लोगों के पैरों तले जमीन खिसक जाएगी तुम्हारी इतनी बड़ी जीत होगी - instathreads

लोगों के पैरों तले जमीन खिसक जाएगी तुम्हारी इतनी बड़ी जीत होगी

मेरे प्रिय बच्चे मैं तुम्हारा परमपिता परमेश्वर तुम्हारे लिए एक बहुत ही महत्त्वपूर्ण संदेश लेकर आया

हूं इस संदेश का तुम तक पहुंचना अत्यंत आवश्यक था और विभिन्न प्रकार की योजनाओं

के बाद अब यह तुम तक पहुंचा है मेरे प्रिय यह संदेश तुम तक पहुंचा इस

बात को प्रमाणिकता है कि अब तुम्हारे जीवन में बहुत बड़ा बदलाव होने वाला

है जब मनुष्य के जीवन में बहुत बड़ा बदलाव होने वाला होता

है तब उससे पहले मैं उसे कुछ संकेत और संदेश देता रहता हूं यह क्रिया थोड़ी लंबी

या थोड़ी छोटी हो सकती है किंतु इसमें मनुष्य को धैर्य बनाकर

रखना होता है और अब जब कि तुम्हारा चुनाव किया जा चुका है इस संदेश के लिए तो

तुम्हें भी अपने आप में धैर्य बनाकर रखना होगा मेरे प्रिय तुम्हें इस संदेश को पूरा

सुनना है चाहे कोई भी परिस्थिति क्यों ना हो तुम्हें इसे बीच में छोड़कर जाने की

भूल नहीं करनी है इसमें तुम्हारे लिए बहुत से आशीर्वाद

मौजूद है इसलिए हर हाल में इसे पूरा सुनना है पूरा सुनते जाओ मेरे प्रिय यह संदेश

जानकर तुम प्रसन्नता से भर जाओगे तुम यह समझ जाओगे कि तुम्हारे जीवन में क्या घटित

होने वाला है वास्तव में मैं तुम्हें तुम्हारे प्रत्येक दिन के जीवन में अब जो घटित होने वाला है उससे अवगत कराने आया

हूं मेरे प्रिय मैं बहुत बार तुम तक यह संदेश पहुंचाना चाहता रहा हूं लेकिन हर बार तुम

मुझे अनदेखा कर देते हो और तुम यह नहीं जान पाते कि ऐसा करके तुम अपने लिए ही ऐसा

मार्ग खोद रहे हो ऐसा मार्ग जो तुम्हें केवल पतन की ओर ले

जाएगा इसलिए तुम्हें मेरे संदेशों को अनदेखा नहीं करना चाहिए इसमें तुम्हारे

लिए ऊर्जा शक्ति होती है जिसे ग्रहण करना तुम्हारे लिए अत्यंत आवश्यक होता

है मेरे प्रिय यह संदेश तुम्हारे भलाई के लिए ही है तुम अभी इस बात से अनजान हो कि

तुम्हारा शत्रु बार-बार तुम्हें हराने के लिए विभिन्न प्रकार की

योजनाएं बना रहा है वह किसी ना किसी तरीके से किसी ना किसी माध्यम

से तुम्हें चिंतित देखना चाहता है तुम्हें परेशान करना चाहता है तुम्हें प्रताड़ित

करना चाहता है तुम्हारे शत्रुओं ने जो भी योजना बनाई

है उसके बारे में मुझे सब कुछ जात है मेरे प्रिय किंतु तुम्हें कुछ बातों का ध्यान

रखना है तुम्हें कुछ चीजों पर विशेष ध्यान देना है तुम्हारे शत्रु ने बहुत सी योजनाएं

बनाई पहले भी लेकिन हर बार वह अंतः विफल होता गया और ऐसे विफल होने पर वह सदा यह सोचता

है कि आखिर तुम्हारे ऊपर कौन है जो बिल्कुल नजरें जमाए बैठा

है वो यह सोचकर पूरी तरह से हैरान रह जाता है कि आखिर यह सब उसके साथ क्यों हो रहा

है क्यों उसकी योजनाएं विफल हो जाती है क्यों वह तुम्हें परेशान नहीं कर पाता

है मेरे प्रिय बच्चे इसका कारण यह है कि मैं विभिन्न माध्यमों से तुम्हारे

ऊपर नजरें बनाए हूं मैं विभिन्न देव दूतों के माध्यम से तुम्हें बचा कर रखता

हूं तुम पर कोई आंच नहीं आने देता हूं और यदि तुम चाहते हो कि जीवन भर

तुम्हारी रक्षा ऐसे ही होती रहे तो तुम्हें अभी इस संदेश को लाइक करना

है साथ ही संख्या लिखनी है यह लिखकर तुम्हें यह भी लिखना है कि

तुम सदा यह चाहते हो कि तुम्हारी रक्षा हमेशा की जाए तुम पर कोई आंच ना

आए मेरे प्रिय मैं जानता हूं कि ऐसा करना कई बार तुम्हारे मन में नहीं आता

है लेकिन यह करना तुम्हारे लिए आवश्यक है अपने चाहतों की पुष्टि करना तुम्हारे लिए

विशेष रूप से आवश्यक है क्योंकि जब तुम अपने चाहतों की पुष्टि

करते हो तो अपनी इच्छा को ब्रह्मांड में विसर्जित करते हो और जब तुम्हारे इच्छा प्रमाण में विलीन

