साथ आए तेजस्वी राहुल...तो बौखला कर मोदी ने कह दी ये बात... - instathreads

साथ आए तेजस्वी राहुल…तो बौखला कर मोदी ने कह दी ये बात…

इस तस्वीर को देखिए दोस्तों यह तस्वीर
भारतीय जनता पार्टी की रातों की नींद खराब
करने के लिए काफी है जैसे कि आप इस तस्वीर
में देख सकते हैं राहुल गांधी और तेजस्वी
यादव एक गाड़ी में बैठे हुए हैं और उस

गाड़ी को कोई और नहीं तेजस्वी चला रहे हैं
यह तस्वीर अपने आप में बिहार को एक
राजनीतिक संदेश भी दे रही है यह बतला रही
है कि अगर बिहार की 40 लोकसभा सीट तो में
विपक्षी गठबंधन यानी इंडिया गठबंधन
कामयाबी पाएगा तो सिर्फ और सिर्फ तेजस्वी

यादव के नेतृत्व में और राहुल गांधी का
किरदार सपोर्टिंग होगा यानी सहायक किरदार
होगा यह तस्वीर अपने आप में बहुत कुछ कहती
है पूरे स्क्रीन पर देखिए दोस्तों राहुल
गांधी की न्याय यात्रा एक बार फिर बिहार

में प्रवेश कर चुकी है और आप यहां देख
सकते हैं तमाम मुद्दे दोनों नेताओं ने
दोनों युवा नेताओं ने प्रदेश की जनता के
सामने रखे और इस तस्वीर से भारतीय जनता
पार्टी बुरी तरह से बौखलाई हुई है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेवाड़ी में
एक ऐलान किया और उस ऐलान में वो खुद फंस
गए हैं वो ऐलान क्या है दोस्तों कुछ देर
बाद मगर सबसे पहले मैं आपका ध्यान खींचना
चाहूंगा कि किस तरह से तेजस्वी ने अपनी

बात रखी है तेजस्वी क्या कह रहे हैं आपके
स्क्रीन पर तेजस्वी कहते हैं देश का किसान
परेशान है युवा बेरोजगार है आम आदमी आशा
हीन है तथा हर वर्ग में असहजता एवं
असुरक्षा का भाव है एमएसपी देश के किसानों

की एक उचित मांग है जो उन्हें कृषि में
बनाए रखने की न्यूनतम आवश्यकता है देश की
इन सभी मांगों में अपनी भागीदारी दर्ज
कराने देश के नागरिकों की हर मांग में
अपनी आवाज बुलंद करने आज सासाराम और कैमूर
में आयोजित भारत जोड़ो न्याय यात्रा में
सम्मिलित

हुआ
और आज दोनों नेता एक मंच पर मौजूद थे
दोस्तों यह तस्वीर बिहार के लिए खासे
मायने रख रही है क्योंकि आपको याद होगा
विधानसभा में बेशक नीतीश कुमार विश्वास मत
जीत गए हो और तेजस्वी यादव हार गए हो मगर

उनके उस एक भाषण ने पूरी बाजी को पलट दी
है उनके एक भाषण ने बिहार की जनता को यह
संदेश दे दिया है कि एक यह व्यक्ति है जो
मुद्दों की बात कर रहा है नौकरी की बात कर

रहा है और दूसरी तरफ नीतीश और भाजपा दोनों
एक दूसरे को पानी पी पीकर गाली दिया करते
थे मगर एक मंच पर आ गए हैं राजनीतिक अवसर
वादत के चलते तेजस्वी यादव ने राहुल गांधी

के साथ मंच साझा किया और यह बताया कि किस
तरह से नीतीश कुमार गिड़गिड़ा रहे थे लालू
प्रसाद यादव से उस मोर्चे में आने के लिए
और यह भी कहा था कि हम 2024 में मोदी का
मुकाबला करेंगे मगर एक बार फिर नीतीश
कुमार पलट गए सुनिए तेजस्वी यादव ने किस

तरह से अपनी बात
रखी
जा हमको बताने की जरूरत नहीं
है के
पास हमारे
घर उन्होने कहा हम पार्टी के

भाजपा
महाराष्ट्र में तोड़ दिया पैसा से प्रन से
भाजपा वाला ऑपरेशन लोट चला रहा था झारखंड
में प्रयास कर रहा था कनाट में किया मध्य
प्रदेश में किया तो मुख्यमंत्री जी गिर
गिराते हुए आए और हाथ जोड़ करके माफी
मांगे हमारे माता पिता

