कि तुम्हारे आसपास रहने वाले तुमसे

जुड़ने वाले सभी लोगों का दर्द कम कर

उन्हें खुशियों से भर सकता है मेरे प्रिय

प्रकृति ने तुम्हें चुना है इस संसार को

जादू से भर देने के लिए इस संसार में

खुशियों का संचार कर देने के लिए मेरे

प्रिय बच्चे खुशियां तुम्हारे घर में आना

चाहती हैं लेकिन क्या तुम अपना द्वार

खोलने को तैयार हो क्या तुम स्वीकार्य

करते हो आगे बढ़ने को द्वार खोलने का अर्थ

यह है कि कि खुशी की उसी तरंग में स्वयं

को ले जाना जो तुम्हारे पास आने को बेताब

है उन चीजों को आकर्षित करना जो केवल

तुम्हारे लिए ही निर्मित है बेहतर

स्वास्थ्य मानसिक शांति दिव्यता से युक्त

प्रेम संबंधों में मधुरता और धन की

अत्यधिक प्रचुरता यह सब कुछ एक साथ ही

तुम्हारे जीवन में तुम्हारे पास आने को

बेकरार है लेकिन जरा विचार करो कि यदि तुम

बार-बार खुद से अथवा दूसरों से यह कह रहे

हो कि मैं धन के अभाव में जी रहा हूं मेरा

स्वास्थ्य बेहतर नहीं है मेरे संबंध में

कुछ दिक्कत है मेरे जीवन में कुछ भी सही

नहीं हो रहा है या फिर बार-बार उन बातों

को दोहरा रहे हो जो तुम्हें करते हैं जो

तुम्हारे जीवन में दुख की ऊर्जा को बढ़ा

देते हैं तो जाने अनजाने में ही तुम अपनी

और आ रही खुशियों के लिए बाधा बन रहे हो

उन्हें अपने पास आने से रोक रहे हो उनके

मार्ग को बाधित कर रहे हो क्योंकि तुम उसी

को अपना मित्र बनाते हो जो तुम रे जैसा

होता है या फिर तुम्हारे जैसा सोचता है

तुम्हारे जैसा विचार करता है यदि तुम अपनी

तरफ आ रही खुशियों के विपरीत ऊर्जा में

रहोगे तो वह तुम्हारे पास भला कैसे आएगी

ब्रह्मांड तुमको खुशियों से पूरी तरह से

भर देना चाहता है वह तुम्हारे हर संकल्प

को पूरा करने में लगा हुआ है ब्रह्मांड

सदैव तुम्हारा साथ दे रहा है तुम्हें अपनी

शिकायत करने की ऊर्जा को आभार व्यक्त करने

की ऊर्जा में बदलना होगा तुम्हें अब अपने

आप को आभार के आयाम में लाना होगा मेरे

प्रिय ऐसा तुम्हें निरंतर अगले एक माह तक

करना होगा जब तुम ऐसा करने लगोगे तो

प्रत्यक्ष रूप से तुम अपने जीवन में

चमत्कार को होते हुए देख पाओगे महसूस कर

पाओगे आने वाले एक माह तक किसी से भी अपने

जीवन में हो रहे समस्याओं की चर्चा नहीं

करना किसी से भी अपने जीवन की मुश्किलों

के बारे में बात नहीं करना अपने आप को

किसी भी प्रकार से दोषी या पीड़ित नहीं

समझना प्रतिदिन ऐसा संगीत सुनना जो

तुम्हारे मन को नवीन ऊर्जा से भर देना कि

दर्द से कोई रोने वाला या फिर दर्द वाला

संगीत ना सुनना प्रत्येक दिन एक बार सूर्य

के समक्ष अवश्य जाना और उसे तुम्हें

प्रकाश देने के लिए धन्यवाद करना उन चीजों

को गिनना उन्हें लिखना प्रारंभ करो जो

तुम्हारे पास हैं जिन चीजों के लिए

तुम्हें आभारी होना चाहिए फिर चाहे वह

तुम्हारे सामने परोसा गया भोजन हो

तुम्हारे सोने के लिए लगाया गया बिस्तर हो

या फिर पहनने के लिए वस्त्र हो ऐसा करते

ही तुम देखोगे कि तुम्हारे जीवन में

चमत्कार कैसे होने लगेगा चमत्कार विश्वास

की ऊर्जा से हो होता है मेरे प्रिय

तुम्हारे जीवन में चमत्कार तब तक कार्य

नहीं करता जब तक तुम पूरी तरह से विश्वास

से नहीं भर जाते मेरे प्रिय तुम्हें यदि

अपने जीवन को बेहतर बनाना है तो तुम्हें

यह विश्वास करना होगा कि तुम्हारा जीवन

बेहतर है और तुम्हारा जीवन बेहतर होने की

तरफ ही बढ़ रहा है ऐसा सोचते ही आलौकिक

शक्ति हर वक्त तुम्हें सुरक्षा प्रदान

करेगी नवीन ऊर्जा प्रदान करेगी ऐसा सोचते

ही तुम्हारे जीवन के अभाव प्रभाव में बदल

जाएंगे और तुम्हारा जीवन आभार से भरने

लगेगा जब तुम विश्वास करोगे तभी चमत्कार

होगा तुम्हें चमत्कार की ऊर्जा को मानना

होगा संपूर्ण संसार के खुशहाली की

प्रार्थना करोगे तो तुम्हारी खुशहाली

स्वतः ही हो जाएगी कुछ मामलों में स्वार्थ

से ऊपर उठकर संसार का कल्याण सोचना चाहिए

और कुछ मामलों में स्वयं का कल्याण

