माँ महाकाली प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भजन संध्या | Mahakali Mandir Raipur - instathreads

माँ महाकाली प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भजन संध्या | Mahakali Mandir Raipur

म जत प मा का दर्शन आए श्रद्धा से भक्ति से श्रद्धा से भक्ति

से हम सब ना बुलाए

श हे ब्रहण हे कल्याण दया करो मानी रे बा

[संगीत] [प्रशंसा] क्रिमिनल मुंडो की माला काली का कनल मु

की मेरे वास्ते का है का मेरे वास्ते

का नचे मल के दीवाने रे हम हम नाथे महाकाल

के दीवाने श्रीरा जय शती दिखावे

[संगीत] जय माता दी दोस्तों आज हम आ चुके हैं शी

महाकाली मंदिर आकाशवाणी ज माता जी का प्राण

प्रतिष्ठा किया गया

हैय आकाशवाणी स्थित मा श्री महाकाली

[संगीत]

मंदिर तू ही हमारा [प्रशंसा] साचा तू ही हमारा साचा जोर से बोलिए

गणपति मंगल गणपति बू

कौन कन भक्ति करना चाहता है हाथ उठा दे जो भक्ति करना चाहते योगेश भाई भक्ति सब करना

चाहते मामा जी प्रॉब्लम कहा आती [संगीत]

है बाधा कोई भी उसे ना पावे बाधा कोई भी

उसे चना पावे कौन भगवान का सहारा चाहता है वो

दोनों हाथ उठाकर ऐसे बुला नहीं रहा

ऐसे हां भक्तों ने मांगा तेरा

सहारा भक्तों ने मांगा तेरा

सहारा तू ही हमारा साचा मित्र है बाबा तू

ही हमारा साचा प है बा तू ही हमारा सा ही

हमारा साचा ही हमारा साचा मीत

[संगीत] है महाकाली मां की नजर उतारेंगे यहां से

और सब भक्तों की भी उसम नजर उतरती जाएगी तब पहली बार मुझे यहां पर व दर्शन कराने

लाए थे महाकाली मंदिर का और मैं बहुत ही आनंदित हुआ और तब से आज तक मेरा आनंद

[संगीत] जय गरावा रानी मादा बोल साचे

दरबार की जय तो दिल का हुजरा साफ कर दिल

का कमरा साफ कर मेरी मां के आने के लिए और

ध्यान दुनिया से हटा मां को दिल में बैठाने के लिए तो जो लोग मां को दिल में

बैठाना चाहते हैं वो कैसे जय बोलेंगे एक बार नहीं दो बार नहीं तीन बार नहीं बार

जले और की जगह हो जाए तो कोई हर जाना नहीं कोई जुर्माना नहीं लेकिन जय

सभी बोले कैसे जय बोलेंगे दिल का दरवाजा खोलकर दरवाजा कैसे खुलेगा ऐसे जब दोनों

हाथ उठ जाए कल मालूम नहीं य हाथ ऊपर जा पाएगा कि नहीं जिनको फ्रोजन शोल्डर हो गया उनसे

पूछे उनका हाथ नहीं जाता है र तो ऐसे हाथ उठा लीजिए दोनों

जय

कारा बोल साचे दरबार की जय

[संगीत] से नजर उतार रहे हैं मा की आइए ह जगमग

जोत जगी है

भक्तो अरे महाकाली मैया

बनाजी और कदर उतारे वारी [प्रशंसा]

जाए हो महाकाली हम पे

राजी बोलो महाकाली मैया की जय जग

जननी ज्वाला मैया को बुलाएंगे [हंसी]

आपको क्या बोलना है

ले आइए मीठी मठी [प्रशंसा]

लिया थोड़ा रस्ता [प्रशंसा]

