Kejriwal Govt के कांड पर भड़का Supreme Court, AAP कार्यालय पर चलेगा बुलडोजर ? । - instathreads

Kejriwal Govt के कांड पर भड़का Supreme Court, AAP कार्यालय पर चलेगा बुलडोजर ? ।

पकड़ी गई केजरीवाल की नई
चोरी सुप्रीम कोर्ट से पड़ी फटकार आम आदमी
पार्टी में
हाहाकार फर्जीवाड़े पर हथौड़ा आप कार्यालय
पर चलेगा बुलडोजर एपी का मतलब आम आदमी

पार्टी नहीं अतिक्रमण और पापी पार्टी बन
चुका है जी हां यह अतिक्रमण की मानसिकता
एपी में इस प्रकार से भरी हुई है केजरीवाल
जी में इस प्रकार से भरी हुई है कि

इन्होंने दिल्ली हाई कोर्ट के लिए रखी हुई
जमीन पर भी अतिक्रमण कर दिया और अपना
राजनीतिक दफ्तर बना
दिया नमस्कार आप देख रहे हैं एनएमएफ न्यूज

केजरीवाल सिर से लेकर पैर तक घोटाले में
फंस गए हैं कभी शराब घोटाले का हंटर चलता
है तो कभी शिक्षा विभाग का कारनामा आपद बन

जाता है लेकिन इस बार तो केजरीवाल की टीम
की ऐसी चोरी पकड़ी गई है चारों तरफ
हाहाकार मच गया है यह चोरी है हाई कोर्ट

की जमीन जी हां यह कोई झूठ या अफवाह नहीं
है बल्कि एक ऐसा सच है जिसके खुलासे से
सुप्रीम कोर्ट भी आग बबूला हो उठा है

दरअसल आम आदमी पार्टी सरकार पर बड़ा आरोप
लगा है पार्टी पर आरोप लगा है कि आम आदमी
पार्टी ने दिल्ली हाई कोर्ट की जमीन हड़प
कर उस पर अपना दफ्तर बना लिया आपके इस कदम
पर देश की सर्वोच्च अदालत ने भी नाराजगी

जाहिर की है सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली
सरकार को यह जमीन खाली करने का आदेश दिया
है और कहा है कि किसी को भी कानून तोड़ने
की इजाजत नहीं है सुप्रीम कोर्ट की फटकार

के बाद आप नेताओं में मानो भूचाल आ गया है
क्योंकि एक तरफ घोटाले में जांच एजेंसियों
का एक्शन जीने नहीं दे रहा तो दूसरी तरफ
कारनामे पार्टी को ले डूब रहे हैं आम आदमी
पार्टी पर क्या आरोप लगे हैं कार्यालय

विवाद आखिर है क्या चलिए यह भी बताते हैं
दरअसल द सल आरोप है कि आईटीओ के पास राउज
एवेन्यू में आम आदमी पार्टी का कार्यालय
जिस जमीन पर बना है वह हाई कोर्ट को

आवंटित थी यानी कि हाई कोर्ट की जमीन पर
आम आदमी पार्टी ऑफिस चल रहा
है यह बंगला पहले दिल्ली के परिवहन मंत्री
का आवाज

था लेकिन बाद में पार्टी ने इसका इस्तेमाल
करना शुरू कर दिया अब जब यह मामला सुप्रीम
कोर्ट पहुंचा तो सबूत देखते ही जज साहब
भड़क गए आम आदमी पार्टी की हरकत पर

सुप्रीम कोर्ट ने टिप्पणी करते हुए
कहा कोई भी कानून अपने हाथ में नहीं ले
सकता आखिर कोई राजनीतिक पार्टी उस जमीन पर
कैसे जमीन रह सकती है यह जमीन जजों के लिए
बंगले बनाने के लिए जरूरी नहीं है बल्कि

वादियों को सुविधाएं देने और अदालत कक्ष
बनाने के लिए जरूरी है इसलिए अदालत को इस
जमीन पर बिना किसी अतिक्रमण के कब्जा दिया

जाए सबूत गवाह सब बोल रहे हैं कि केजरीवाल
सरकार ने हाई कोर्ट की जमीन पर कब्जा कर
लिया है बावजूद उसके भी सीएम साहब की टोली
सीनाजोरी दिखा रही है सुप्रीम कोर्ट से

