Farmers Protest: Shambhu Border पर दूसरी घेराबंदी की ओर बढ़े किसान - instathreads

Farmers Protest: Shambhu Border पर दूसरी घेराबंदी की ओर बढ़े किसान

किसानों का आज दिल्ली कूछ का कार्यक्रम है
लेकिन दिल्ली के तमाम बॉर्डर्स पर पुलिस
ने किसानों को दिल्ली की सीमा में अंदर
घुसने से रोकने के लिए तमाम कोशिश कोशिशें

की हुई हैं इस बीच हरियाणा और पंजाब से
लगे शंभू बॉर्डर पर भी पुलिस ने बैरिकेट्स
लगाए थे लेकिन इनमें से कई बैरिकेड को
किसानों ने हटा दिया है पहला घेरा जो है

उसे तोड़ते हुए स्लैब्स को जो उन्हें
रोकने के लिए लगाए गए थे उन्हें इन
किसानों ने हटा दिया दूसरी घेराबंदी की ओर
यह किसान बढ़ गए हैं पुलिस ने किसानों को

रोकने के लिए रबर बुलेट का इस्तेमाल किया
है इससे पहले पहला घेरा तोड़ने की कोशिश
के दौरान पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े
थे पुलिस ने रोकने के लिए किसानों को

ड्रोन के जरिए आंसू गैस के गोले छोड़े
जिसके बाद वहां अफरातफरी की स्थिति पैदा
हो गई तो ये तस्वीरें शंभू बॉर्डर से हैं
जो पंजाब और हरियाणा के बीच है और यहां भी

किसानों को रोकने की कोशिश की गई और किसान
यहां काफी ज्यादा गुस्से में हैं और पुलिस
का जो घेरा है उसको तोड़कर आगे बढ़ने की
कोशिश कर रहे हैं अफरातफरी की स्थिति वहां
बनी हुई है ड्रोन के जरिए नजर भी रखी जा

रही है और ड्रोन के जरिए आंसू गैस के गोले
भी छोड़े गए और बाद में अब पुलिस को रबर
बुलेट्स का इस्तेमाल यहां करना पड़ा है
हमारे सहयोगी शरद

शर्मा शंभू बॉर्डर पर हैं वहां से ज्यादा
जानकारी दे रहे
हैं
हरियाणा पंजाब के शंभू बॉर्डर पर लगातार
किसानों और पुलिस के बीच में जोर आजमाइश
चल रही है किसान जो हैं उन्होंने सुरक्षा
का पहला घेरा जो बनाया गया था यहां पर

उसको तोड़ दिया जो स्लैब लगाए गए थे उसको
जो है किसान खींच कर दूसरी तरफ कर दिया
यानी कि जो घेरा था वह भारी भारी जो स्लैब
रखी हुई थी वह यहां पर पहला जो लेयर था
उसको तोड़ दिया गया उसके बाद जो दूसरा

घेरा है सुरक्षा का जहां पर पुलिस ने कीले
लगाई जहां पर प्रशासन ने स्लैब लगाए साथ
में पक्का भी कर दिया उसको कटीले तार लगाए
वो नाट किसान तोड़ दें तो उसके लिए रैपिड

एक्शन फोर्स आगे आ गई और अभी रैपिड एक्शन
फोर्स यही कोशिश कर रही है कि अब जो है
इसके आगे सुरक्षा घेरा ना टूटे क्योंकि
अगर यह घेरा टूट गया तो फिर तय है कि

किसान यहां से दिल्ली कूछ कर जाएंगे और
इसलिए देखिए लगातार यहां पर पिछले कई
घंटों से लगातार जो आंसू गैस के गोले हैं
वो छोड़े जा रहे हैं रैपिड एक्शन फोर्स की
तरफ से पुलिस की तरफ से और रबड बुलेट्स भी

यहां पर चली है जिससे लोगों को चोटें आई
हैं वह घायल हुए हैं अभी जो कोशिश है वह
यही है कि पुलिस की तरफ से कोशिश यह है कि
किसी भी सूरत में यह जो बॉर्डर बनाया है
यह टूटे ना क्योंकि टूट गया तो फिर

किसानों को दिल्ली जाने से कोई रोक नहीं
सकता और किसानों की पूरी कोशिश है कि किसी
भी सूरत में यह जो बॉर्डर उनको रोकने के
लिए लगाया गया है इसको तोड़ा जाए और कभी

भी किसी भी समय पर कहीं से भी आंसू गैस का
गोला आ जा रहा है और उसकी वजह से यहां
किसान जो हैं जो प्रदर्शन कर रहे हैं वो
जो है लगातार उनकी आंखों में लग रही

है गले में लग रही है नाक में लग रही है
हमारे साथ भी यही समस्या है
क्योंकि लगातार आंसू गैस चल रही है यहां
पर और यह देखिए अब ड्रोन आ गया है ऊपर से
यह देखिए यह जो ड्रोन है यह इस समय सबसे

ज्यादा भयभीत यहां के लोगों को कर रहा है
हमें भी कर रहा है क्योंकि लोकेशन देखकर
लोकेशन देखकर
यह ड्रॉप करता है यानी कि कहां पर जरूरत

है कहां पर भीड़ ज्यादा है कहां पर तीतर
भीतर करने की जरूरत है लेकिन यह देखिए यह
किसान लोग भी ये इस तरह से गीले गीली
बोरिया लेकर घूम रहे हैं और जैसे ही देखिए

देखिए यह देखिए यह देखिए जैसे ही गिरता है
कैसे ये सारे किसान जो है इसको बुझाने के
लिए यानी जोसे गैस है वो ना फैले इससे
इसको निष्क्रिय करने के लिए दौड़ते हैं

लेकिन चारों तरफ इस समय चारों तरफ ये
देखिए यह
लगातार
लगातार यह देखिए गाड़ी के साथ ही है
लगातार यहां पर चारों

तरफ चारों तरफ आंसू गैस चल रही
है
और उधर से कोई आंसू गैस की गोली चल रहे
हैं और किसान जो है ये गीली गली बोरिया
लेकर जहां भी आंसू

गिरते हैं टियर शैल उसको निष्क्रिय करने
की कोशिश करते हैं देखिए सामने दिख रहा है
आपको रैपिड एक्शन फोर्स सामने दिखाई दे
रही है थोड़ा सा इसको जूम कर
दें रैपिड एक्शन फोर्स सामने खड़ी
है

Leave a Comment