छोड़िए दोनों हाथ उठा

[संगीत] के हो जग

जननी जग जननी ज्वाला मैया को बुलाएंगे

जब जननी ज्वाला मैया को बुलाएंगे मा कौन कौन बुला रहा है दोनों हाथ उठाकर

बोल दे हो जगमग जोत मां का दर्शन

पाएंगे जमग ज्योत प मा का दर्शन खाएंगे

श्रद्धा से भक्ति से श्रद्धा से भक्ति से हम सब मा को बुलाएंगे

से भक्ति से हम सब मां को बुलाएंगे आज कोई खाली नहीं जाएगा दोनों हाथ उठाकर

बोल दो उस विश्वास की जोत को मन जगाए मा

उस विश्वास की जो तुम वंद जगाए जम जो तुम मा का दर्शन

आएंगे मे मा जगदमे

मा अे मा

जगदंबे

हो जरा हाथ उठ के

जय

[संगीत] हो कैसा है दरबार हमारी माई

का और दर्शन से क्या होता है हे अदभुत दर्शन प्यारा प्यारा प्यारा

बोलो हे अदभुत दर्शन प्यारा दरबार साचा

है अदभुत दर्शन प्यारा दरबार साचा मां हो दर्शन बड़ा ही पावन नन मेरा नाचा मा दर्शन

बड़ा ही पावन मन मेरा नाचा मा किस किस का मन नाचने को कर रहा है वो एक बार खड़े हो

जाए मां के लिए कि मां देख रही है उनको दिखाना है अरे मैं नाचू तुम नाचो मैं नाचू

तुम नाचो मैं नाचू तुम नाचो मैं नाचू तुम नाचो नाच के मा को रिछ जाएंगे नाच के मा

को रिछ जाएंगे आज खाली नहीं जाएंगे जिसको जो चाहिए मांग से हाथ उठके

उस विश्वास की जो मन में जए उस विश्वास की जोन

जई चला का

दर्शन अ ओ जगदमे

मा े मा हो जगदमे

मा ये भाव करो कि आप मां के बच्चे हो और मां के आगे नाच रहे हो ये सोचो कि मां

आपका डांस देखकर खुश हो जाए जय हो

[संगीत] हम काली मंदिर आए हम काली मंदिर आए रायपुर में बया हम

काली मंदिर आए राया रूप नया ले आई मा रूप नया ले आई हम

मनवाई मा रे रूप दयाल आई हमको बनवाई मां

अब मां का आज दर्शन हो रहा है तो हाथ उठा दो जिसको जो चाहिए आज क्या होगा य पे अरे

जो मांगो ले लेना जो चाहो ले लेना जो चाहो

ले लेना जो चाहो लेलेना है मन की मुराद पाएंगे मन की मुराद पाए आज

कोई खाली नहीं जाएगा योगेश भाई ठकर बोलो उस विश्वास की जोत को यहां

जगाए उस विश्वास की जो को यहां जए मा जगम

जगमग जगमग जगमग जगमग जो पिता का दर्शन पाए

हो अंबे मा हो जगदंबे मा

जगदंबे

[संगीत]

मा अच्छा समय था ऐसा जबरा था योगेश भाई कुछ नहीं था

तब क्या हुआ ना बने थे चांद सितारे होता ना सवेरा

था ना बने थे चांद सितारे होता ना सवेरा था तब मां ने क्या किया सबसे पहले दुनिया

में जो प्रकाश आया वो किस चीज का था ये ज्योति का बोलो जवाला रानी मैया की

जय सबसे पहले मा ने ज्वाला माई के रूप में जोत के दर्शन कराए फिर जानते हैं क्या

किया जो आपके बच्चे और जो इंग्लिश मीडियम में पढ़े हमारे बच्चे सबसे पहली पोयम कौन

सी सीखी आपने जानते हैं कौन सी तारों

कोया रोशन हुई सारी दुनिया रोशन हुई सारी दुनिया ये जोती है माया रोशन हुई सारी

दुनिया ये जोती है माया क्या करेंगे जरा हाथ उठा कर बोलो दोन हाथ

उठा दो अरे सरज में चंदा में जो का दर्शन पाए सरज में संगा में जो का दर्शन

पाए जिसके मन में कोई इच्छा है क्या है तो दोनों हाथ उठाकर बोल दो मा से उस विश्वास

की जो मन में [संगीत] जगाए विश्वास की जो को यहां जगाए

मा का दर्शन आए हो

मा ओ जगदंबे मा

ओ अंबे मा ओ जगदंबे

मा जगद जवाला मैया कोई

के ज्वाला मैया के जगमग जगम जगम जगम जगम जग जगमग जोता का

दर्शन पाए

मा ओ जगदंबे मा

ओ अंबे मा जगदंबे मा

[प्रशंसा]

