Tejashwi Yadav को Supreme Court से खुशखबरी तो BJP और Nitish Kumar के लिए झटका ! | वनइंडिया हिंदी - instathreads

Tejashwi Yadav को Supreme Court से खुशखबरी तो BJP और Nitish Kumar के लिए झटका ! | वनइंडिया हिंदी

बिहार फ्लोर टेस्ट भले ही लालू के बेटे
तेजस्वी यादव हार गए हो लेकिन सुप्रीम
कोर्ट से तेजस्वी के लिए बड़ी खुशखबरी आई
है और यह खुशखबरी लालू परिवार के लिए

अच्छा तो भारतीय जनता पार्टी और जनता दल
यूनाइटेड के लिए बुरी खबर भी हो सकती है
जी हां सुप्रीम कोर्ट ने तेजस्वी के लिए
ऐसी खबर दी है जिससे तेजस्वी के विरोधी

चारों खाने चित्त हो जाएंगे लेकिन लालू और
तेजस्वी जरूर खुश हो जाएंगे सुप्रीम कोर्ट
ने एक याचिका को खारिज कर दिया है जिससे
तेजस्वी और लालू परिवार ने अब राहत की साथ
ली साथ ही जश्न भी मनाया होगा सुप्रीम

कोर्ट में न्यायमूर्ति एएस ओका और
न्यायमूर्ति उज्जवल भुया की पीठ ने
तेजस्वी यादव को राहत दी और कहा कि
उन्होंने अपना बयान वापस ले लिया है जहां
दरअसल पीठ ने कहा हमने शिकायत खारिज कर दी

है दरअसल यह मामला बिहार के पूर्व
डेप्युटी सीएम का था जिसमें उन्होंने
गुजरातियों को ठग बताया था इसके साथ ही
सुप्रीम कोर्ट ने तेजस्वी को आगे ध्यान

रखने के लिए भी कहा है शीर्ष अदालत ने 29
जनवरी को तेजस्वी यादव को अपनी कथित
टिप्पणी केवल गुजराती ही ठग हो सकते हैं
को वापस लेने का आदेश देते हुए जवाब दाखिल

करने का निर्देश दिया था जिसके बाद
तेजस्वी यादव ने सुप्रीम कोर्ट में एक अलफ
नामा दायर कर अपनी गुजरात ठग वाली टिप्पणी
को वापस ले लिया था बता दें कि शिकायत में
हवाला दिया गया था कि तेजस्वी यादव ने

मार्च 2023 में जब वे बिहार के
उपमुख्यमंत्री थे उस दौरान मीडिया से बात
करते हुए कहा था कि वर्तमान स्थिति में
केवल गुजराती ही ठग हो सकते हैं और उनकी

धोखाधड़ी माफ कर दी जाएगी जैसा बयान दिया
था तेजस्वी यादव के इस बयान को लेकर हरेश
मेहता ने दावा किया कि यादव की टिप्पणियों
ने सभी गुजरातियों को बदनाम कर दिया है

इसको लेकर गुजरात की एक अदालत ने तेजस्वी
यादव को समन भी जारी किया था इसके बाद
शीर्ष अदालत ने राष्ट्रीय जनता दल नेता की
याचिका पर सुनवाई की और सुनवाई के दौरान

पहले आपराधिक मानहानि की शिकायत की
कार्यवाही को लेकर रोक लगाई और गुजरात
निवासी हरेश मेहता को नोटिस जारी किया था
रिपोर्ट्स के मुताबिक तेजस्वी यादव ने

हलफनामा दायर कर अपनी इस टिप्पणी को भी
वापस ले लिया इसके साथ ही शीर्ष अदालत ने
ऐसा करने से भी तेजस्वी को मना किया और
फिर याचिका को यह कहते खारिज किया कि

व्यक्ति ने अपना बयान पहले ही वापस ले
लिया है लिहाजा तेजस्वी के समर्थकों के
लिए यह खबर उत्साहजनक जरूर होगी फिलहाल
आपको क्या लगता है तेजस्वी को इस राहत को

लेकर वह कमेंट कर जरूर बताएं और अपने के
साथ शेयर कर सब्सक्राइब करें वन इंडिया
हिंदी
को

Leave a Comment