होती है तब तुम्हें वह सब मिलने लगता है जो तुम्हारे जीवन में तुम चाहते आए

हो मेरे प्रिय तुम्हारे जीवन में कुछ ऐसे लोग हैं जो तुम्हारे हर कार्य में बहुत

दखल देते हैं तुम्हारी बातों में वह दुनिया भर की बातें बनाते हैं तुम्हारे जीवन में कब

क्या घटित हो रहा है कब क्या नहीं हो रहा है हर एक चीज पर नजरें बनाए रखते

हैं यह लोग तुम्हारे जिंदगी को तबाह करना चाहते हैं यह लोग तुम्हें मानसिक रूप से

प्रताड़ित करना चाहते हैं और इसी के चलते तुम कई बार विवश हो

जाते हो विभिन्न प्रकार की राजनीति और कूटनीति का शिकार हो जाते

हो कई बार अपने परिवार में तो कई बार अपने कार्यक्षेत्र में तुम इस तरह से हताश हो

जाते हो कि तुम्हें कोई राह नजर ही नहीं आती है कई बार तुम रोने लगते हो मुझसे भी

प्रार्थनाएं करते हो तुम अपने ही जीवन को व्यर्थ और निरर्थक समझने लगते

हो जबकि तुम्हें मनुष्य का यह अमूल्य जीवन मिला है एक ऐसा जीवन जिसे पाने के लिए वे

भन्य प्रकार की आत्माएं तरसती रहती है और अब जबक तुम्हें यह जीवन मिला है तो तुम

कुछ लोगों की बातों में आकर कुछ लोगों के बहकावे में आकर या कुछ लोगों के षड्यंत्र

का शिकार होकर स्वयं को कमजोर मान बैठे हो क्या तुम्हारी अहमियत केवल इतनी मात्र

है क्या मैंने तुम्हें केवल इसलिए बनाया है ताकि तुम अपने आप को कमजोर समझो ताकि

तुम संघर्ष ना कर पाव किसी के सम्मुख खड़े होकर अपनी बातें ना रख

सको मेरे प्रिय तुम्हें किस बात का भय है किस बात के चिंता सताती है

तुम्हें तुम्हें लगता है तुम्हारा भविष्य बर्बाद हो जाएगा तुम्हें लगता है कोई

तुम्हारे भविष्य में तुम्हें हानि पहुंचाएगा ऐसा सोचना बंद कर दो यह बेवजह

की निरर्थक बातें हैं इस संसार में कोई भी ऐसा नहीं जो तुम्हें हरा सके कोई भी ऐसा

नहीं जो तुम्हें परेशान कर सके जब तक कि तुम स्वयं ही परेशान ना होना

चाहो मेरे प्रिय वह सभी लोग जो तुम्हारे खिलाफ राजनीति कर रहे हैं षड्यंत्र रच रहे हैं

तुम्हें पटखनी देना चाहते हैं तुम्हें हराना चाहते हैं बात-बात पर तुम्हें ताने

देते हैं तुम्हारे पीठ पीछे तुम्हारी निंदा करते हैं तुम बेहतर हो या ना हो तुम्हें किसी

के भी चाटुकारिता करने की बिल्कुल भी आवश्यकता नहीं है तुम यह भूल

जाओ कि कोई तुम्हें हानि पहुंचा सकता है इस संसार में उत्पन्न हुआ प्रत्येक मनुष्य

प्रत्येक जीव प्रत्येक पक्षी प्रत्येक वनस्पति मुझसे ही उद्धृत हुआ है और वह अंतत मुझ में ही विलीन हो जाएगा मैं उसकी

रचना करता हूं उसका संघार भी करता हूं उसका पालन भी करता हूं विद्वंस भी करता

हूं लेकिन मैं उसके कर्मों को नहीं रचता प्राणी स्वयं ही अपन अपने कर्मों का

रचनाकार होता है स्वयं ही अपने कर्मों का पालनहार होता है और स्वयं ही अपने कर्मों

का विध्वंसक भी होता है जब मनुष्य को यह ज्ञान हो जाता है कि

उसके कर्म उचित दिशा में नहीं हो रहे हैं बावजूद इसके वह गलत कार्य करता है अनुचित

कृत्य करता है तो उसे हारने से उसे बर्बाद होने से इस

संसार में कोई भी ताकत नहीं रोक सकती ना कोई भक्ति ना कोई श्रद्धा ना ही

किसी तरह की सहायता उसका बचाव कर सकती है तब वह मेरे त्रिकाल रूपी अवतार का भोज्य

बन जाता है मेरे प्रिय बच्चे जो लोग तुम्हें हराना चाहते हैं तुम्हें सताना चाहते हैं जो

चाहते हैं कि तुम सदैव परेशान रहो उन्हें इस बात का ज्ञान नहीं है कि वह

कितनी बड़ी भूल कर रहे हैं उन्हें बिल्कुल भी ज्ञात नहीं है कि

ऐसा करके वह अपने जीवन को स्वयं ही तबाह कर रहे हैं प्रिय बच्चे मैं आज तुम्हारे लिए आया