[प्रशंसा] हाथ जोड़ [प्रशंसा]

लीजिए महाकाली रूपम शति

स्वरूप आवा ग वाली मैया काली दया करो मका

रे

ओम नमो महाकाली रुजम शक्ति जोत स्वरूपम रे

आवा गढवाली मैया प्यारी दया करो महाकाली

[प्रशंसा] [संगीत] रे शमनी शभ को तुमने मारा रक्त बीज सहारा

है दुष्टों को सं हारने वाली दया करो

महाकाली में बाबा गड़ वाली मैया प्यारी

दया करो [संगीत]

मकाली हाथ खोल [प्रशंसा] [संगीत]

के रे रूप र जवाना ने भी डर जाती है तेरे

रूप की ऐसी ज्वाना डकने भी डर जाती

है कौन कौन भक्त है महाकाली का दोनों हाथ उठा

देतो के दुख हरने वाली दया करो मकाली रे

भक्तों के दुख भरने वाली दया

[संगीत]

के कुंड में कूट मगर पार्वती बन लाई रे

मैया तेरी बड़ी निराली दया करो माता रे

रवारी मैया प्यारी दया करो बा

[संगीत]

[प्रशंसा] [संगीत] रे कलकाते में तू काली मा जग जग जननी

ज्वाला रे कलकत्ते ने गाली मा जय जग जननी

वाला रे दोनों हाथ उठ आओ आओ भक्त पुकारे दया

करो माली रे आरवा मैया दया करो माली

[प्रशंसा]

[प्रशंसा] अखंड ज्योति मा तुम्हारी सारे ग्रहो को

सुधारे रे ला रखो भगतो की मैया दया करो माली

वेरली मैया प्यारी दया करो महाकाली रे ओम

नमो महा रूपम शति त जो स्वरूपम रे बा ग वाली मैया

प्यारी दया करो बही [संगीत]

[प्रशंसा] [संगीत] [प्रशंसा]

रे बहुत सारे इसम अे हैं एक अत आरी सुना रहा हूं दोनों हाथ खोल द और ऐसा भाव करें

कि मा सिर पर हाथ रख रही है आंखें बंद करके दोनों हाथ उठा दीजिए

ऐसे हाथ तू सिर पर रख दे मैया तुस्ता ना

कोई न्यारा रे हाथ तू सिर पर रख दे मैया

सुता ना कोई न्यारा रे हे ब्रह्माणी हे

कल्याणी दया करो मा काली रे बाबा घरवाली

मैया प्यारी दया करो महाकाली ओम नमो महाकाली रूपम ओम नमो

महाकाली रूपम ओम नमो महाकाली रूपम ओम नमो

महाकाली रूपम ओम नमो महाकाली रूपम ओम नमो

महाकाली रूपम ओम नमो महाकाली रूपम ओम नमो

मकारी रूप ओम नमो मकारी रूप

जय

[संगीत] [प्रशंसा] मा जब जब दुष्टों

ने आया

है और कुछ असुरों ने सनातन को मिटाने

का अपना संकल्प गहराया

है जरा हाथ उठाकर कह दे महाकाली मैया की

जय जब जब भी पड़ी भगत

पे माने दिया

सहारा और महाकाली का रूप ले

माने दुष्टों को सहारा

कौन कन चाहता है कि महाकाली दर्शन देने आए ना हाथ उठा के बोलते महाकाली मैया की

जय न ट थ [संगीत]

[संगीत]

[संगीत] [हंसी] [संगीत] [प्रशंसा]