से हमसे बहुत बड़ा गलती हो
गया मोदी जी हमारे दल को तोड़ रहे हैं
लालू जी ला जी हमको माफ कीजिए और फिर से
आइए मिलते हैं और 204 में भाजपा को रोकने
का काम करते
हैं हम नहीं चाहते
थे कि हम मुख्यमंत्री जी का साथ

[संगीत]
देहे हम
जान हम तो हास से पूछे भी भाजपा वाले लोग
क मोदी जी का गारंटी इतना मजबूत गारंटी
होता है तो मोदी जी का गारंटी
वाले
गटी किहार के मुख्यमंत्री फिर से पलट कि

नहीं पलट जरा
बताओ विधानसभा में सब भाजपा वाला चुप हो
गया कोई
लेने को तैयार नहीं भाजपा के रा प्रवक्ता
बोलता हम नहीं दे सकते उ
गारंटी तो हम जान रहे थे लेकिन देश भर के

नेताओ का दबाव था सब लोग चाहते थे कि भाई
कुछ भी हो लाल जी अगर ती जी सच्चे मन से आ
रहे हैं तो आप उनको स्वीकार
कीजिए चाहे जो त्याग त्यागना हो जो

कुर्बानी देनी हो
दे कर के देश को बचाने का काम कीजिए देश
के लोकतंत्र को बचाने का काम कीजिए देश के
संविधान को बचाने का काम और जैसे कि मैंने
आपको बताया दोस्तों मंच में राहुल गांधी
भी थे एक बार फिर नफरत के बाजार में

मोहब्बत की दुकान की उन्होंने बात की और
उन्होंने कहा कि दोनों मोर्चों में फर्क
साफ तौर पर दिखाई देता है जहां इंडिया
गठबंधन के नेता और यहां उन्होंने खास तौर
से जिक्र तेजस्वी यादव का किया उनके चेहरे

पर हमेशा मुस्कान रहती है भाजपा के नेता
हमेशा टेंशन में रहते हैं सुनि उन्होंने
क्या कहा आप जी का चेहरा देखो ठीक से
देखो ये आपको य आपको हर
टाइम मुस्कुराते हुए
दिखेंगे मुस्कुरा
रहे लालू जी आपको मुस्कुराते हुए दिखेंगे

कांग्रेस पार्टी हमारे नेता सब मुस्कुरा
रहे हैं और बीजेपी के नेताओं का चेहरा
देखो नरेंद्र मोदी को देखो अमित शाह को
देखो राजनाथ सिंह को देखो तो चेहरा ऐसे
होता
है पता नहीं क्या हो गया इन लोगों को ये

खुश नहीं
होते नफरत फैलाते हैं और 24
घंटा किसी ना किसी के बारे में उल्टी सीधी
बात
करेंगे हम मोहब्बत की दुकान खोलते हैं और
आप सब कांग्रेस के कार्यकर्ता आरजेडी के
कार्यकर्ता 24
घंटा मोहब्बत की दुकान खोली दोस्तों राहुल

गांधी ने एक बहुत अहम बात भी कही उन्होंने
राम मंदिर का मुद्दा उठाया और उन्होंने व
मुद्दा उठाया जो भारतीय जनता पार्टी के
लिए एक बहुत बड़ा सवाल है उन्होंने पूछा
जनता से कि जब राम मंदिर का उद्घाटन हुआ
था तब बताइए उस मंच पर कौन था क्या देश का

गरीब था या देश के तमाम एक्टर्स थे क्या
देश के धन्ना सेठ थे या देश के वंचित थे
एक बहुत ही वाजिब बात यहां पर राहुल गांधी
रख रहे हैं मैं चाहूंगा आप उन्हें सुने आप
सबने राम मंदिर का इनॉगरेशन

देखा देखा टीवी प
देखा मोदी जी ने राम मंदिर का पूरा इनोशन
किया देखा आपने
अच्छा मुझे बताओ उसम आपको आनी दिखा अंबानी
दिखा अमिताभ बच्चन दिखा रा दिखी
हिंदुस्तान के सब एक्ट
दिखे उसम आपको गरीब किसान दिखा

मजदूर कहां
थेलो वो
भैया मजदूरी कर रहे
थे वो भूखे मर रहे थे वो बेरोजगार है
राम मंदिर के इरेशन
में नरेंद्र

मोदी अमिताभ बच्चन ऐश्वर्या राय
हिंदुस्तान के सबसे अमीर लोग अरबपति अदानी
अंबानी सारे के सारे दिखे मगर एक गरीब
व्यक्ति नहीं
दिखा एक किसान नहीं दिखा एक मजदूर नहीं
दिखा एक छोटा दुकानदार नहीं

