10 संकेत मिले तो माता काली आपसे बात करना चाहती है shiv kripa - instathreads

10 संकेत मिले तो माता काली आपसे बात करना चाहती है shiv kripa

अगर आपको यह संकेत मिले तो माता काली

आपसे बात करना चाहते हैं आप भी माता काली

की सेवक हैं तो माता काली अपने भक्तों पर

सदैव कृपा करती हैं और बहुत जल्दी प्रसन्न

होने वाली जो देवी है वह माता काली है जिस

तरीके से भगवान शिव को महाकाल कहा जाता है

और महाकाल की जो अर्धांगिनी है वह महाकाली

है और बाबा भोलेनाथ मत छोटी सी सेवा से

प्रसन्न हो जाते हैं एक लूट जल से प्रसन्न

हो जाते हैं उसी प्रकार से माता काली है

माता काली को अगर हम माता के रूप में

पूछते हैं माता के रूप में याद करते हैं

तो मैन दौड़ी दौड़ी चली आती है कई लोग

कहते हैं की माता का जो रूप है वो बहुत

bhayav है और विकराल है पर यह जो भव्य रूप

है विकराल रूप है यह सिर्फ दोस्तो के लिए

असुरों के लिए है अपने बच्चों अपने भक्तों

के लिए तो वह ममता नहीं यह वही लोग बोलते

हैं जिन लोगों को माता काली के विषय में

पता नहीं होता माता काली के जो सकारात्मक

पहलू हैं वो पता नहीं होते और मत आत्मक

पहलुओं को अपनी दृष्टि से देखते हैं अपने

अनुसार देखते हैं माता काली भटक भैरव को

जब दुग्ध पैन करती हैं तो माता का रूप

होता है जब वो माता के रूप में इस संसार

में पूज्य हैं तो जिन लोगों को माता के

विषय में पता है वो माता को माता के रूप

में पूजते हैं और माता के ममतामई रूप को

पूछते पूछते उन्हें माता के दर्शन होते

हैं तो यह जो संकेत हैं इन संकेत से आप

जान सकते हैं की माता काली आपसे बात करना

चाहती हैं माता काली किसी एन किसी माध्यम

से ही आपसे बात करती हैं किसी ना किसी

माध्यम से क्योंकि ईश्वर आपको संकेत देते

हैं आपके सामने प्रकट होकर वह आपसे बात

नहीं करते वह स्थिति भी आती है पर उसके

लिए आपको कठिन तपस्या कठिन व्रत और कठिन

आपको नाम जब मंत्र जप करना होता है तब वह

परिस्थिति आती है की देवता या माता आपके

सामने खड़े होकर बात करें

पूजा शुरू करते हैं तो माता किसी रूप में

आपसे बात करना चाहती है उन संकेत को आपको

समझना होता है

मैंने आपको बताया पहले भी की देवता आपको

संकेत पजल के रूप में देता है जैसे एक पजल

होती है उसको आपको पूरा करना होता है तो

वो सामने उसका अर्थ आपको समझ में ए जाता

है उसी प्रकार से माता काली जब आपसे बात

करने की कोशिश करती हैं तो संकेत के

माध्यम से करते हैं जब आप इन संकेत को समझ

जाते हैं तो आप ये समझ जाते हैं की हम

माता आपसे बात करना चाहती हैं तो लिए शुरू

करते हैं वो कौन से संकेत हैं अगर आप

पहली बार हमारे चैनल शिव कृपा परिवार पर

हैं तो वीडियो के नीचे जो लाल कलर का बटन

है सब्सक्राइब करो उसे ढाबा के चैनल को

सब्सक्राइब कीजिए बेल आइकन को दबाया घंटे

के निशान को ताकि जो जानकारी हम डालें

पूजा पाठ से जुड़ी वो सबसे पहले आपको

सबसे पहला संकेत होता है की माता के प्रति

आपका आकर्षण भरना शुरू हो जाता है जब माता

की किसी तस्वीर को देखते हैं मूर्ति को

देखते हैं तो आपका एक अलग प्रकार का

आकर्षण माता के प्रति बढ़ जाता है आपको

ऐसा महसूस होता की मत आपसे बात करना चाहती

हैं कई बार कई ऐसे मंदिर है जहां पर माता

की बड़ी ही मनमोहक मूर्ति है आपका मैन

करता है उनके चरणों में बैठकर सिर्फ उनको

निहारता रहूं तो यह संकेत जो माता के

प्रति आपका आकर्षण है यह संकेत बताता है

की कहीं ना कहीं माता की कृपा है आपके ऊपर

और माता आपसे बात करना चाहती हैं दूसरा

संकेत दूसरा संकेत होता है की आपके द्वारा

की गई कोई प्रार्थना

मंदिर में आप किसी परेशानी में है या किसी

अन्य व्यक्ति के लिए प्रार्थना कर रहे हैं

वह प्रार्थना आपकी स्वीकार हो जाते हैं वो