[संगीत] महाकाली महाकाली महाकाली महाकाली महाकाली

महाकाली महाकाली [संगीत] महाकाली महाकाली का खड़क

निराला अरे भाई स्वागत नहीं करेंगे दोनों हाथ उठाकर बोलिए जय माता देवय मा मा काली

का खड़क नि डाला गले में नर मुंडो की माला मा काली का खड़क नि डाला गले में नर मुंडो

की माला दोनों हाथ उठा दीजिए प्रीति लहू का प्याला

दे का मुंड की माला

पलाली का मुला कर मुंड की माला प ला का प्याला

रेली काला की माला नह का प्याला रंग है दस्तो

को मार गराए द को मार

गराए ल का ला दे का

ला का जला

[प्रशंसा]

[संगीत]

[संगीत]

चली समर में आज भवानी रूप भयंकर

दिखलाए च ऐसा ड़ मैया ब

रा [संगीत] रा तलवार लो मा

लहराए लहराए

लरा वाली देवी द कालेवा कर जाए ने वाली देवी

द श पधारे अष्टभुजा में शस्त्र पधारे बड़े

बड़े राक्षस संधार अष्टभुजा में श पधारे बड़े बड़े राक्षस

रे रूप बड़ा विराला

रे की मालाला का जाला

[संगीत] [प्रशंसा]

[संगीत]

देवता काया देवता घबराए शरण में अपने कष्ट को बदला की जान

वि और

उवत बना देवी रूप प्रकट हुआ पर्वत तेज बला देवी रूपम प्रकट हुआ र भवानी क्या मुंडा

मारू को

हुआ हे रक्त भी का जरा भी पथवी पर जो फि

जाता रक्त बीज का फू जड़ भी पृथ्वी पर जो जाता उसी फू से रक्त बीज राता हो जा

राक्षस पैदा हो जाता राक्षस पैदा हो जाता माली का मुंडा बन अपने मुह को फना

अपने मु को भला अपने मु को भला सारा

ही रक्तहीन फिर असुर हो गया रक्तहीन फिर असुर हो गया रक्त पहार हो

गया ही असुर हो गया र सहार हो गया

[संगीत] काली के क्रोध की ज्वाला दे काली

का रे

[संगीत] [प्रशंसा] [संगीत]

और चली क्रोध में काली जो भी सामने आया काट

दिया चली क्रोध में ली जो भी सामने आया काट दिया सारी को माने नरम से काट

[संगीत] दिया कैसे चांदली शकर की शरण में तब आए

शकर की शरण में सबब आए चरण में

महाकाल महादेव हे

महादेवा देवा देवा जो शैतान सभी शंकर की शरण में दवाए

शंकर की शरण में दए शंकर की शरण में दए ली का वो रूपं कर दे प्रभू भी घबराए ली का वो

