22:22 माँ काली 🕉 भरे समाज में तुम्हें बेइज्जत करना चाहता है।।🕉️ इज्जत की अर्थी निकलेगी।🕉️#shivshakti - instathreads

22:22 माँ काली 🕉 भरे समाज में तुम्हें बेइज्जत करना चाहता है।।🕉️ इज्जत की अर्थी निकलेगी।🕉️#shivshakti

[संगीत]

मेरे

बच्चे जिसने तुम्हें खून के आंसू

रुलाया उसकी बर्बादी के दिन शुरू हो गए

हैं तुम तैयार

रहो बहुत बड़ा तमाशा होने वाला

है उसके जीवन में विकराल संकट आने वाला

है जिसने तुम्हें संकट में डाला

तुमने कभी किसी से दुश्मनी नहीं

की सबका भला चाहा सबको प्रेम

दिया और बदले में भी सबसे प्रेम पाना

[संगीत]

चाहा किंतु लोगों ने तुम्हें केवल दुख

दिया दर्द

दिया अब तक के जीवन काल

में तुमने जिसे भी अपना

समझा हर किसी ने तुमसे छल

किया तुम्हें धोखा

दिया मेरे बच्चे तुम्हारी ही

भाती तुम्हारे परिवार के अन्य सदस्य

भी अत्यंत भोले भाले

हैं जबान के थोड़े तेज

है गलत बात सहन नहीं करती

पीठ पीछे वार करने के

बजाय मुह पर सत्य बोल देते

हैं कुछ लोगों को यह बात बहुत खटकती

है इसलिए वह लोग केवल तुम्हें ही

नहीं तुम्हारे परिवार को भी क्षति

पहुंचाना चाहते

हैं भरे समाज में बेइज्जत करना चाहते

हैं इसके लिए वे

लोग किसी भी हद तक गिर रहे

हैं लोगों के बीच तुम्हारी इज्जत उछालने

के

लिए वह लोग बहुत गंदी चाले चल रहे

हैं किंतु इसका उन्हें कोई लाभ नहीं

होगा तुम्हारे और तुम्हारे जनों के

पीछे तो वह बहुत समय से पड़े हुए

हैं बहुत षड्यंत्र किया बहुत चाल

चली किंतु हर बार मात खाई

है मेरे बच्चे इस बार भी वह मुंह के बल

गिरेंगे बहुत बड़ा संकट उनके जीवन में आने

वाला

है उन्हें बहुत अच्छा लगता है

ना दूसरों के घर पर तमाशा करवाने

में किंतु अब उनका तमाशा

बनेगा और ऐसा नाच नाचेंगे

वह कि पूरा समाज आनंद

उठाएगा मेरे बच्चे मैंने उन्हें बहुत अवसर

दिया किंतु अपने अहंकार में वह इतने अंधे

हो गए

हैं कि स्वयं ही अपना पतन कर

बैठे दूसरों की इज्जत उछालने का उन्हें

बहुत शौक

है अब उनकी इज्जत की अर्थी निकलेगी

[संगीत]

जिस परिवार पर जिस दौलत पर उसे बहुत

अहंकार

[संगीत]

है वह सब बर्बाद हो

जाएगा रूप ज्ञान गुण सबका नाश

होगा यहां तक कि जिसके बल पर वह बहुत

उछलता

है अब वह भी हसेंगे उस

पर उसे अब अपनी गलती का एहसास

होगा परंतु उसे क्षमा नहीं

मिलेगी अपना कर्म उसे भोगना ही

होगा मेरे बच्चे आने वाले कुछ ही सप्ताह

में

तुम उसे रोते हुए

देखोगे तिनका तिनका सब बिखर

जाएगा उसके रिश्ते उसके मित्र सब उसे धोखा

देंगे जिस शक्ति पर उसे बहुत अभिमान

है जिसके बल पर वह सारे पाप करता

है अब वही शक्ति उसका सर्वनाश करेगी

मेरे बच्चे तुम कभी मत

सोचना कि तुम्हारी

माता तुम्हारे साथ हो रहे अन्याय

[संगीत]

को नजरअंदाज कर रही

है नहीं मैं तो उस मूर्ख

को सुधरने के अवसर दे रही

थी किंतु उसका पाप कर्म दिन प्रतिदिन

बढ़ता ही जा रहा है अब उसे कोई अवसर नहीं

मिलेगा अब उसे उसके गुनाहों की सजा

मिलेगी मेरे बच्चे उसने तुम्हें अकारण ही

परेशान किया

है केवल उसने ही

नहीं अन्य कई लोगों

ने तुम्हारी कमजोरी का तुम्हारी मजबूरी का

लाभ उठाया

है तुम्हारे साथ अन्याय किया

है तुमने मुझ पर विश्वास रखकर

हर अन्याय को बर्दाश्त किया

है तुम्हें विश्वास

है कि तुम्हारी माता सब देख रही

है और एक दिन सबका हिसाब

करेगी मेरे बच्चे

वह समय बहुत निकट आ गया

है अब तुम अपनी माता का न्याय

देखोगे अब कुछ ही दिनों

में तुम्हें हर क्षेत्र से न्याय

मिलेगा ना केवल तुम्हारा बुरा चाहने वालों

का नाश

होगा बल्कि तुम्हारे दुखों का भी नाश

होगा तुम्हारे घर में तुम्हारे परिवार

में जो दरिद्रता छाई हुई

है उसका भी अब अंत

होगा व्यापार में बहुत तरक्की

मिलेगी अप्रैल का यह

माह तुम्हारे लिए बहुत शुभ रहने वाला

है कोई तुम्हारे अंधेरे जीवन में

सूर्य की रोशनी बनकर प्रवेश करने वाला

है जिसके माध्यम

से तुम जीवन के हर कठिन पड़ाव

को सरलता से पार कर

लोगे मेरे बच्चे बहुत जल्द तुम सफलता की

सीढ़ियां चढ़

होगे मेरा आशीर्वाद तुम्हारे साथ

है खुश रहो

तुम्हारा कल्याण

हो सच्चे मन से

कहो जय माहाकाली

Leave a Comment