दिखा दोस्तों जहां तक राहुल गांधी और
तेजस्वी यादव की बात है दोनों मुद्दे की
बात कर रहे हैं नौकरी की बात कर रहे हैं
और तेजस्वी यादव ने एक बार फिर याद दिलाया
कि किस तरह से आम जनमानस के सामने सबसे

बड़ा मुद्दा बेरोजगारी है और युवा तक
रोजगार पहुंचाना है और एक तरह से कहा जाए
तो लगातार उनकी राजनीति का यही पंच भी रहा
है और कल न्याय यात्रा के मंच पे एक बार
फिर तेजस्वी ने वही बात रखी सुनिए

उन्होंने क्या कहा मेरा मानना है कि अगर
समाज में अगर कोई सबसे बड़ा दुश्मन है तो
वो बेरोजगारी
है नौजवान लोग पढ़ लिख के डिग्री लेकर के
भी बेरोजगार है और लगातार मोदी जी के राज
में बेरोजगारी दर जो है बढ़ता चला जा रहा
है हमने 2020 के चुनाव में वादा किया

था कि अगर आप लोग हमको मुख्यमंत्री
बनाइए तो 10 लाख नौजवानों को सरकारी नौकरी
देने का काम
करेंगे लेकिन 2020 का जब चुनाव रिजल्ट
आया तो बहुमत के लिए 122 चाहिए
था हम लोग बहुमत पार कर गए थे लेकिन झल

कपट से ये 122 के जगह हम लोगों को 114 के
आसपास रोकने का काम किया तो एक तरफ
तेजस्वी और राहुल देश के युवा देश के
जनमानस से जुड़े मुद्दे उठाने की कोशिश कर
रहे हैं वहीं दूसरी तरफ प्रधानमंत्री

नरेंद्र मोदी ने हरियाणा के रेवाड़ी में
एक ऐसी बात कह दी जिसमें वह खुद फंस गए
सबसे पहले मैं आपको बतलाना चाहता हूं कि
उन्होंने क्या कहा कहने को दोस्तों यह एक
आधिकारिक समारोह था मगर प्रधानमंत्री ने

इस मंच का भी इस्तेमाल किया कांग्रेस पर
हमला बोलने के लिए मैं मैं आपको बतलाना
चाहता हूं उन्होंने क्या कहा जो कि आपके
स्क्रीन पर है प्रधानमंत्री कहते हैं कि
कांग्रेस के नेता एकएक करके पार्टी छोड़कर

जा रहे हैं आज स्थिति ये है कि कांग्रेस
के पास अपने कार्यकर्ता तक नहीं बचे हैं
जहां सरकार में है वहां इनसे सरकारें तक
नहीं संभल रही
हैं प्रधानमंत्री ने आगे क्या कहा दोस्तों
उस पर भी गौर कीजिएगा प्रधानमंत्री कहते

हैं एक परिवार के मुंह में फंसी कांग्रेस
आज अपने इतिहास के सबसे दयनीय दौर से गुजर
रही है इनके नेता से अपना एक स्टार्टअप
नहीं संभल रहा यह लोग देश संभालने का सपना
देख रहे हैं आज मेरा सवाल एक प्रधानमंत्री
से अभी हाल ही में अशोक चौहाण जो हैं वह
आपकी पार्टी में शामिल हुए वह अशोक चौहाण

जो दो बार कांग्रेस की तरफ से मुख्यमंत्री
बने थे मैं नहीं भूला हूं प्रधानमंत्री
2019 के लोकसभा चुनावों में आपने आदर्श
हाउसिंग घोटाले का मुद्दा बनाया था आपने
अशोक चौहाण पर सीधा हमला करते हुए ये कहा

था कि इन्होंने सैनिकों का अपमान किया है
क्योंकि आदर्श हाउसिंग जो था वो करगिल से
जुड़े जो उनके परिवार वाले थे करगिल के
शहीदों की विद्वा थी उनको लेकर वह हाउसिंग
था मैं नहीं भूला हूं प्रधानमंत्री ने बात
कही थी आपको याद है कि नहीं एक बार फिर

सुनते हैं फिर मैं उसकी चर्चा करता हूं
यहां महाराष्ट्र में इन लोगों ने किस
तरह एक आदर्श सोसाइटी बनाने की कोशिश थी
शहीदों के परिवार को धोखा दिया था इससे तो
नांदेड़ और पूरा भारत भली भाति परिचित है
इस तरह के घोटालों पर नजर रखने के लिए

ही हमारी सरकार
ने रेरा कानून बनाया है तो मैं
प्रधानमंत्री से पूछना चाहता हूं आप एक
ऐसे व्यक्ति को राजसभा भेज रहे हैं जिस पर
आपने भ्रष्टाचार के आरोप आ