रूप कर दे प्रभ भी घबराए अब शंकर जी ने देखा कि काली जी तो पूरी सृष्टि को नाश कर

दगी इस त्रिभुवन में कोई नहीं जिंदा बचेगा तब ये त्रिभुवन को बचाने के लिए त्रिभुवन

पति शंकर क्या करते हैं और लेट गए शिव काली

आगे लेट गए शि काली आगे लेट गए शि काली आगे और जैसे ही पैर

लगा काली जी का शंकर जी को शक्ति शिव में समा गई और लजा ब बाहर

निकल आई और क्रोध शांत हो

गया शांत हुई

विराला रे

स्वागत नहीं करेंगे शंकर जी का तालिया दोनों हाथ उठा दीजिए बम बम बम भोले

बाबा बम बम बम भोले बाबा ना बम बम बम भोले

बाबा ना डम डम डम डम डम रूजे मड डम मम डम बजे

डम डम डम डम डम रु बजे बम से बम बम बम भवाना से बम बम बम

भवाना से महाकाल महाकाली नाचे महाकाल

महाकाली नाचे महाकाल महाकाली नाचे महाकाल

महाकाली नाचे डम डम डम शिव डम रुप मम डम डम शिव

डमरू बजे डम डम डम डम डमरू बजे डम डम डम

डम डम रु बम बम बम भोले बाबा नाचे बम बम

बम भले

बाबा जय हो

[संगीत] भोले शंकर बड़े भोले भाले भोले शंकर बड़े

भोले वाले मेरे भोले शंकर बड़े भोले भाले मेरे भोले शंकर बड़े भोले

वाले भोले की जल बेट देखो रा भोले के ट से

निराले ढोले के ट बाट जब से निराले ढोले के ट बाट जब से निराले हो जा में नहीं कोई

जैसा दानी जा में नहीं कोई जैसा दानी हो जा में नहीं कोई जैसा दानी में नहीं कोई

जसा दनी हम कर भी भोले करो मेहरबानी हम पर जी

बोले करो मेहरबानी हम पर जी बोले करो मेहरबानी

हम पर भी भले गवानी हो गरीबों की बिगड़ी बना देने वाले

गरीबों की बिगड़ी बना देने वाले हो गरीबू की बिगड़ी बना देने वाले हो गरीबू की

बिगड़ी बना देने वाले दोनों हाथ उठा लो और बोल दो भोलेनाथ

को किनारे से नैया लगा देने वाले किनारे से नैया लगा देने वाले किनारे से कश्ती

लगा देने वाले ऐसे कश्ती लगा देने वाले हो तुमने भोले लाखों की बिगड़ी बनाई हो तुमने

भोले लाखों की बिगड़ी बनाई एक बात आज से

साल पहले हमने ये भजन कहीं गाया सुनाया उस राइटर लगा हो मेरे वास्ते का है र लगाई

मेरे वास्ते का है र लगा हो मेरे वास्ते का है देर लगाई मेरे वास्ते का है देर

लगाई [संगीत]

म म म म म ब ड डम ड डम डमरू बजे डम डम डम

डम डमरू बजे मड डम डम ड डम ब बम बम बम भले

बाबा बम बम बम भले बा बम बम बम भोले

बाम भले

महाकाली

नाचे महाकाल

महाकाली ना अब काली जी क्या कह रही

हैम जय शिव शकर शिवकर जय शिव शंकर जय शिव

शंकर काली जी कह रही है आप जानते हैं शंकर जी कौन है जानते हैं नहीं जानते काली जी

क्या कह रही है देवताओं के ये अवसर देवताओं के ये अवसर देवताओं के ये अवसर

देवताओं के ये अवसर और क्या कह रही है कौन है तेरे बराबर

कौन है तेरे बराबर जगत का तू है चराचर जगत रा न कर भान का गोला नकन का गोला नकन का

गोला नन का गला न को बंद कर भोला को बंद कर भोला को बंद कर भोला को बंद कर

भोला धन्य हो भोले अविनाशी धन्य हो भोले अविनाशी धन्य हो भोले अविनाशी धन्य हो

भोले अविनाशी कौन कन जानता है काशी कहां है कहां है काशी कौन कन जानता है जी क्या

बता रही है दोनों हाथ उठा दो फसी त्रिशूल पे कासी फसी त्रिशूल पे कासी फसी ूल में

काशील में काशी प्यारा गंगा का किनारा प्यारा गंगा का किनारा प्यारा शिरा का

किनारा प्यारा श नारा थोड़ी दूर से भवन राज थोड़ी दूर से भवन राज साधू यही लगाते

नारा साधू यही लगाते नारा उनके भाते हो थाल उनके ते हो थाल जय हो जय हो महाकाल जय

हो जय हो महाकाल तेरी महाकाल ज हो तेरी

[संगीत] महाकाल डम डम डम डम डम रू बजे मम मम डम डम

डमरू बजे डम डम डम डम डम रू बजे मम मम मम

मम डम रू बजेम बम दम भोलाम बम बम बोले

बाबा महाकाल महाकाली महाकाल महाकाली नाचे महाकाल महाकाली नाचे

महाकाल महाका ना मम डम डम शिव डमरू बजे मम

डम डम शिव डमरू [संगीत]