हूं तुम्हारे दुखों को देख कर आया हूं तुम्हारे आंसुओं को देखकर आया हूं

मैं तुम्हें यह बताने आया हूं कि तुम्हें धैर्य रखना है तुम्हें चिंता नहीं करनी

है तुम बेवजह की चिंता कर रहे हो और जिन चिंताओं में तुम अपना समय जाया कर रहे हो

वास्तव में उनका कोई मूल्य भी नहीं है कुछ समय बाद वह तुम्हें व्यर्थ लगने

लगेंगी तुख लगने लगेंगी कुछ समय बाद तुम उस पर ही हंस रहे

होगे तुम अपनी ही चिंता को सोचकर स्वयं ही यह विचार करोगे कि आखिर कैसी छोटी-छोटी

बातों को लेकर तुम चिंता किया करते थे ऐसे छोटी छोटी बातों को लेकर परेशान

होना बंद कर दो मेरे प्रिय यदि छोटी-छोटी चीजों को लेकर तुम चिंता

करोगे तो जीवन में बड़े मूल्य की चीजों को भला कैसे हासिल कर पाओगे तुम्हें किसी के

भी सम्मुख भयभीत होने की आवश्यकता नहीं है फिर चाहे वह किसी विपद पर हो प्रतिष्ठा

पर हो जाए चाहे उसके पास कितना ही धन हो या शक्ति हो कोई भी मुझसे शक्तिशाली नहीं

है कोई भी मुझसे श्रेष्ठ नहीं है और मेरी नजर में तुम श्रेष्ठ हो मैंने

तुम्हें श्रेष्ठता के लिए बनाया है मैंने तुम्हें प्रेम का सागर बनाया है तुम स्वयं

को कोई मटका समझने की भूल ना करो तुम्हारी क्षमताएं असीमित है तुम्हें

अभी अपनी क्षमताओं का ज्ञान नहीं तुम स्वयं को तुख समझ रहे हो छोटा समझ रहे हो

स्वयं को निरर्थक समझ रहे हो एक बार अपने भीतर उतर कर देखो अपने

भीतर ध्यान लगाकर देखो तुम कौन हो कहां से आए हो क्या करने आए

हो तुम्हारा उद्देश्य क्या है तुम अब तक क्या करते आए हो यदि एक बार तुम इसका आकलन

करोगे मानने लगोगे और यह अहंकार वश नहीं होगा वास्तव में यह

श्रद्धावन यह संसार के कल्याण के लिए होगा तुम्हारे जीवन में जो भी घटनाएं अब तक घटी हैं वह

यूं ही नहीं घट गई अनावश्यक नहीं घट गई हर घटना एक योजना का हिस्सा रही

है बेशक मैं तुम्हारे लिए योजनाएं बनाता हूं तुम्हारे लिए परिस्थितियों का निर्माण

करता हूं किंतु सिम संसाधनों में विभिन्न परिस्थितियों में चाहे वह तुम्हारे पक्ष

में हो या तुम्हारे विपक्ष में हो चाहे मृत्यु का भय हो चाहे जीवन का भय

हो चाहे मित्रता का भय हो चाहे संबंधों का भय हो जैसा भी भय हो और जैसी भी परिस्थिति

हो तुम उस समय में उस क्षेत्र में उन परिस्थितियों में उपलब्ध संसाधनों के साथ

क्या निर्णय लेते हो कैसा चुनाव करते हो अंततः यही महत्त्वपूर्ण होता

है यह तुम्हारे चरित्र का निर्माण करता है यह तुम्हारे लिए कर्मों का निर्माण करता

है और तुम जो के जेत की दिशा में अग्रसर हो चले हो फिर भी बेवजह व्यर्थ की चिंताएं

पाल रहे हो मैं तुम्हें यह बताने आया हूं कि तुम्हारा जीवन उचित ही नहीं है है व्यर्थ

की समस्याओं को तुम बढ़ा चढ़ाकर सोच लेते हो और फिर उनसे ही भयभीत हो जाते

हो मेरे प्रिय बच्चे इस तरह भयभीत होना बंद करो इस तरह से विचार करना बंद करो तुम

अमूल्य हो तुम्हें भला किसी बात का क्या भय यदि तुम भय महसूस करोगे स्वयं को तुच्छ

मानोगे या तुम अपना अनादर नहीं कर रहे हो मेरा अनादर कर रहे हो या इस ब्रह्मांड का

अनादर कर रहे हो या नियति का अनादर कर रहे हो यह परमात्मा का अनादर है और ऐसा करना बिल्कुल

भी श्रेष्ठ नहीं है खुशियों से भरे परिस्थितियों का निर्माण करने की योजना बनाई

है और मैं इस योजना पर कार्य कर रहा हूं मैं विभिन्न प्रकार की चीजें निर्मित कर

रहा हूं तुम्हें इसे सहजता से स्वीकार करना होगा तुम इसे स्वीकार नहीं

करते और इसे ना स्वीकार करने के कारण तुम्हारे जीवन में दुख की परिस्थिति बनती

रहती है मेरे प्रिय इन दुखों को तुमने स्वयं ही आकर्षित कर लिया है ना चाहते हुए भी तुम इन दुखों को

आकर्षित कर रहे हो ना चाहते हुए भी तुम ऐसी परिस्थिति के बीच फंसते चले जा रहे हो

जो तुम्हारे लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं है इसलिए जरा दिमाग लगाओ जरा विचार करो

सही दिशा में सोचना प्रारंभ करो सही मार्गदर्शन को लेना प्रारंभ करो और किसी

से भी भय ना खाओ कोई भी तुमसे श्रेष्ठ नहीं है है फिर

चाहे उसके पास कितना ही धन हो चाहे कितनी ही ज्ञान क्यों ना हो चाहे कोई भी पद हो

प्रतिष्ठा हो चाहे कितना ही उसका सम्मान क्यों ना हो चाहे समाज में लोग उसके लिए कुछ भी