कार्य आपका बन जाता है अगर किसी संकट में

तो संकट भी आपका ताल जाता है समस्या है वो

समस्या का समाधान भी हो जाता है मात्रा

प्रार्थना के माध्यम से तो ये दूसरा संकेत

होता है माता काली जब आपसे प्रसन्न होती

हैं तीसरा संकेत होता है की पहले से कोई

ऐसी घटनाएं जो ghatnet होने वाली हैं उनका

आभास आपको होना शुरू हो जाता है और ये

इसलिए होता है क्योंकि आपकी ऊर्जा उसे

ब्रह्मांड की ऊर्जा से जुड़ने लगती है जब

आपकी ऊर्जा ब्रह्मांड और जैसे जुड़ती है

तो ब्रह्मांड में स्थित जो भी घटनाएं हैं

उनका धीरे-धीरे अब्बास आपको होना शुरू हो

जाता है सबसे पहले इन घटनाओं का आभास आपके

घर परिवार रिश्तेदारों में होता है उसके

बाद पड़ोस में होता है उसके बाद आप शहर

में देखते हैं

कई बार आप खुद महसूस करते हैं की मुझे तो

पता था की यह होगा पर मैं मुझे यह नहीं

पता था की इस विश्वास नहीं था

तो ऐसी घटनाएं जो घटित होने वाले किसी की

मृत्यु किसी का जन्म या कई लोगों को आपने

देखा होगा की कहते हैं लड़का ही होगा और

लड़का हो जाता फिर वह लोग पूछते हैं आपको

कैसे पता तो वक्त बोलता है मैंने मुंह से

तो निकल गया तो यही होता है की आभास आपको

होना शुरू हो जाता है उन घटनाओं का ये

तीसरा लक्षण होता है तीसरा संकेत होता है

चौथा संकेत होता है की माता की पूजा करते

करते आपके अंदर वो गुण आने शुरू हो जाते

हैं जिन गुना को माता काली धारण करते हैं

वह कौन से होते हैं वह गुण होते हैं

अश्विनी जो प्रवृत्ति के लोग होते हैं

आपको उनसे दूर रहने का मैन करता है उन पे

गुस्सा आता है सूर्य प्रवृत्ति यानी जो

तामसी चीजों का भोजन करते हैं

और जो एक दूसरे की चुगली करते हैं जो किसी

का भला नहीं सोचते जो क्रोध को अपने अंदर

दबाए रखते हैं ऐसे लोग ऐसे प्रवृत्ति वाले

लोगों से आपको गुस्सा आना शुरू हो जाता है

तो माता के गुण आपके अंदर आने शुरू हो

जाते हैं आपके मैन में चाहे आप एक पिता है

चाहे आप एक माता है चाहे आपकी शादी नहीं

हुए तो आपके मैन में ममता क्योंकि देखिए

ममता जो है एक बच्चे से जो प्रेम होता है

मैन के लिए ममता का देते हैं और पिता के

लिए प्यार वो उड़ना शुरू हो जाता है आप

किसी भी बच्चे से किसी चाहे वो कोई भी हो

आसपास अपना परिवार का या फिर किसी बाहर का

आपसे इतना प्रेम करना शुरू कर देते हैं की

एक ममता का जो कनेक्शन होता है ममता का

जुड़ा होता है वह जुड़ाव आपके अंदर विकसित

हो जाता है आप जब किसी ऐसे व्यक्ति को

देखते हैं जो मदद नहीं कर सकता अपनी जो

देंगे स्थिति में है आपको उसको देखकर आपके

दिल में दया भाव उत्पन्न हो जाता है और आप

हर प्रकार से उसकी मदद करना चाहते हैं

चाहे वह शारीरिक रूप से चाहे वह मानसिक

रूप से चाहे वो किसी भी प्रकार से आप उसकी

मदद यानी सहायता करना चाहते हैं यह पांचवा

संकेत होता है छठ संकेत होता है की माता

के जागरण में आप जाते हैं चौकी पर आप जाते

हैं भजन आप सुनते हैं माता के तो शरीर में

एक अलग सा रोमांस एक रोमांच पैदा हो जाता

है यानी अलग ही खुशी आपको महसूस होती है

आपको ऐसा लगता है की संसार की सारी

खुशियां मुझे मिल गई हैं अब कुछ विशेष

नहीं है बस अब मैं यहां ठहर गया हूं

संतुष्टि आपको हो जाती है जब आप माता के

किसी जागरण में या भजन सुनते हैं चौकी पर

जाते हैं तो आपका मैन रोमांचित होता है

छठ संकेत यह है की ऐसे व्यक्ति आपसे मिलना

शुरू हो जाते हैं माता की कृपा से जो आपका

भला करते हैं आपकी मदद करना चाहते हैं ऐसे

व्यक्ति आपको मिलने शुरू हो जाते हैं जब

माता की कृपा आपको होती है और चाहे आपको

कोई कर्ज हो पैसे की जरूरत हो तब ऐसे लोग

मिलने शुरू हो जाते हैं तो आपकी मदद कर

सकते हैं चाहे वो आपके दोस्त हो भाई हो

चाहे वो ऐसे कोई व्यक्ति हो जो कभी आपने

