न्याय यात्रा को रोकने के लिए योगी ने दिया फरमान, पूरा प्लान फेल हो गया! - instathreads

न्याय यात्रा को रोकने के लिए योगी ने दिया फरमान, पूरा प्लान फेल हो गया!

नमस्कार

आगामी लोकसभा चुनाव की
तारीखों का भले ही ऐलान ना हुआ हो लेकिन
सियासी गलियारों में चर्चाओं का बाजार
गर्म है पार्टियों के नेता लगातार प्रचार
में जुटे हुए हैं साथ ही अपने वादों का

पिटारा जनता के सामने खोल रहे हैं चुनावी
जुमलो और वादों के इस खेल में चार चांद
लगाने के लिए मौजूदा भाजपा सरकार मोदी की
गारंटी नामक चुनावी यंत्र से लोकसभा चुनाव
को साधने की फिराक में है लेकिन इस बार के

चुनाव में मोदी की गारंटी का जादू चलता
दिखाई नहीं दे रहा है भले ही भाजपा गारंटी
का राग अलाप रही हो लेकिन जनता को अब
एहसास हो चुका है कि ये महज चुनाव लड़ने
के यंत्र हैं चुनाव के बाद यह सारी गारंटी

धरी की धरी रह जाएंगी क्योंकि देश की जनता
जान चुकी है कि कौन किसके हक के लिए बात
कर रहा है और कौन महज जुमले सुना रहा है
खैर बात हक की हो तो सबसे पहला नाम भारत

जोड़ो न्याय यात्रा का आता है यात्रा इन
दिनों खूब सुर्खियां बटो रही है कांग्रेस
समेत अन्य दल के नेता भी यात्रा में शामिल
होकर केंद्र में बैठे सत्ताधारी दल भाजपा
के खिलाफ लड़ रहे हैं यात्रा में आज हर

तबके के लोगों के न्याय की बात हो रही है
यात्रा में गरीब पिछड़ा युवा के साथ-साथ
हर उस शख्स की बात हो रही है जो कि कहीं
ना कहीं परेशान है आज भले ही सत्ता में

केंद्र सरकार से ना होते हुए कांग्रेस से
जुड़ी हुई है ऐसा इसलिए है क्योंकि कहीं
ना कहीं लोगों को उम्मीद है कि अगर केंद्र
से भाजपा सरकार का सफाया होता है और
इंडिया गठबंधन की सरकार बनती है तो हर उस

तबके के इंसान को न्याय मिलेगा जो कि कभी
ना कहीं पिछड़ा हुआ है खैर बता दें कि
यात्रा इन दिनों जोरों पर है और गठबंधन का
पूरा-पूरा सहयोग में रहा है जिसे देखकर
भाजपा के खेमे में खलबली मची हुई है

गठबंधन की बढ़ती ताकत का ऐसा ही कुछ नजारा
देखने को मिला जब यात्रा बिहार में थी
यात्रा भले ही उत्तर प्रदेश में पहुंची है
लेकिन बिहार में उस नजारे की चर्चा आज भी
है ऐसा इस वजह से है क्योंकि नीतीश कुमार
के जाने के इंडिया गठबंधन छोड़कर एनडीए

गठबंधन का दामन थामने के बाद ऐसा लगा था
मानो कि इंडिया गठबंधन बिखर जाएगा लेकिन
अभी मौजूदा हालात तो यह हैं कि गठबंधन
पर तो कोई फर्क ही नहीं पड़ा बल्कि बिहार
में और तेजी से गठबंधन और आरजेडी उभरे हैं

हाल ही में जब यात्रा बिहार में आखिरी
पड़ाव पर थी तो राहुल गांधी के साथ बिहार
के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव
दिखे यहां तक कि उन्होंने सात मंच भी
सांझा किया और भाजपा पर करारा हमला बोला

साथ ही उन्होंने भाजपा के बड़े नेताओं को
भी आईना दिखाया आप जी का चेहरा देखो ठीक
से
देखो ये आपको ये आपको हर
टाइम मुस्कुराते हुए दिखेंगे
मुकरा
रहे लालू जी आपको मुस्कुराते हुए दिखेंगे
कांग्रेस पार्टी के हमा नेता सब मुस्कुरा
रहे और बीजेपी के नेता का चेहरा देखो