करने को तैयार हो किंतु तुम्हारे पीछे मैं हूं तुम पर मेरा हाथ है और आदिकाल से ही

जिसने मेरा साथ लिया है और जीत क्या है फिर चाहे कितना ही भयंकर युद्ध क्यों

ना हो मेरे प्रिय कभी एक विशाल युद्ध हुआ करता था तब मैंने यह चुनाव यह विकल्प

लोगों के समक्ष रखा था कि वो या तो मेरा चुनाव कर ले या फिर

बहुत बड़े-बड़े ज्ञानी पंडित बहुत बड़े-बड़े योद्धाओं को चुनाव कर ले और जिसने भी मेरा चुनाव किया वह अंतः विजय हो

गया फिर चाहे वह सबसे कमजोर पक्ष में क्यों ना रहा हो तुम जिसके भी कमजोर पक्ष

में हो मैं तुम्हें भी जीत दिलाने आया हूं लेकिन मेरा हाथ तुम्हें स्वयं ही थामना

होगा मेरी तरफ आने के लिए तुम्हें अपनी इच्छा शक्ति जतानी होगी यदि तुम शिकायतें

करते रहोगे यदि तुम बार-बार आवेगी होकर सबर खोते रहोगे तो तुम वह कभी प्राप्त ही नहीं कर

पाओगे जो प्राप्त करना तुम्हारे जीवन का लक्ष्य है तुम वह कभी प्राप्त ही नहीं कर

पाओगे जो प्राप्त करना तुम्हारी नियति है जो प्राप्त कर तुम्हारी किस्मत में

लिखा हुआ है मेरे प्रिय तुम बहुत बड़े जीत की ओर बढ़ चले हो लेकिन इस जीत को तुम्हें

अंतः स्वयं में ही समाहित करना होगा इस जीत को तुम्हें स्वयं ही अपने

भीतर उतारना होगा वह जो तुम्हारे शत्रु हैं एक दिन तुम्हारे मुरीद हो जाएंगे

तुमसे ही जीवन जीने की कला सीखने आएंगे तुमसे ही आध्यात्म की कला सीखने

आएंगे तुम्हारे प्रभाव क्षेत्र में आकर तुम्हारे आभा मंडल में आकर उनका हृदय

परिवर्तित हो जाएगा वह रूपांतरित हो जाएंगे वह तुम्हें ही अपना गुरु मान

बैठेंगे तब तुम्हारा यही चरित्र उनके भविष्य का भी निर्माण करेगा तुम्हारी

करुणा तुम्हारी दया की भावना उनके उद्धार का भी कारण बनेगी किंतु उससे पहले तुम्हारा उद्धार

होगा और तुम जितने लोगों की सहायता करते चले जाओगे चाहे सम्मान बांटो चाहे आदर

बांटो चाहे ईर्ष्या बांटो चाहे द्वेश बांटो चाहे बाटो कुछ भी बांटो ग वह तुम्हारे पास पुनः

लौट आएगा मैं जानता हूं तुमने अपने जीवन में बहुत ठोकरे खाई हैं बहुत से लोगों ने

तुम्हारे पीठ पीछे वार किया है तुमसे अपना मतलब साधा है तुम्हें

इस्तेमाल किया है वह तुम्हारे मुख पर तो अच्छी बातें करते आए हैं लेकिन पीठ पीछे

तुम्हें ही हराने का विचार करते आए हैं तुम्हारी ही बुराइयां करते आए हैं

अपनी इतनी सी उ में तुमने बहुत कुछ खो दिया है पाने से ज्यादा खोया है तुमने मैं

यह जानता हूं और यह भी जानता हूं कि इतना सब कुछ

खोने के बावजूद भी तुम्हारा विश्वास अडिग रहा है यह कई बार डगमगा भी है किंतु अंतत

तुमने अपने विश्वास को बचा कर रखा है अपने विश्वास को बनाकर रखना है यह

तुम्हारी महानता है वास्तव में तुम अभी अपनी ही महानता से अनभिज्ञ हो किंतु मैं

इससे अनभिज्ञ नहीं हूं मैं जानता हूं कि तुम्हारे लिए क्या सही

है और क्या गलत है इसलिए मेरे प्रिय बच्चे मैं तुम्हारे लिए ऐसी योजनाएं बना रहा हूं

ऐसी परिस्थितियों का निर्माण कर रहा हूं जिसमें आने के बाद तुम्हारा जीवन

पूर्णतः बदल जाएगा मैं जानता हूं कि तुम चाहते हो कि तुम्हारे जीवन में किसी की भी

दखल अंदाजी ना हो लेकिन कुछ दिव्य फरिश्ते जो तुम्हें

शुरुआत में थोड़े विचलित करने वाले लगेंगे वही तुम्हारी अंतः सहायता करेंगे लोग जिन

बातों पर तुम्हारा उपहास उड़ाते हैं अब वो उन बातों के लिए तुम्हारी

प्रशंसा करेंगे तुम्हारा यश तुम्हारा नाम चारों ओर फैल जाएगा और तुम्हारे नाम की

गूंज में ना जाने कितने लोग दब जाएंगे कुछ ही लोगों पर मेरी कृपा होती है

वह जिनके कर्म सही होते हैं व जिनके इरादे मजबूत होते हैं वो जिनका चरित्र मजबूत

होता है और तुम पर महान कृपा बरसाना चाहता हूं लेकिन तुम्हें अपने पहले इरादे और

चरित्र को मजबूत बनाना होगा इसके लिए तुम्हारे जीवन में विभिन्न परिस्थितियां

भेजी जा रही है इन परिस्थितियों को चुनौती समझकर स्वीकार कर लो और यह संघर्ष धीरे-धीरे