बडम डम मड मड डम रू मम मम मम मम मम रु बजे

मम मम मम म मरु बजे ड ड ड ड ड बजे भोले

नाहा नाचे

महाना महाकाली रा

[संगीत] श्वर

महाकाल मवानी

नाचे अच्छा अच्छा कितने लोग है जो उजैन जाना चाहते हैं

दर्शन करना चाहते तो आइए इस भजन को सिर्फ वो लोग

गाएंगे जो महाकाल के दीवाने है

की व एक उसको नेता भी बोलने में शर्म आती है एक

पागल कुत्ता कहीं भोका बोला की य हिंदुत्व जो है य सनातन जो

है ना जो मलेरिया है य ू है इसको हम खत्म कर

देंगे ऐसा बोला कोई कौन कन दीवाना है वो हाथ उठाकर

बोलते सुनले सनातन को मिटाने वाले महाकाल के दीवाने है

हम हमको ना छेड़ महाकाल के दीवाने है हम हमको

ना क्योंकि गए जो हम बर गए जो हम अरे कर देंगे

सीधा े तो जो महाकाल के दीवाने झूमने को तैयार

हो जाए अब काली जीी महाकाल आपके बीच में आएंगे कुछ वा

[संगीत]

[संगीत]

[संगीत]

[प्रशंसा] [संगीत]

हे महाकाल के दीवाने हैं हम हमको ना छे

महाकाल के दीवाने हैं हम हमको ना छेड़ महाकाल के दीवाने हैं हम हमको ना छेर

महाकाल के दीवाने हैं हम हमको ना छेर

बिगड़ गए जो हम बिफर गए जो हम बिगड़ गए जो

हम फर गए जोहा दोनों हाथ उठा दो कर देंगे सीधा

खेल दोनों हाथ उठाकर जो महाकाल का दीवाना है अपनी जगह पर खड़ा हो जाए महाकाल के

दीवाने हैं हम महाकाल के दीवाने हैं हम हम को ना छ

महाकाल के दीवाने हैं हम हम को ना छेर महाकाल के म हम हमको ना छ

[प्रशंसा] [संगीत]

[संगीत]

[संगीत]

कमरू बजाए हम तो भोले के प्यार में कमरू

बजाए हम तो भोले के प्यार में

[संगीत]

हे डमरू बजाए हमको भोले के प्यार में डबलू

बचाए हम तो भोले के प्यार में पढ़ते नहीं

हम जल्दी कोई तकरार में पढ़ते नहीं हम जल्दी कोई तकरार में क्योंकि कौन कौन

महाकाल का भक्त है दोनों हाथ उठाकर एक बार बोल दे महाकाल के दीवाने हम हमको

ना काल के दीवाने हम हमको नाचे महाकाल के

दीवाने हैं हमको रा महाकाल के दीवाने हैं

हम हमको रा

[प्रशंसा]

[संगीत]

[संगीत] ताली बजाए हमको भोले के प्यार में ताली

बजाए हमको भोले के प्यार में ताली जरा दोनों हाथ उठा के एक साथ

ताली ली

आईली ताली बजाए हमको भोले के प्यार में

ताली बजाए मोड़ के प्यार में पढ़ते नहीं हम जल्दी

कोई तकरार में पढ़ते नहीं हम जल्दी कोई तकरार में

क्योंकि कौन कौन दीवाना है महाकाल का वो हाथ उठाकर खड़े होकर बोल दे जरा उछल के

महाकाल के दीवाने है हम महापाल के दीवाने है हम हमको ना

महाकाल के दीवाने हैं हम हम को नाथे महाकाल के दीवाने हैं हम

हम जय हो

[संगीत]

दोनों हाथ ड़

के हे शंख बजाए हमको भोले के प्यार में शंख ब

जाए हम तो भोले के प्यार में

शंख होने के प्यार में पढ़ते नहीं हम जल्दी कोई तकरार में पढ़ते नहीं हम जल्दी

कोई तकरार कल के दीवाने में हम हमको ना छे

महाकाल के दीवाने हम हमको ना छ महाता के दीवाने है हम हमको ना

[संगीत]