सर्वप्रथम रखना चाहिए सर्वप्रथम तुम्हें

अपने आप से प्रेम करना होगा अपने शरीर से

अपने सोच से अपने विचार से अपने परिवार से

अपने संबंधों से प्रेम करना चाहिए तुम्हें

कहना चाहिए हे माता रानी मैं प्रकाश की

तरह सब जगह फैल जाऊं मेरा वर्चस्व लोगों

में बढ़ जाए मुझे धन की अधिकता सदैव बनी

रहे मेरे जीवन में खुशियां सदैव संचारित

होती रहे मेरा जीवन धन धान्य से परिपूर्ण

हो जाए मेरे जीवन में अच्छे मददगार मित्र

हो मेरा परिवार सदैव खुशहाल रहे मैं अपने

परिवार की खुशहाली का कारण बनूं मैं इस

समाज को इस संसार को बेहतरी की तरफ लेकर

के जाऊं हे माता रानी मुझ में सूर्य जैसा

तेज भर दो चंद्रमा जैसी शीतलता भर दो

वृक्ष जैसा परोपकार भर दो और पानी जैसी

निर्मलता भर दो हे ईश्वर मैं आपका आभारी

हूं जो कुछ आपने मुझे दिया वह अनमोल है

आपने मुझे मनुष्य का जीवन दिया यह अमूल्य

है ऐसा विचार यदि तुम निरंतर करोगे तो

तुम्हारा जीवन सदैव खुशियों से भर जाएगा

मेरे प्रिय यदि तुम अपने जीवन में

सकारात्मकता की ऊर्जा को महसूस करना चाहते

हो सदैव सकारात्मक जीवन जीना चाहते हो तो

तुम्हें अभी सात साथ साथ इस अंक को लिखकर

यह लिखना होगा कि हे माता रानी मैं आपका

आभारी हूं और मुझे सकारात्मकता की ऊर्जा

से भर दीजिए मेरे जीवन को एक नया आयाम दे

दीजिए मैं चमत्कार की ऊर्जा को महसूस करने

का इच्छुक हूं इसलिए मुझे चमत्कार की

ऊर्जा दिखाइए मेरे प्रिय तुम्हें ऐसा

लिखना होगा साथ ही तुम्हें यह भी संकल्प

करना होगा कि तुम सफलता की ओर कदम बढ़ाना

चाहते हो तुम सफलता को महसूस करना चाहते

हो यदि तुम सफलता को महसूस करना चाहते हो

तो अभी एक एक एक एक इस अंक को लिखो और यह

पुष्टि जाहिर करो कि तुम सफलता को जल्द से

जल्द अपने जीवन में चाहते हो मेरे प्रिय

बच्चे तुम्हारे पूर्वज और कुछ अदृश्य

फरिश्ते तुम्हारे जीवन में तुम्हारे बहुत

करीब आ गए हैं लेकिन उन्हें अभी यह पुष्टि

नहीं मिल पा रही कि तुम उनके साथ जीवन में

आगे बढ़ना चाहते हो क्योंकि तुम निराशा के

बादलों से घिर जाते हो इसलिए तुम्हें यह

पुष्टि करनी होगी कि तुम आगे बढ़ने को

पूरी तरह से इच्छुक हो इसकी पुष्टि करने

के लिए तुम्हें सर्वप्रथम थोड़ा सा ध्यान

लगाना होगा और फिर ब्रह्मांड में यह जाहिर

करना होगा कि तुम सफलता की ऊर्जा को अपने

पूर्वजों की शक्ति और अदृश्य फरिश्तों की

शक्ति के साथ महसूस करने में इच्छुक हो

तुम्हारी रुचि अपने अदृश्य फरिश्तों और

पूर्वजों के साथ प्रगति करने में है इसके

लिए तुम्हें निरंतर कुछ वाक्यों को

दोहराना होगा सर्वप्रथम तुम्हें कहना होगा

कि मैं आभारी हूं मैं ईश्वर की शक्ति को

महसूस करके आगे बढ़ना चाहता हूं मैं

अदृश्य फरिश्तों की मदद से जीवन में

प्रगति पाना चाहता हूं मैं अपने पूर्वजों

का एहसान मंद हूं जिनकी वजह से मुझे

मनुष्य जीवन मिला ऐसा विचार तुम्हें करना

होगा साथ ही इन वाक्यों को तुम्हें कहना

होगा तुम जब ऐसा कहोगे तो अदृश्य फरिश्ते

यह जान जाएंगे कि तुम उनके साथ आगे बढ़ना

चाहते हो फिर तुम उनकी ऊर्जा को आज रात से

ही महसूस करने लगोगे तुम महसूस करने लगोगे

कि वह तुम्हारे आसपास है तुम्हें विभिन्न

प्रकार के अंग दिखाई देंगे एक ही क्रम के

कई अंक तुम्हें दिखाई देंगे कुछ विशेष

दिव्य पंख तुम्हें दिखाई देंगे और तुम्हें

विभिन्न प्रकार के संकेत दिखाई देंगे

जिनसे तुम्हें अनुभूति होगी उनके होने का

तुम्हें एहसास होगा फरिश्तों के होने का

मेरे प्रिय कभी भी डरना मत जब तुम्हें

अदृश्य फरिश्ते तुम्हारे नजदीक महसूस हो

तो भयभीत ना होना बल्कि आभार व्यक्त करना

और उन्हें धन्यवाद करना और एक बात याद

रखना मेरी ऊर्जा मेरी शक्ति सदैव तुम्हारे

साथ है मैं तुम्हारे बहुत करीब हूं मैं

तुम्हें प्रगति दिलाने आई हूं सदा सुखी

रहो तुम्हारा कल्याण होगा तुम्हारी प्रगति

होगी

Leave a Comment