समाप्त हो जाएंगे तुम पाओगे कि तुम जीत की दिशा में बढ़ चले

हो तुम्हारे दोनों हाथ ऊपर होंगे तुम्हारा मस्तक ऊपर होगा हर कोई तुमसे प्रेम करना

चाहेगा तुम पर प्रेम लुटाना चाहेगा तुम जीत को बहुत तेजी से आकर्षित कर रहे

हो तुम जीत की दिशा में बढ़ रहे हो तुम्हारी ऊर्जा शक्ति उसी क्षेत्र में

कार्य कर रही है मेरे प्रिय बच्चे इस जीत को इसी क्षण स्वीकार करो इसकी पुष्टि

करो किंतु सब्र करो सब्र से ही तुम्हें सब कुछ हासिल होगा तुम उस मार्ग तक पहुंच रहे

हो अब तुम्हें केवल उस पर चलना होगा अपने कदम आगे बढ़ाने

होंगे तुम री सहायता के लिए विभिन्न प्रकार की शक्तियां होंगी अपने कदम को आगे

बढ़ाओ मेरे प्रिय अपने कदम तेजी से आगे बढ़ाओ तुम्हें बहुत कुछ हासिल हो रहा

है मेरे प्रिय बच्चे इसी क्षण पुष्टि करो इसी क्षण में सौभाग्यशाली हूं मैं जीत रहा

हूं क्योंकि तुम ऊर्जा ग्रहण करने की शक्ति में आ चुके हो अब तुम उस मायावी क्षेत्र में हो जहां

तुम पर ऊर्जा बरसाई जाएगी यहां पर बने रहना और संख्या अवश्य लिखो यह

लिखना तुम्हारे लिए बेहद जरूरी है प्रिय बच्चे तुम्हारे साथी के दिल में

इस समय सिर्फ तुम छाए हुए हो वह इस समय बहुत बौखलाया हुआ है उसके मन में तुम्हारे

प्रति इस तरह से प्रेम बढ़ने वाला है जिस प्रकार से पहले कभी नहीं बढ़ा था

और तुम्हारे जीवन में बहुत सी संभाव कारी घटनाएं घटित होने वाली है तुम्हारे लिए

बहुत से द्वार खुल रही है प्रकाश उतर रहा है और इसलिए तुम्हें इस संदेश को हर हाल में

पूरा सुनना है इसे किसी भी परिस्थिति में बीच में छोड़ कर जाने की भूल नहीं करनी

है अभी तत्काल तुम्हें इस संदेश को लाइक करना है और यह पुष्टि जाहिर करनी है कि

तुम ब्रह्मांड के ऊपर सर्वश्रेष्ठ विश्वास व्यक्त कर रहे हो पिछले कई दिनों से उसके मन में

उथल-पुथल चल रही है वह निरंतर तुमसे संपर्क करके तुमसे कुछ कहने की कोशिश में

लगा लेकिन वह कह नहीं पा रहा है उसके मन में बहुत से विचार चल रहे हैं

जिसे वह स्पष्ट रूप से व्यक्त नहीं कर पा रहा है कोई ऊर्जा है जो उसे निरंतर रोक

रही है प्रिय बच्चे एक प्रेरणा उमड़ रही है जो कुछ नया करने को बेचैन कर रही है व्याकुल

कर रही है उसका नाम अब एक ऐसी जगह दर्ज होने वाला है जिससे ना केवल तुम्हें खुशी होगी बल्कि

तुम्हें बहुत बड़े सुकून का भी एहसास होगा पहले वह बहुत व्याकुल था तुमसे दूर होने

के लिए लला होता था उसके मन में तुम्हें लेकर निराशा छा गई

थी वह ऐसी कुंठा से गिरता चला जा रहा था उसे लग रहा था कि तुम ही उसके प्रगति में

बाधक बन रहे हो लेकिन उसका विचार बदला है उसकी संभावनाएं बदली है उसके सोचने का

तरीका बदला है और उसके मन में प्यार उमड़ा है वह तुम्हें अब त्यागना नहीं चाहता उसके

राहों में बहुत से से खंजर बिछे हुए थे लेकिन अब वह उनसे पार पाना चाहता है

सुकून की तलाश में है प्रिय बच्चे जैसा सुकून तुम चाहते हो जिस तरह की शांति को

तुम अनुभव करना चाहते हो ऐसा ही कुछ चल रहा था तुम दोनों के बीच

में लेकिन अब एक बहुत बड़े रहस्य से पर्दा हटने वाला है सत्य की खोज में तुम निकल

रहे हो और वह तुम्हारा साथ दे प्रिय बच्चे वो जो तुम्हारा आत्म संगी

है वो जो पिछले कई जन्मों से तुमसे से जुड़ा हुआ है व जो तुम्हारा ही अंश है व

जो प्रथम तारे से तुम्हारे भीतर भी निर्मित हुआ था अब स्पष्ट रूप से तुम्हें प्रदर्शित