लगाए एक ऐसे व्यक्ति को आप राज्यसभा भेज
रहे हैं जिस पर आपने सैनिकों का अपमान
करने के आरोप लगाए क्या आपको यह अधिकार है
यह बोलने का कि तमाम नेता जो हैं वह
कांग्रेस को छोड़ रहे हैं तो चलिए फेरिस

दिखाते हैं कौन कौन से विपक्ष के नेता
भाजपा के पाले में शामिल हो रहे हैं अशोक
चौहाण जिन पर आपने खुद ने भ्रष्टाचार के
आरोप लगाए बाबा सिद्दीक यह भी एजेंसीज के
फेरे में फंसे हुए हैं ये अजीत पंवार के
खेमे में शामिल हो गए हैं चलिए गैर

कांग्रेसी की बात करें तो अजीत पंवार छगन
भुजबल नारायण राणे ये वो तमाम चेहरे हैं
जिन पर आपने भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप
लगाए इन्हें जेल भेजने की बात की इनमें से
एकाद तो जेल भी गए हैं मगर यह सब अब आपके

साथ है हेमंत विश्व शर्मा यह तो असम के
मुख्यमंत्री है
प्रधानमंत्री मैं आपको नाम गिना रहा हूं
वो तमाम कांग्रेस के नेता जिन पर
भ्रष्टाचार को लेकर पहले भाजपा हमला करती

थी अब उनके साथ गल बहिया है और उनकी गोद
में बैठ गए
हैं प्रधानमंत्री से मैं एक और सवाल पूछना
चाहता हूं क्योंकि यह बयान देकर रेवाड़ी
में बयान देकर प्रधानमंत्री वाकई फंस गए
आप जब यह कह रहे हैं कि भाई कांग्रेस के

तमाम नेता उन्हें छोड़कर जा रहे हैं तो
चलिए कौन से नेता छोड़कर जा रहे हैं मगर
उससे पहले मैं आपको याद दिलाना चाहूंगा
अभी हाल ही में जब आपने लोकसभा और
राज्यसभा में भाषण दिया था तो एक बार फिर

आपने परिवारवाद की बात कीथ यह बात अलग है
जब गौरव गोगोई ने आपको आईना दिखाया
था कि किस तरह से एनडीए मोर्चे में या
भाजपा में परिवारवाद की उपज प्रचूर मात्रा
में मौजूद है तब आप हड़बड़ा नहीं लगे थे

तो चलिए कुछ नाम गिनाते हैं आरपीएन सिंह
ज्योतिरादित्य सिंधिया जितन प्रसादा
मिलिंद
देवड़ा ये तमाम कट्टर कांग्रेसी हुआ करते
थे 10 साल से सत्ता से दूर थे ना सांसद थी
ना मंत्री पद था अब जो वंशवाद के परिणाम

होते हैं सत्ता से ज्यादा दूर नहीं रह
पाते हैं नतीजा आपके सामने है मैं इसी तरह
से ढेरों नाम आपको
गिनवाला या तो एजेंसीज का जोर था या फिर
ये वंशवाद का परिणाम है यानी कि रेवाड़ी
में जो प्रधानमंत्री ने बात कही कि
कांग्रेस छोड़ छोड़कर लोग भाजपा में जा

रहे हैं हकीकत यह है प्रधानमंत्री यह बयान
देकर आप खुद फंस गए हैं और आपके इस बयान
में दोहरे मापदंड डबल स्टैंडर्ड्स कूटकूट
कर भरे हुए हैं मगर यकीनन दोस्तों इस
तस्वीर की अगर हम दोबारा बात करें यह
गाड़ी जो तेजस्वी चला रहे हैं और साथ में

राहुल बैठे हैं ये तस्वीर इंडिया गठबंधन
के लिए बिहार में आखिरी और सबसे बड़ी
उम्मीद है अगर वाकई गठबंधन तेजस्वी यादव
के नेतृत्व में लड़ा और कांग्रेस सहायक
भूमिका में रही और कांग्रेस ने सही मायनों

में तेजस्वी और लालू प्रसाद यादव की बात
मानी तो यकीन मानिए बिहार की राजनीति में
खासकर लोकसभा चुनावों में इंडिया गठबंधन
अपनी मौजूदगी दर्ज कर सकता है अभिसार
शर्मा को दीजिए इजाजत नमस्कार स्वतंत्र और
आजाद पत्रकारिता का समर्थन कीजिए सच में

मेरा साथी बनिए बहुत आसान है दोस्तों इस
जॉइन बटन को दबाइए और आपके सामने आएंगे ये
तीन विकल्प इनमें से एक चुनिए और सच के इस
सफर में मेरा साथी बनिए

Leave a Comment