ना देखा हो दूसरा आपके घर में कोई परेशानी

चल रही है उसे परेशानी को निवारण करने के

लिए कोई ऐसा व्यक्ति आपको प्राप्त हो जाता

मिल जाता है चाहे हो सकते हो आस पड़ोस कहो

चाहे वो अन्य कोई व्यक्ति हो या उसे समय

पर जिस समय घर में परेशानी हो उसे समय पर

व्यक्ति अपने आप वहां पर कट हो जाता ए

जाता है और आपकी समस्या का समाधान कर देता

है तीसरा की आपके में तो दवाइयां चल रही

हैं

पर आपको सही डॉक्टर नहीं मिल रहा सही

हॉस्पिटल नहीं मिल रहा तो ऐसे में माता की

कृपा से आपको बहुत जल्द एक सही डॉक्टर एक

सही हॉस्पिटल

शारीरिक बीमारियों में उसी प्रकार से भूत

प्रेत से जुड़े जो लोग हैं जो भटक रहे हैं

जगह-जगह चौकी भक्तों पर तो माता की कृपा

होती है की आपको एक सही भक्त मिल जाता है

जो आपकी समस्या को जड़ से खत्म कर देता है

तो ये छठ संकेत होता है जब माता की कृपा

आपको ऊपर होती है सातवां संकेत होता है की

पूजा करते समय माता की मूर्ति तस्वीर से

कोई फूल जब गिर जाता है तो वो माता कुछ ना

कुछ संकेत आपको देना चाहती हैं बात करना

चाहती हैं तो उसे फूल का गिरना ही एक

सकारात्मक ऊर्जा सकारात्मक ऊर्जा का

प्रतीक होता है ना की कोई नकारात्मक तो

अगर ऐसा होता है तो माता आपसे कुछ कहना

चाहती हैं बात करना चाहती हैं और सातवां

जो सातवां संकेत होता है की स्वप्न के

माध्यम से आपकी कोई ऐसी समस्या है जिस

समस्या का आपको उसे प्रश्न का उत्तर नहीं

मिला समस्या का उत्तर नहीं मिला तो आपको

सुकून के माध्यम से उसे समस्या का हाल

आपको मिल जाता है और वो जो हाल होता है वो

आपको पजल की तरह मैंने आपको बता दी दिखाने

देता है तो सुबह उठाते तो बड़ा खुश होते

हैं क्योंकि आपको उसे समस्या का हाल मिल

चुका है जो समस्या बहुत सालों से चलती ए

रही थी और नौवा जो संकेत होता है वो होता

है स्वप्न के माध्यम से आपके प्रश्नों का

उत्तर मिलना कुछ हो जाता है आपके जितने भी

प्रश्न होते हैं कई बार आप बहुत सारी चीज

सोचना शुरू कर देते हैं माता काली के आप

सेवा के तो माता काली के बारे में ही

सोचना शुरू कर देते की माता काली ऐसा

क्यों करती हैं जैसे कई लोग कई लोग जो

अपनी शक्ति के कारण माता काली को गलत में

भेज देते हैं तो ऐसे प्रश्नों का उत्तर

आपको मिल जाता है या फिर आपके घर से जुड़े

कोई प्रश्न है या भगवान से जुड़े कुछ

प्रश्न है उनका उत्तर आपको स्वप्न में

माध्यम से मिल जाता है और दसवां संकेत

होता है की स्वप्न में माता की तो आपको

किसी ना किसी रूप में दर्शन होते हैं कई

बार आपके मंदिर के जो घर का मंदिर है उसकी

मूर्ति है आपके घर के मंदिर में या कोई

तस्वीर है उसके दर्शन स्वप्न में हो जाते

हैं या फिर माता के इस प्रकार दर्शन होते

हैं सवार है हाथ में कटारे लिए चारों तरफ

आग जल रही है और माता गुस्से में ए रही है

तो यह भी माता के दर्शन का ही संकेत कोई

बच्ची आपको दिखाई देती है कोई बुजुर्ग औरत

जो सामने रखे हैं वह दिखाई दे तो ये सभी

संकेत माता की कृपा के संकेत होते तो ये

संकेत अगर आपको मिलते हैं तो कहीं ना

कहीं मत आप उससे कुछ कहना चाहते हैं कुछ

संकेत देना चाहते हैं उनका आप समझिए और

फिर माता की भक्ति में लग जाएगी मुझे आशा

है जानकारी आपको पसंद आई होगी पहली बार

चैनल पर है तो चैनल को लाइक कीजिए शेयर

कीजिए साथ ही और लोगों तक इस वीडियो को

शेयर कीजिए ताकि वो लोग भी जानकारी को

प्राप्त कर पाए वो भी इसका लाभ ले पाए मैं

बाबा भोलेनाथ से और आदिशक्ति मैन काली से

विनती करता हूं की वो आप परिषद अपनी कृपा

बनाए रखें आप और आपका परिवार सदैव सुखी

रहे स्वस्थ रहे हम मिलते हैं की नहीं

जानकारी के साथ तब तक के लिए ओम नमः शिवाय

ओम नमः शिवाय ओम नमः शिवाय

Leave a Comment