होगा और वही तुम्हें प्रगति का मार्ग दिखाएगा अब तुम्हारे जीवन में एक नई

शुरुआत होने वाली है ऐसी शुरुआत जो तुम्हारे जीवन की

रूपरेखा को बदलकर रख देगी प्रिय बच्चे बहुत से दुविधा हों से घिरे रहे हो तुम

लेकिन अब उन दुविधा का समय समा हो रहा है अब परिस्थितियां बदल रही हैं अब सत्य

से तुम्हारा परिचय होगा नियति ने यह तय कर लिया है कि अब दूरी को खत्म कर दिया जाएगा

तुम्हारी उत्सुकता को शांत किया जाएगा सत्य की तलाश तुम बहुत पहले से कर

रहे थे लेकिन अब तुम्हें उस सत्य के बारे में पता लगेगा प्रिय बच्चे तुम एक बहुत ही

मूल्यवान जीवन जीने के लिए आए हो तुम वास्तव में एक ऐसे तपस्वी हो जो इस

भौतिक जगत में रहते हुए भी कहीं ना कहीं आधारभूत रूप से उस परलोकिक जगत से संबंध

रखते हो जहां तुम्हारा वास्तविक उत्पत्ति का स्रोत है प्रिय बच्चे इसलिए रह रहकर

तुम्हारे मन में बहुत से विचार पनपते रहते हैं यह विचार यूं ही जन्म नहीं ले रहे

हैं इन विचारों के पीछे एक बहुत बड़ी घटना छुपी हुई है अब तुम्हारी क्षमता किसी से

भी छुपी नहीं रहेगी तुम्हारी तरक्की को अब टाला नहीं जा सकेगा

बहुत समय ले लिया गया है बहुत ज्यादा परीक्षाओं से गुजर चुके हो तुम लेकिन अब तुम्हारे भीतर जो भी भावनाएं हैं वह ऊपर

आएंगी उनका स्थान निर्मित होगा मेरे प्रिय मैं जानता हूं तुम्हारे

मन में सदा से ही दूसरों की सहायता करने की भावना पनपती रही है तुमने पिछले कई

जन्मों से यह किया हुआ है जीवन के शुरुआती दौर में तुम दुखों से

घिरे रहे हो बहुत सी चीजों को तुमने सीखा लेकिन धीरे-धीरे जैसे तुम बड़े होते गए

जैसे तुम्हारा आधार मजबूत होता गया तुम दूसरों की सहायता करने लगे प्रिय

बच्चे यह सहायता तुम्हारे रगों में बसी हुई है तुम सदा से यही चाहते आए हो कि तुम

किसी के काम आओ तुम संसार में कुछ ऐसा करो जिससे लोगों

का हित हो सके तुम्हारे अंदर करुणा बसी है तुम्हारे भीतर दया भावना श्रेष्ठ रूप में

बसी हुई है तुम्हारे जीवन के साथ विरोधाभास उत्पन्न कर करती रही है तो तुमने स्वयं को ही कहीं ना कहीं चोट

पहुंचा लिया है और उस चोट से उभरने का तुम्हें स्थान

नहीं मिला है तुम समझ नहीं पाए कि कैसे इससे बाहर निकला जाए तुम इसका उपचार रखी

हो लेकिन तुम इस उपचार के महत्व को इस उपचार के प्रक्रिया को अभी तक समझ नहीं

पाए हो यद्यपि यह तुम्हें ज्ञात है यह तुम्हें आता है बस अभी तुम्हारे अवचेतन मन से वह चक्षु

नहीं खुले हैं जिससे तुम इसे देख सको और वह ताकत जो तुम्हारे शरीर के विभिन्न

अंगों से गुजरती है जो निरंतर बाहर आने को बेताब है जिस दिन तुम अपनी ताकत को समझ जाओगे उस