[प्रशंसा] [संगीत] हाथ उठाकर बोलो महाकाल के दीवाने हम हम

कोना थे महाकाल के दीवाने हैं हम हमको ना

छ महाकाल के दीवाने हैं हम हमको ना े

महाकाल के दीवाने है हम हमको ना े हमको ना

े हम [प्रशंसा]

ना सतान सरकार में महा बाल सरकार में महा

बाल सरकार में महाकाल सरकार चता ते रोज

जिका रूप सिकार जिका रूप सिकार का रू सब देवों के

महादेवा जंग हो सब देवो के महादेवा

[संगीत] कौन कन जानता है उनको दोनों हाथ उठा दे जन

कीय महाकाल महाकाल सरकार में महाकाल सरकार

महाकाल सरकार महाल सर महाकाल सरकार महाकाल

सरकार [संगीत]

जय [संगीत]

[प्रशंसा] [संगीत]

हो उन्हें चिंता नहीं है काल की जो उन्हें

चिंता नहीं है काल जिन पर हो कृपा महाकाल जिन पर हो कृपा महाकाल करो कृपा महाकाल की

उ चिंता नहीं निकाल की करो कृपा महाकाल की करो कृपा महाकाल की करो कृपा महाकाल की

महाकाल बड़े

दयालु शभ मकाल है बड़े

दयालु भक्तों केवाद महाकाल सरकार के महाकाल सरकार

महाकाल सरकार मेरे महाकाल [संगीत]

सरकार जय [संगीत]

हो महान ही बन जाऊ

[संगीत] जय

[संगीत]

हो महाकाली का दरबार है महाकाली का दरबार है

महाकाली का दरबार है शिव सबके पालनहार शिव

सबके पालनहार शिव सबके पालक उनकी ही कृपा

से

जलता महादेव की कृपा से ही

जि महाल सरकार सबाल सरकार महाकाल सरकार जी

महाकाल सरकार मल सर

[संगीत]

महाकाल के दीवाने है [संगीत] हम महाकाल के दीवाने है

हम महाकाल के दीवाने हैं [संगीत]

हम हमको ना छे तब तक राम

मंदिर नहीं बन पाया और जैसे ही

ही राम जी की कृपा हुई यह सोया हुआ बबर शेर जैसा हिंदू समाज अभी थोड़ा ही जाग

पर और राम भक्तो की सरकार या दिल्ली के

भगवा लहरा दिया अने और बदले में आपको क्या

मिला भव्य अयोध्या में भव रा तो ऐसे कितने

लोग है जो अयोध्या राम मंदिर करना

चाहते मैंने उनसे पूछा नहीं है जो हनुमान जी महाराज की

ज बो अभी बीच में एक प्रोग्राम करने गया था थाईलैंड वहा पर एक देव मंदिर है वहा पर

देवी भागवत की कथा हुई और कथा सुना रही मैंने कहा

जयहा छग मतारी तो वो बिटिया रोने लगी कहती छ दिन से मैं

चाऊ माऊ काऊ ये सब भाषा सुभ चरंग ने राम नाम

का ये डंका बजा

दिया हे सोने में मढी लंका को

धू धू जला

दिया हाथ उ बोलिए बोलिए बजरंग बली की जय

[संगीत]

[संगीत]

[संगीत]

[प्रशंसा] [संगीत]

बोलो बज काम है

के के तेरे गजब काम है साजन के गुलाल तेरे

गजब काम है अब तो ताली बजानी पड़ेगी जिसको सबसे सुंदर लग रहे हैं

हनुमान जी वो हाथ उठाकर बोलो जय श्री राम जय श्री राम छाती नाजर दिखावे वो मा सीता

राम है सीता राम है बजरंग बली बजरंग बली

गज गली में नाम है बजरंग बली बजरंग बली गज गली में नाम है

बोली बोली महाबली जय हो बजरंग पति बोली बोली महाबली जय हो

[संगीत]