नरेंद्र मोदी को देखो अमित शाह को देखो
राजनाथ सि को देखो
[प्रशंसा]
होता पता नहीं क्या होया लोग को य खुश
नहीं
होते नफरत

लाते और 24
घंटा किसी ना किसी के बारे में उ बात
करें हम मोहब्बत की दुकान लते है और आप सब
कांग्रेस के कार्यकर्ता आरजेडी के

कार्यकर्ता 24
घंटा मोहब्बत की दुकान
खो लोग
को और य बीजेपी के लोग नरत
करते
हम मिलके एक साथ लड़ेंगे और जीतेंगे ये
देश नफरत का देश नहीं है यह देश मोहब्बत

का और भाईचारे का देश है आपके फूल में
आपके डीएनए में नफरत नहीं है मोहब्बत और
भाईचारा आदर है साथ ही बिहार में भारत
जोड़ो न्याय यात्रा कर रहे कांग्रेस के
पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोनिया से
कहा था कि देश में नफरत के माहौल का क्या

कारण है मैंने युवाओं मजदूरों और किसानों
सहित सबसे पूछा तो सभी ने कहा कि नफरत का
कारण है डर डर का कारण अन्याय और इस देश
के हर कोने में अन्याय होता है आर्थिक

अन्याय सामाजिक अन्याय युवाओं के खिलाफ
अन्याय और किसानों के खिलाफ अन्याय सहित
सभी के साथ अन्याय हो रहा है इतना ही नहीं
उन्होंने इन दिनों चल रहे किसानों के
आंदोलन को लेकर भी भाजपा सरकार को जम कर
के घेरा नरेंद्र मोदी जी ने किसानों का

कितना कर्जा माफ किया
है एक रुप नहीं किया हिंदुस्तान के 20 अरब
पयों का कितना कर्जा माफ
किया 16 लाख करोड़
रुप 16 लाख करोड़

रुपए हमने किसानों का कजा माफ
किया 7 हज करोड़ रप हमने माफ किया
था और उस टाइम सा सारे मीडिया ने कहा
देखो यूपीए की सरकार पैसा जाया कर कर र है
किसानों को आलसी बना रही है तो जब किसानों

का कर्जा माफ होता
है मीडिया कहती है किसानों को आलसी किया
जा रहा है और जब नरेंद्र मोदी 15 20 लोगों
का 16 लाख करोड़ रुप कर्जा माफ करता है तो
फिर एक शब्द नहीं कहते

लोग मोदी मीडिया एक शब्द नहीं
कहता तो इसी अन्याय के खिलाफ
हमने य यात्रा निकाली भले ही बिहार में
सियासी उलटफेर हुआ हो लेकिन इससे गठबंधन

पर कोई फर्क नहीं पड़ा है बल्कि इससे
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी
फजीहत कराई है नीतीश कुमार का एनडीए
गठबंधन में जाने का फैसला गलत साबित होता
दिख रहा है अब इसे लेकर इन्हें कांग्रेस

समेत अन्य पार्टियों के नेता घेर रहे हैं
ऐसे में नीतीश कुमार के भारत जोड़ो न्याय
यात्रा के दौरान कांग्रेस के अध्यक्ष
मल्लिकार्जुन खरगे ने भी उन्हें घेरा
उन्होंने क्या कुछ कहा आप वीडियो में

देखिए नितीश कुमार जी जो
उन्होंने यह कहा
था मुख्यमंत्री जी ने कहा था मर
जाऊंगा लेकिन कभी बीजेपी में नहीं

जाऊंगा ये उन्होंने कहा
था ये उन्होंने कहा था कहा था या
नहीं फिर आज कहां है
वो कहां जा अरे जो
इंसान अपने आप को कहता है
मैं मर जाऊंगा लेकिन बीजेपी में नहीं

जाऊंगा लेकिन वो आज बीजेपी के झोले में
गिरे
हैं उन्होंने ये भी वायदा किया हमारे साथ
बैठ
के महागठबंधन का वायदा

किया हम पाच सालों में 10 लाख लोगों को
नौकरियां देंगे कहा या नहीं
कहा तो
ये यही बीजेपी
उनको उनको डरा धमका
के डरा धमका के अपने पास ली है और यह जो
गरीबों को वायदा करके वोट लिए और वही आज