दिन तुम्हें यह ज्ञात हो जाएगा कि यह अनंत आकाश यह अनंत ब्रह्मांड यह समय रूपी विजय

स्तंभ तुम्हें किस ओर ले जाना चाहते हैं यह तुम्हें क्या संकेत दे रहे हैं यह

तुम्हें क्या सूचित करना चाह रहे हैं मेरे प्रिय प्रकृति के रूप से तुम्हारे जीवन

में बहुत सी घटनाएं घटित हो रही हैं लेकिन तुम यह नहीं जान पाते कि

प्रतिभा होने के बावजूद भी यदि सही समय पर घटना घटित नहीं होती है तो मनुष्य बहुत

पीछे छूट जाता है मेरे प्रिय तुम अब ऊपर जा रहे हो अब

प्रगति के साथ चलने वाले हो अब तरक्की को महसूस करने वाले हो तुम्हारी क्षमता

असीमित है तुम्हारी क्षमता बढ़ती जा रही है तुम्हारा न अब उन दिव्य आत्माओं में

लिखा जाएगा जो अपनी किस्मत को स्वयं से लिखते हैं मेरे प्रिय तुम्हें मेरा यह

दिव्य आशीर्वाद स्वीकार करना होगा क्योंकि जब तुम इस दिव्य आशीर्वाद को

स्वीकार करोगे जब तुम इस दिव्य आशीर्वाद की पुष्टि करोगे तभी तुम ऊर्जा क्षेत्रों

को खोल पाओगे तभी तुम उस मार्ग पर आगे बढ़ पाओगे जहां पर जाना तुम्हारी नियति है

मेरे प्रिय संख्या लिखकर इस बात की पुष्टि करो कि तुम प्रगति के मार्ग पर

तत्काल चलने को उत्सुक हो तुम्हें किसी भी प्रकार की देरी नहीं

चाहिए तुम्हारा जीवन अविश्वसनीय रूप से चमत्कारिक तरीके से बेहतर होने वाला है इस

बेहतरी को अपने जीवन में उतर जाने दो संख्या लिखो साथ ही यह भी संकल्प

करो कि मैं श्रेष्ठ हूं मैं बेहतर जीवन को पाने का अधिकारी हूं मेरे जीवन को सफलता

प्रचुरता धन समृद्धि और असीमित प्रेम अनंत संभावनाओं और असंख्य अवसरों से

भर दिया जाए मेरे प्रिय ऐसा सोचना ऐसा करना तुम्हारे लिए आवश्यक

है और एक बात याद रखो अपनी तुलना किसी दूसरे इंसान से कभी भी मत करना क्योंकि जब

तुम अपनी तुलना किसी दूसरे इंसान से करते रहते हो तो तुम यह संदेह पैदा करते हो कि

तुम्हारा ईश्वर पर ब्रह्मांड पर विश्वास नहीं है इसलिए तुम तुम जैसे हो उस तरह से

स्वयं को स्वीकार करो और अपनी असीमित संभावनाओं की तलाश में

लग जाओ तुम यह तलास कि तुम्हें इस संसार में क्यों निर्मित किया गया है तुम्हें

क्यों गढ़ा गया है दूसरों के बारे में सोचना छोड़ दो अपने

जीवन की बागडोर को अपने हाथों में ले लो तुम्हारे जीवन में बहुत कुछ अच्छा घटित

होने वाला है इस अच्छाई को अपने जीवन में उतरने दो मेरे प्रिय तुम रा कल्याण होने वाला है

अभी इस संसार में बहुत सी घटनाएं घटित हो रही हैं लेकिन उनमें से ज्यादातर केवल

तुम्हारे भलाई के लिए रची जा रही हैं तुम्हें अभी इसका एहसास नहीं हो रहा

है लेकिन आने वाले कुछ ही समय में तुम इसके एहसास को महसूस कर पाओगे मेरे प्रिय

सभी तरह की कमजोरियों का त्याग कर दो जो कोई भी तुम्हें निराश करने का

प्रयत्न करें उससे दूरी बनाओ क्योंकि यह अभी तुम्हारे लिए ही निर्मित की गई है उस

ऊर्जा को अपने आप से दूर ना होने दो मेरे प्रिय अब तक तुम्हारे साथ जो कुछ

भी घटित हुआ है वह जिस योजना का हिस्सा है वह योजना अब समाप्ति की ओर है इसलिए

तुम्हारे दुखों का भी अब अंत होगा अब एक नई शुरुआत होगी और इस नई

शुरुआत में तुम्हारे जीवन के नए अध्याय लिखे जा रहे हैं और यह अध्याय स्वयं

इतिहास बनाने वाले हैं इसलिए मैं तुम्हें यह बताना चाहता हूं

कि तुम्हारे भीतर जो भी चिंता व्याप्त हो रही है या वास कर रही है तो इन दोनों में

ही तुम्हारे जीवन की वास्तविकता घर नहीं करती है वास्तव में तुम्हारा जीवन तो आज और अभी

में नहीं था इसलिए तुम्हें जो आशीर्वाद भेजा जा रहा है उसे दिल खोलकर संपूर्ण

उत्साह के साथ स्वीकार करो यह आशीर्वाद कोई सामान्य आशीर्वाद

नहीं है बल्कि यह दिव्य ऊर्जा हों के समागम और प्रथम तारे के परमाणु ऊर्जा से

बनी हुई है प्रिय बच्चे इस संसार में सब कुछ द्रव्यमान और ऊर्जा के रूप में ही

विद्यमान है सब कुछ एक ऐसे आकार को जन्म देता है जो मुझसे ही निर्मित है जो मेरे

ही प्रतिद्वंदी प्रति छवी को दर्शाता है इसलिए यहां कुछ भी नापसंद करने योग्य नहीं

है तुम्हें केवल यह जांचना है कि तुम्हारे लिए क्या और कितनी मात्रा में सही

है जो तुम्हारे लिए सही है उसे स्वी स्कार कर लो अपने जीवन की वास्तविकता को पहचानो

यह पहचानो कि यहां क्या तुम्हारे लिए लाभदायक है और ऐसा क्या है जो तुम्हारे जीवन को

सही गति सही ऊर्जा सही प्रकाश नहीं प्रदान करता है मेरे प्रिय अपने जीवन को

सहानुभूति पूर्व देखना बंद कर दो अपने जीवन में आत्मविश्वास धरो किसी से

कोई भी बात कहने से कभी भी भयभीत ना हो कभी तुम्हारे भीतर यह भय नहीं होना चाहिए

कि तुम यदि अपनी बात कहते हो तो तुम्हें किसी तरह की हानि होगी फिर

यह हानि आर्थिक हो सकती है सामाजिक प्रतिष्ठा की हो सकती है सम्मान की हो

सकती है या फिर मनुष्य के महत्त्वपूर्ण अंशों की हो सकती है तुम्हें किसी भी तरह की हानि से भयभीत

नहीं होना है तुम्हारी पूरी ऊर्जा इस बात में होनी चाहिए कि तुम कैसे जीत को

आकर्षित करो तो तुम्हारा पूरा उत्साह इस ओर होना चाहिए कि कैसे तुम्हें वापस प्राप्त हो