बरप जय श्री राम दुनिया न चलावे माला दबावे दुनिया

लावे मुला दबावे शक्ति है का का पार नहीं

तोवे शक्ति है शक्ति है ार नहीं

तोवे वानर का रूप लंबी पछ काम है

र दिखावे सीता राम है सीता राम है बजरंग

बली बजरंग बली बजरंग बली बजर बजरंग बली बजरंग बली गली गली

बना बली बली महाबली जय हो बजरंग बली बली

बली महावली

जय

श सीतामा की सुध लेने उड़ते लंका सीतामा

की सुध लेने उड़ नका नका जला के आपने

लंका जला के आपने बजाया राम डंका लंका जला

के आपने

रामका हनुमान जी ने रावण की

लंका जलाई रावण ने क्या किया हनुमान जी की पूछ

[प्रशंसा] आग लगाई आग लगाई रावण ने ये सोच कर कि इस

वानर की पच का कच्चा मास जलेगा तो इसको

बहुत दर्द होगा इसको दर्द होगा तो हमको बहुत मजा आएगा ध्यान से सुनिए भाइयो बहनों

रायपुर छत्तीसगढ़ के जानदार शानदार राम भक्तो

जब किसी को दुख देने में तुमको सुख का कभी अनुभव हो तो समझ

लेना खोपड़ी प रावण आकर बैठ गया है और जब रावण सिर पर आकर बैठता है तो वो पूरे कुल

का नाश करा देता है इसलिए किसी के दुख में

कभी खुशी नहीं मनाता भले ही वो हमारा दुश्मन क्यों

रावण ने आग लगाई हनुमान जी की पूछ में कि ये पूछ चलेगी तो वाना रोएगा चीगा

चिल्लाएगा लेकिन हनुमान जी ने क्या किया रावण की लंका ही

फूक जला क्यों जलाई

लका हरण के रण

सुम हैवे सीताराम है सीताराम है बजरंग बली

बजरंग बली गलग बला बजरंग बली बजरंग बली ग

ग बला बली बली महाबली जय हो बजरंग बली बली

बली महाबली जय हो बजरंग बली

[संगीत]

[प्रशंसा] [संगीत]

[संगीत] मुख देखेते हर रावण की सीता रावण को मारा

जनता को ता रावण को मारा [प्रशंसा]

ताता तब ये आए सबब तब ये आए तब तब ये आए

तब तब ये आए जब जब ये दुनिया री राम की

ार राम

है स ता

[संगीत]

[संगीत]

[संगीत]

हैरे बजरंग मुझे ले चलो राम लला की गली

क्यों न [संगीत] प्रति गई हृदय कमल की कली सुन लो प्यारे

बजरंग मली प्यारी है सुंदर श मूरत प्यारी

है काया श्यामल बलिहारी है

सावल बलिहारी है राम जी काले क्यों

है कैसी मूर्ति है वहां पर बोलो सावली है

ना क्योंकि काली मैया का पूरा प्यार राम जी को मिलता है बोलो महाकाली मैया की जय

तो कैसी मरत है मरत काली पे वाली है मूरत

काली रवानी है और कैसी

है सुंदर राम लला से मुझे सुंदर राम लला

से मुझे मिलवा दो मेरे

बजरंग बली मिलवा दो मेरे बजरंग बली

बजरंग बला आपको जाना है जाना है जाना है

जिसको जाना है वो दो बार बोलेगा जाना है जाना है आपको जाना

है क्या आपको जाना है जाना है अयोध्या तक भी जाना है राना गोपाला है

अयोध्या तक भी जाना है राना गोपाला

है अयोध्या कग अयोध्या क

अयोध्या जा है राम कोपाला है अयोध्या जा

है रामला को पाना है राम हमारे हम है राम के राम हमारे हम है राम के राम हमारे हम

है राम के राम हमारे हम है राम के कौन कन को लगता है राम हमारे हैं

किसकिसको लगता है हम राम के है तो वो कहते अरे उनको मन में बताना है अयोध्या नगरी

जाना है जय हो अयोध्या नगरी जाना है ला को पाना है

राम हमारे हम है राम राम हमारे हम राम और इनकी रंग लग जादा

है और ये जाने का अवसर कमाया

Leave a Comment