फिर गरीबों को चूसने वाले पार्टी के अंदर
जाकर घुस गए
हैं महात्मा बुद्ध का
एक मार्ग है और उन्होंने य बात भी यही कही
थी सत्य के मार्ग पर चलते हुए व्यक्ति
केवल दो ही गलतियां कर सकता है पहली या तो
पूरा रास्ता तय ना

करना सॉरी रास्ता ना तय करना दूसरी या फिर
शुरुआती नहीं करना तो पूरा रास्ता अगर तय
करने वाला नेता अगर कोई है वह राहुल गांधी
है सत्य की रास्ता पर चलने वाला
व्यक्ति राहुल गांधी जी है और यह लोग
हमेशा सच्चाई पर कभी नहीं चले लोगों को
सिर्फ अच्छी बात

करके युवाओं को बर्बाद किए किसानों को
बर्बाद किए लोगों को बर्बाद किए ऐसे लोग
हैं ऐसा नहीं है कि यात्रा में गठबंधन की
ताकत सिर्फ बिहार में ही दिखी बल्कि उत्तर
प्रदेश में भी देखने को मिली आपको बता दें

कि कांग्रेस यात्रा के जरिए लोगों को जोड़
रही है न्याय यात्रा के उत्तर प्रदेश में
पहुंचने से पहले ही यहां न्याय यात्रा का
रूट एक बार फिर से बदला गया है अब यह
कानपुर से बुंदेलखंड जाने के बजाय मुस्लिम

बाहुल्य क्षेत्र मुरादाबाद के रास्ते आगरा
होते हुए राजस्थान में प्रवेश करेगी राहुल
गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा लखनऊ से
उन्नाव कानपुर होते हुए झांसी के रास्ते

मध्य प्रदेश में जानी थी लेकिन अब इसमें
बदलाव किया गया है कि यात्रा 21 को कानपुर
में स्थगित हो जाएगी और 22 तथा 23 को
यात्रा ब्रेक लेगी फिर 24 को मुरादाबाद से
संभल बुलंद शहर अलीगढ़ हाथरस आगरा होते

हुए राजस्थान में प्रवेश करेगी यात्रा में
बदलाव के पीछे मुस्लिम बहुल क्षेत्र को
कवर करने की रणनीति बताई जा रही है और
कांग्रेस के प्रवक्ता डॉर सीपी राय ने
बताया कि मुरादाबाद से आगरा के रूट पर

यात्रा के लिए तैयारी शुरू कर दी गई है अब
यह मध्य प्रदेश के बजाय राजस्थान जाएगी
आपको बता दें कि यात्रा में खुद समाजवादी
पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव शामिल होंगे
कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने

अखिलेश यादव को भारत जोड़ो न्याय यात्रा
में शामिल होने का यता भेजा था अखिलेश
यादव ने कांग्रेस के नियते को स्वीकार कर
लिया उन्होंने राहुल गांधी की भारत जोड़
न्याय यात्रा में शामिल होने की घोषणा की

सभा प्रमुख ने कांग्रेस को बधाई देते हुए
भारत जोड़ों न्याय यात्रा का निमंत्रण
स्वीकार किया उन्होंने उम्मीद जताई है कि
भारत जोड़ों न्याय यात्रा उत्तर प्रदेश की
सीमा में दाखिल होकर पीडीए की रणनीति से

जुड़े गी और सपा के सामाजिक न्याय और
परस्पर सौहार्द का आंदोलन और आगे ले जाएगी
अखिलेश यादव को उम्मीद है कि टीम इंडिया
और पीडीए की रणनीति का गठजोड़ जीत का नया

इतिहास लिखेगा ऐसे में बिहार के बाद अब
न्याय यात्रा के जरिए कांग्रेस पूरी
मजबूती के साथ इंडिया गठबंधन के साथ मिलकर
उत्तर प्रदेश में जमकर लोगों को साध रही
है ऐसे में एक बात तो साफ है कि भाजपा को

उस न्याय यात्रा के जरिए काफी नुकसान हो
सकता है खैर यह नुकसान कितना होगा यह तो
आने वाले समय में ही पता चल पाएगा लेकिन
अभी मौजूदा हालात को देखते हुए एक बात तो
तय है कि आगामी लोकसभा चुनाव में इससे
काफी फर्क पड़ने

धन्यवाद

Leave a Comment