सके जो तुम्हारे जीवन को आजादी स्वतंत्रता की ओर लेकर जाए तुम्हें अपने जीवन में

स्वतंत्रता को ही प्राप्त करना है यह स्वतंत्रता पूरी तरह से धार्मिक

मान्यताओं सामाजिकता और अर्थ से होनी चाहिए तुम आर्थिक रूप से किसी के भी समक्ष

कमजोर ना पड़ो धार्मिक रूप से कोई तुम्हें दबा ना

सके सामाजिक रूप से कोई तुम्हें पराजित ना कर सके अन्यथा इस संसार में बहुत से ऐसे

लोग हैं जो दूसरों को विभिन्न प्रकार का भय दिखाकर विभिन्न प्रकार के डर को दर्शा कर

उनसे लाभ उठाते रहते हैं मेरे प्रिय तुमसे लाभ उठाने वाले

मनुष्य को अपने कर्मों का फल निश्चित तौर पर भुगतना होगा वह चाकर भी अपने कर्म फल

से बच नहीं सकते हैं मेरे प्रिय बच्चे तुम्हें भी किसी भी

सूरत में अपनी कमजोरी को नहीं दर्शा है किसी के समक्ष यह जाहिर नहीं हो होने देना

है कि तुम्हें जरा सी भी कमजोरी है तुम स्वतंत्र रूप से अपना जीवन जीते

जाओ लेकिन यदि कोई तुम्हें अत्यंत बुरी तरह से पराजित करने पर तुला हुआ है

तुम्हारी निंदा करने पर तुला हुआ है तो यह मार्ग जरूर ढूंढो कि उसे कैसे

सबक सिखाए जाए बाकी मैं तुम्हारे साथ हूं इसलिए मैं तुम्हें हारने नहीं होने

दूंगा लेकिन ऐसा करते हुए यह ध्यान रखना कि तुम्हारा अहंकार तुम पर हावी ना होने

पाए तुम्हारे भीतर की करुणा समाप्त ना होने पाए ऐसा ना हो कि किसी और को सबक सिखाने

के चक्कर में तुम उसकी बातों को अपने जीवन में अहंकार पर ले लो और ऐसा करने के चक्कर

में स्वयं की ही हानि कर बैठो मेरे प्रिय तुम्हें अपनी हानि नहीं

करनी है तुम्हें हताश नहीं होना है तुम्हें किसी और को सबक सिखाने के कारण से

स्वयं को पीछे नहीं धकेलना है वो तुम्हारे क्रोध का कारण ना बन सके

तुम ऐसा करो ताकि अगला मनुष्य किसी और के साथ ऐसा ना कर सके लेकिन उसके लिए तुम्हें

परेशान नहीं होना है मैं तुम्हारे साथ हूं इस बात को

तुम्हें सदा याद रखना है फिर कोई तुम्हें नुकसान नहीं पहुंचा सकता यह कभी भी मत

भूलना मेरे प्रिय तुम्हारी जीत तय हो चुकी है तुम्हारी जीत को अब कोई टाल नहीं सकता

है इसलिए अपनी जीत को सहजता से स्वीकार करो संख्या लिखकर इस बात की पुष्टि करो कि तुम

इसके लिए तत्काल तैयार हो और तुम्हारे जीवन में जो दिव्य ऊर्जा

भेजने की योजना बनाई जा रही है उसको तुम अनुमति देते हो तुम्हारी अनुमति निश्चित

तौर पर अत्यंत आवश्यक है यह संसार में मायने रखती है तुम कोई

साधारण से आम मनुष्य नहीं हो तुम है इस बात को नहीं भूलना चाहिए तुम्हारी

प्रतिष्ठा इस संसार पदों से कहीं ऊंची है इसलिए स्वय को किसी भी हालत में कमजोर मत

पड़ने देना और एक बात सदा याद रखना मैं हमेशा तुम्हारे साथ रहता हूं तुम्हारी जीत

सुनिश्चित करने के लिए तुम्हें सही मार्ग पर ले जाने के लिए

और तुमसे वह उद्देश्य पूर्ण कराने के लिए जिसे पूर्ण करने के लिए तुमने जन्म लिया

है मेरे प्रिय तुम्हारा उद्देश्य बहुत महान है उसे किसी छोटी चीज में बर्बाद मत होने

देना अपने जीवन को किसी भी हाल में किसी भी छोटे लोग या छोटी चीज के लिए यूं ही

बर्बाद मत होने देना तुम्हें यह जीवन मिला है ताकि तुम

बहुत बड़ा कार्य संपन्न कर सको और से संपन्न करने के लिए तुम्हारे मन का स्थिर

होना बहुत आवश्यक है इसलिए तुम्हें ध्यान के मार्ग का सहारा

लेना होगा भक्ति मार्ग से भी आगे ध्यान का मार्ग आता है ध्यान के मार्ग को अपना

हथियार बनाओ और अपने मन को नियंत्रित करना प्रारंभ कर दो जब तक तुम अपने मन को

नियंत्रित नहीं करोगे यह तुम्हारे लिए दुष्कर हो जाएगा इसलिए अपने मन को नियंत्रित करो और

याद रखना मेरा आशीर्वाद हमेशा तुम्हारे साथ है मेरे आने वाले संदेशों की

प्रतीक्षा करना क्योंकि मैं आऊंगा तुम्हें सही मार्ग पर ले जाने के लिए तुम्हें जीत के पथ पर

आगे बढ़ाने के लिए मैं सदैव तुम्हारे साथ रहूंगा तुम्हारी सहायता करता रहूंगा

तुम्हें जीत दिलाता रहूंगा

Leave a Comment