फटकार पड़ने के बाद भी आम आदमी पार्टी के
नेता दावा कर रहे हैं
कि केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को गलत
जानकारी दी है और हम कोर्ट के समक्ष वह

दस्तावेज पेश करेंगे जो दिखाते हैं कि यह
जमीन दिल्ली सरकार द्वारा आम आदमी पार्टी
कार्यालय के लिए अलॉट की गई थी यह जमीन
1992 से आईएएफ अफसरों और तीन मंत्रियों को

भी अलॉट की गई ऐसे में यहां कोई अतिक्रमण
नहीं किया गया है और हम सुप्रीम कोर्ट में
अपने जवाब में दस्तावेज पेश करेंगे कोर्ट

की जमीन पर कब्जा खुद ने कर लिया लेकिन
जनाब इसका दोष भी बीजेपी पर डाल रहे हैं
केंद्र सरकार पर आरोप लगा रहे हैं नए-नए
आरोप गड़ रहे हैं अब चिल्लाए या सफाई पेश

करें कोर्ट ने सक्ति से कह दिया है कि
सोमवार यानी 19 फरवरी तक आप कार्यालय खाली
होना चाहिए सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले के
हल के लिए मुख्य सचिव लोक निर्माण विभाग

के सचिव और दिल्ली सरकार के विष सचिव को
एक बैठक बुलाने का निर्देश दिया दिया है
दिल्ली सरकार के इस कारनामे पर खुलासा हुआ
वैसे ही बीजेपी ने भी केजरीवाल को घेरना
शुरू कर दिया शहजाद पूवाला ने तंज कसते

हुए आपको को अतिक्रमण वाली पार्टी तक बता
दिया एपी का मतलब आम आदमी पार्टी नहीं
अतिक्रमण और पापी पार्टी बन चुका है जी
हां यह अतिक्रमण की मानसिकता एपी में इस

प्रकार से भरी हुई है केजरीवाल जी में इस
प्रकार से भरी हुई है कि इन्होंने दिल्ली
हाई कोर्ट के लिए रखी हुई जमीन पर भी
अतिक्रमण कर दिया और अपना राजनीतिक दफ्तर
बना दिया बता दीजिए पहले जनता की गाड़ी

कमाई पर अतिक्रमण उसके कमाई से अपने लिए
शीश महल उनकी कमाई से शराब घोटाला उनकी
कमाई से बस शिक्षा लैब टेस्ट घोटाला

मोहल्ला क्लिनिक में घोटाला हर जगह
अतिक्रमण करके घोटाला और अब अपना राजनीतिक
दफ्तर ही हाई कोर्ट के दिए दिए गए जमीन पर
बना देना और अतिक्रमण कर लेना और सुप्रीम

कोर्ट चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया ने इसका
संज्ञान लिया इससे पहले भी डिस्ट्रिक्ट
कोर्ट के लिए जो इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार
करना है उसके लिए पैसे ना देना यही
मानसिकता है आम आदमी पार्टी की यह जुडिशरी

के खिलाफ ही काम करते हैं यह संविधान के
खिलाफ ही काम करते हैं यह कानून व्यवस्था
के खिलाफ ही काम करते हैं इसीलिए जुडिशरी
का सम्मान नहीं करते और जो भ्रष्टाचार के

मामले में बंद है उनको ईमानदार कहते हैं
इसीलिए जब सेंट्रल एजेंसीज बुलावा देती है
और कोर्ट भी कहता है जाकर पेश होइए तो पेश
नहीं होते क्योंकि इनके मन में जुडिशरी के

लिए कोई सम्मान नहीं कभी घोटाले की मार तो
कभी ईडी की फटकार केजरीवाल सरकार के लिए
जी का जंजाल बन गई है अभी तक सीएम साहब को
डर था कि अगर वह जेल जाएंगे तो कुर्सी हिल

जाएगी लेकिन अब तो केजरीवाल को कार्यालय
छीनने का भी डर सता रहा है आम आदमी पार्टी
की पूरी टीम अब इस जुगाड़ में जुटी है कि
कैसे आप कार्यालय को बचा जा सके लेकिन
हालात बयां कर रहे हैं कि आप कार्यालय

छिना तय है तो आम आदमी पार्टी अब बुरी फंस
गई है केजरीवाल अब रोए या चिल्लाए कुछ
होने वाला नहीं है तो केजरीवाल के
कार्यालय पर आई इस खबर को सुनकर क्या है
आपकी राय कमेंट कर जरूर
बताएं

Leave a Comment